Live News »

चोरों ने उड़ाई कुमार विश्वास की फॉर्च्यूनर कार, घर के बाहर खड़ी थी

चोरों ने उड़ाई कुमार विश्वास की फॉर्च्यूनर कार, घर के बाहर खड़ी थी

गाजियाबाद: कवि कुमार विश्वास की कार उनके घर के बाहर से चोर चुरा ले गए. पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है. बता दें कि गाजियाबाद के इंदिरापुरम स्थित आवास के बाहर खड़ी फॉर्च्यूनर गाड़ी चोर लेकर फरार हो गए. मामला दर्ज होने के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है. 

राजस्थान सरकार ने किए 12 RAS अधिकारियों के तबादले, यहां देखे पूरी लिस्ट 

कविता के मंचों पर लगातार सक्रिय: 
कुमार विश्वास लगातार देश-विदेश में कविता के मंचों पर सक्रिय रहते हैं. इसके साथ ही सामाजिक मुद्दों पर भी कुमार विश्वास लगातार सरकारों को घेरते रहते हैं. कभी आम आदमी पार्टी से जुड़े रहे कुमार विश्वास अब बागी सुर रखते हैं. AAP के शुरुआती दिनों में कुमार विश्वास पार्टी के सबसे ज्यादा सक्रिय नेताओं में से एक रहे हैं.

नहीं थम रहा कोरोना वायरस का कहर, चीन में मृतकों की संख्या हुई 1523, 66 हजार से ज्यादा संक्रमित

और पढ़ें

Most Related Stories

जैश की चिट्ठी, सीएम योगी और केजरीवाल को बम से उड़ाने की दी धमकी

जैश की चिट्ठी, सीएम योगी और केजरीवाल को बम से उड़ाने की दी धमकी

ग़ाज़ियाबाद। श्रीलंका में हुए बम ब्लास्ट का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि शामली सहित ग़ाज़ियाबाद और वेस्ट यूपी के कई रेलवे स्टेशनों और धार्मिक स्थलों को बम से उड़ाने की धमकी भरी चिट्ठी मिली है। चिट्ठी शामली रेलवे स्टेशन मास्टर विक्रांता सरोहा के नाम साधारण पोस्ट की गई है। चिट्ठी आतंकी संगठन जैश ए-मोहम्मद के कमांडर के द्वारा भेजे जाने की बात सामने आई है। चिट्ठी मिलने के बाद से आईबी सहित कई जांच एजेंसियां सतर्कता बरत रही है। 

दरअसल पूरा मामला जनपद शामली का है, जहां पर शामली रेलवे स्टेशन के अधीक्षक विक्रांत शर्मा के नाम एक चिट्ठी मिली है। जिसमें पश्चिमी यूपी के कई स्टेशनों और धार्मिक स्थलों को उड़ाने की धमकी दी गई है। चिट्ठी में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को भी बम से उड़ाने की बात कही गई है। चिट्ठी में कहा गया है कि वह आने वाली 13 मई को कई जगह बम धमाके करने वाले हैं। जिसमें उन्होंने स्टेशनों को निशाना बनाया है। चिट्ठी में इलाहाबाद के संगम मंदिर, काशी विश्वनाथ मंदिर, गाजियाबाद का हनुमान मंदिर और अन्य कई धार्मिक स्थलों को बम से उड़ाने की बात कही गई है। 

चिट्ठी में कहा गया है कि वह आने वाली 16 मई को सभी धार्मिक स्थलों को बम से उड़ा देंगे। चिट्ठी साधारण डाक से रेलवे स्टेशन के अधीक्षक के नाम भेजी गई है। चिट्ठी भेजने वाले संगठन ने अपना नाम आतंकी संगठन जैसे मोहम्मद बताया है और चिट्ठी भेजने वाला जैसे मोहम्मद का एरिया कमांडर मैसूर अहमद है। जिसने कि अपना पूरा बायोडाटा चिट्ठी में लिखा हुआ है। 

चिट्ठी मिलने के बाद से शामली का पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया है और पूरे जिले को  हाई अलर्ट पर रखा गया है। शामली का खुफिया विभाग भी सतर्क हो गया है और जितनी भी तमाम एजेंसी है, सब हरकत में आ गई है। चिट्ठी मिलने के बाद से ही रेलवे स्टेशन पर सभी यात्रियों की चेकिंग की जा रही है। वहीं यह चिट्ठी कहां से आई और किसने भेजी इस बात का पता लगाया जा रहा है। साथ ही यह भी देखा जा रहा है कि यह चिट्ठी किसी ने दहशत फैलाने के मकसद से तो नहीं भेजी है। चिट्ठी सही है या फिर दहशत फैलाने की वजह, इस बात का तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा, लेकिन फिलहाल पुलिस और प्रशासन व खुफिया विभाग हाई अलर्ट पर हैं और हर आने-जाने वाले संदिग्धों पर नजर बनाए हुए हैं।

