कौशांबी Uttar Pradesh: प्रेमी के बहकावे में आकर घर से भागी युवती, धोखेबाज प्रेमी ने जबरन किसी और से कराई शादी, 3 गिरफ्तार

Uttar Pradesh: प्रेमी के बहकावे में आकर घर से भागी युवती, धोखेबाज प्रेमी ने जबरन किसी और से कराई शादी, 3 गिरफ्तार

Uttar Pradesh: प्रेमी के बहकावे में आकर घर से भागी युवती, धोखेबाज प्रेमी ने जबरन किसी और से कराई शादी, 3 गिरफ्तार

कौशांबी: कौशांबी जिले में प्रेमी के बहकावे पर घर से भागी एक युवती का धर्मांतरण करवा कर प्रेमी के बजाए अन्य व्यक्ति से उसकी शादी कराने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पुलिस ने इस संदर्भ में मामला दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. कौशांबी के पुलिस अधीक्षक राधेश्याम विश्वकर्मा ने मंगलवार को बताया कि जिले के कोखराज थाना क्षेत्र निवासी 21 वर्षीय युवती लगभग एक साल पहले अपनी शादी के एक दिन पहले अपने ही गांव निवासी प्रेमी (मुस्लिम युवक) के साथ घर से भाग गई थी. उसके भाई विनोद मौर्य ने थाने में मामला दर्ज कराया था और मामले की जांच जिले के एसओजी प्रभारी संजय गुप्ता को दी गई थी. 

मामले में अग्रिम विधिक कार्रवाई जारी:
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस ने मंगलवार को मामले का खुलासा कर दिया है. विश्वकर्मा ने बताया कि मामले में तीन आरोपी मोहम्मद अहसान उर्फ हसन व मुस्तफा तथा अतीक के विरुद्ध उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम 2021 समेत अन्य धाराओं के तहत अभियोग दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है. उन्‍होंने कहा कि मामले की जांच तथा अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है.एसओजी प्रभारी संजय गुप्ता ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली थी कि कोखराज थाना क्षेत्र से भागी युवती अपने ही गांव निवासी मोहम्मद अहसान उर्फ हसन के साथ अपनी मर्जी से गई थी. हसन युवती को कोखराज थाना क्षेत्र के मूरतगंज बाजार निवासी अपने मामा अतीक के यहां ले गया था और उसे वहां करीब छह महीने तक रखा. 

उन्होंने बताया कि हसन के बड़े भाई मुस्तफा ने कथित तौर पर युवती को अपने भाई हसन से शादी कराने का वादा कर उसका धर्मांतरण करवा दिया. अधिकारी ने बताया कि धर्मांतरण करवाने के बाद मुस्तफा ने युवती की शादी जनवरी 2021 में गुलाम गौस (25) निवासी पूरे धनेरू थाना मानिकपुर जनपद प्रतापगढ़ के साथ करा दी.एसओजी प्रभारी ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर कड़ा धाम थाना क्षेत्र के छलिया चौराहे पर मसाला बेच रहे गुलाम गौस को पकड़ा गया. उससे पूछताछ के बाद थाना क्षेत्र के घोसियाना गांव स्थित गुलाम गौस के किराए के मकान से पुलिस ने उक्त युवती को भी बरामद कर लिया. उन्होंने बताया कि गुलाम गौस पहले हिंदू था और उसका नाम रतीभान पासी था. गुलाम गौस ने बताया कि उसने 2014 में स्वेच्छा से इस्लाम धर्म कबूल कर लिया था. गुलाम गौस के पास से छह फर्जी पहचान पत्र मिले हैं. सोर्स-भाषा

और पढ़ें