आपातकाल के खिलाफ लड़ने वाले पूर्व केंद्रीय रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस का निधन

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/01/29 09:59

नई दिल्ली। पूर्व रक्षामंत्री जॉर्ड फर्नांडिस का 88 साल की उम्र में मंगलवार सुबह 7 बजे निधन हो गया। बीमारी से जुझ रहे फर्नांडिस का काफी लंबे समय से इलाज चल रहा था। उन्होंने दिल्ली के मैक्स अस्पताल में आखिरी सांस ली है। वह वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे हैं। बताया जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों से वह स्वाइन फ्लू से पीड़ित थे। पिछले काफी लंबे समय से वह बीमार थे और सार्वजनिक जीवन से दूर थे। एक सांसद के तौर पर उनका आखिरी कार्यकाल राज्यसभा में अगस्त 2009 और जुलाई 2010 के बीच में था।

फर्नांडिस आपातकाल के खिलाफ लड़ने वाले एक बड़े योद्धा थे। 1998 से 2004 के बीच अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार में उन्होंने रक्षामंत्री का पद संभाला। बिमारी के कारण वह सार्वजनिक जीवन से दूर थे। आपातकाल हटने के बाद वह राजनीति में कूदे और पहली बार चुनाव लड़ा। उन्होंने जेल में रहते हुए ही बिहार के मुजफ्फरपुर से चुनाव लड़ा और जीते भी। केंद्र में जब मोरारजी देसाई की अगुवाई में सरकार बनी तो उन्हें मंत्री पद भी दिया गया। इसके बाद वीपी सिंह की सरकार में वह रेल मंत्री भी रहे।

30 जून 1930 को जन्में जॉर्ज 1967 से 2004 तक सांसद रहे। वह रेल यूनियन के बहुत बड़े नेता था। उनके रक्षामंत्री रहते हुए पोखरण टेस्ट हुआ था। कारगिल युद्ध के दौरान भी वह देश के रक्षामंत्री थे। 2004 में सामने आए ताबूत कांड के बाद उन्होंने रक्षामंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था। हालांकि दो जांच आयोग ने उन्हें दोषमुक्त पाया था। जॉर्ज फर्नांडिस नौ बार लोकसभा के सांसद रहे। अपने संसदीय जीवन में वह संसद की कई कमेटियों का हिस्सा रहे, सरकारों में कई पदों पर भी रहे। जॉर्ज फर्नांडिस के निधन पर पीएम मोदी के साथ देशभर के नेताओं ने गहरी संवेदना जताई । 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in