... संवाददाता अरुण चंद्रा की रिपोर्ट 
 

हिंडन एयरबेस पर पीएम मोदी ने किया सिविल टर्मिनल का उद्घाटन

हिंडन एयरबेस पर पीएम मोदी ने किया सिविल टर्मिनल का उद्घाटन

गाजियाबाद। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज हिंडन एयरफोर्स स्टेशन के सिविल टर्मिनल का उद्घाटन किया है, जिसके बाद अब यहां से कमर्शल उड़ानें भी शुरू हो सकेंगी। पीएम मोदी ने यहां अन्य शहरों के लिए विमान सेवा और दिलशाद गार्डन-नया बस अड्डा मेट्रो रुट का भी उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आज का दिन उत्तर प्रदेश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। पूर्वी उत्तर प्रदेश से लेकर मध्य यूपी और पश्चिम यूपी यानि पूरे उत्तर प्रदेश के विकास से जुड़े हजारों करोड़ के प्रॉजेक्ट्स का आज यहां उद्घाटन और शिलान्यास किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि आप अच्छे से जानते हैं कि पहले की सरकारों के शासनकाल में गाजियाबाद और पश्चिमी उत्तर प्रदेश की पहचान किन कारणों से होती थी। अब तक गाज़ियाबाद के हिंडन की पहचान देश की वायुशक्ति के महत्वपूर्ण सेंटर के रूप में तो होती ही थी, आज से सामान्य सेवा के लिए भी एयरपोर्ट टर्मिनल बनकर तैयार है। अब गाजियाबाद के लोगों को दूसरे शहरों में जाने के लिए दिल्ली तक जाने की आवश्यकता कम पड़ेगी। अच्छी बात यह भी है कि इस एयरपोर्ट को उड़ान योजना से जोड़ा गया है। यानी कम दूरी की फ्लाइटें अब यहां से भी मिला करेंगी।

पीएम मोदी ने कहा कि हिंडन एयरपोर्ट का नया टर्मिनल इस बात का भी उदाहरण है कि हमारी सरकार कितनी तेज गति से कार्य कर रही है। सिर्फ 9-10 महीने पहले ही इस टर्मिनल का विचार आया था और इतने कम समय में इसका निर्माण पूरा कर लिया गया है। आज ही लखनऊ, आगरा, गाजियाबाद मेट्रो प्रॉजेक्ट का लोकार्पण और शिलान्यास हो रहा है। कल नोएडा में मेट्रो के नए रूट का लोकार्पण किया जाएगा। कल नागपुर मेट्रो की भी शुरुआत हुई है। इसी हफ्ते ही अहमदाबाद मेट्रो का लोकार्पण भी हुआ है।

निठारी कांड के मुख्य आरोपी सुरेंद्र कोली को 10वीं बार सुनाई फांसी की सजा 

निठारी कांड के मुख्य आरोपी सुरेंद्र कोली को 10वीं बार सुनाई फांसी की सजा 

गाजियाबाद। देशभर की सुर्खियों में रहने वाले नोएडा के चर्चित निठारी हत्याकांड के मुख्य आरोपी सुरेंद्र कोली के सीबीआई कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है। ऐसा 10वीं बार हो रहा है, जब किसी एक आरोपी को 10वीं बार फांसी की सजा सुनाई गई है। निठारी कांड के 10वें मामले में सीबीआई के विशेष न्यायाधीश अमितवीर सिंह ने आज इस मामले के मुख्य अभियुक्त सुरेंद्र कोली को फांसी की सजा सुनाई है और एक लाख दस हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है।

दिल्ली से सटे नोएडा में 2006 में हुए बहुचर्चित और वीभत्स निठारी हत्याकांड के 10वें मामले में गाजियाबाद की विशेष सीबीआई अदालत ने इस मामले के मुख्य आरोपी को फांसी की सजा सुनाई है। इससे पूर्व कल ही कोर्ट ने सुरेंद्र कोली को इस मामले में दोषी करार दिया था, जबकि इस मामले में सुरेंद्र कोली ने अपने बचाव में स्वयं बहस की। इससे पूर्व निठारी कांड के नौ मामलों में कोली को फांसी की सजा सुनाई जा चुकी है।

उल्लेखनीय है कि घटना 5 अक्टूबर, 2006 की है, जब पीड़िता अपने कार्यालय से घर लौट रही थी और निठारी में पंढेर के घर के सामने से गुजर रही थी। कोली ने महिला की हत्या कर उसका सिर धड़ से अलग कर दिया और खोपड़ी घर के पिछले हिस्से में फेंक दी, जिसे सीबीआई ने बाद में बरामद कर लिया था। पुलिस ने 29 दिसंबर, 2006 को नोएडा के निठारी स्थित पंढेर के घर से 19 कंकाल बरामद किये गये थे। पंढेर और कोली के खिलाफ 16 मामलों में आरोप पत्र दाखिल किये गए थे, जबकि साक्ष्य के अभाव में तीन मामलों को बंद कर दिया गया था।

Open Covid-19