Live News »

प्रदेश में राजस्थान रॉयल्स के आईपीएल मैच कराने को लेकर हाईकोर्ट में सरकार ने रखा अपना पक्ष 

प्रदेश में राजस्थान रॉयल्स के आईपीएल मैच कराने को लेकर हाईकोर्ट में सरकार ने रखा अपना पक्ष 

जयपुर: राजस्थान रॉयल्स के आईपीएल मैच राजस्थान में कराने की मांग को लेकर जनहित याचिका पर हाईकोर्ट में आज सुनवाई हुई. इस दौरान सरकार की और से कहा गया कि आईपीएल के 13 वें सीजन में राजस्थान रॉयल्स से जुड़े सभी मैच राजस्थान में कराने की स्थिति में राज्य सरकार सभी सुविधाए मुहैया कराने को तैयार है. यही नहीं सरकार जयपुर के एसएमएस स्टेडियम के साथ-साथ उदयपुर और जोधपुर के स्टेडियम में भी क्रिकेट मैच कराने को तैयार है. 

प्रदेश में राजस्थान रॉयल्स के दो मैच कराने को लेकर याचिका, हाईकोर्ट में कल होगी सुनवाई

अतिरिक्त महाधिवक्ता सत्येन्द्र राघव ने सरकार की ओर से ये जानकारी हाईकोर्ट में पूर्व रणजी खिलाड़ी राहुल कावंट, शैलेंद्र कौशिक और यूनुस अली की ओर से दायर जनहित याचिका में दी है. सीजे इन्द्रजीत महांति की खण्डपीठ ने भी राजस्थान रॉयल्स से जुड़े मैच प्रदेश से बाहर कराने पर राजस्थान रॉयल्स से जवाब मांगा है. साथ ही हाईकोर्ट ने बीसीसीआई द्वारा रॉयल्स से जुड़े आईपीएल मैच का वैन्यू राजस्थान से अन्य जगह पर फाइनल करने पर उसे याचिका के अधीन रखा है. 

सुनवाई के दौरान राजस्थान रॉयल्स की ओर से जवाब पेश करने के लिए समय मांगा गया, जिस पर पीठ ने दो सप्ताह का समय दिया है. अब इस मामले में 13 फरवरी को सुनवाई होगी. एडवोकेट विमल चौधरी ने याचिकाकर्ताओं की ओर से पक्ष रखा. 
 

और पढ़ें

Most Related Stories

Rajasthan Political Crisis: पीसीस चीफ हटाए जाने के बाद सचिन पायलट की पहली प्रतिक्रिया, तोड़ी चुप्पी

Rajasthan Political Crisis:  पीसीस चीफ हटाए जाने के बाद सचिन पायलट की पहली प्रतिक्रिया, तोड़ी चुप्पी

जयपुर: राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम के आखिरकार सचिन पायलट ने चुप्पी तोड़ दी. पायलट ने ट्वीट करते हुए कहा कि सत्य को परेशान किया जा सकता है पराजित नहीं. पीसीसी चीफ से हटाए जाने के बाद सचिन पायलट की यह पहली प्रतिक्रिया सामने आई है. वहीं दूसरी ओर सचिन पायलट के समर्थन के बाद प्रदेश के कई स्थानों पर समर्थन में इस्तीफों का दौर जारी है. 

Rajasthan Political Crisis:  पुलिस मुख्यालय से बड़ी खबर, गुर्जर बाहुल्य इलाकों में हाई अलर्ट जारी 

इससे पहले कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने तीन मंत्रियों को बर्खास्त किया है. इसमे सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा शामिल है. वहीं सचिन पायलट को पीसीस चीफ पदे से भी हटाया गया है. उनके स्थान पर  गोविंद सिंह डोटासरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बने हैं. वहीं मुकेश भाकर को यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर उनके स्थान पर गणेश घूघरा को यूथ कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया है. वहीं हेमसिंह शेखावत सेवादल प्रदेशाध्यक्ष होंगे. 

Rajasthan Political Crisis:  उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा भी बर्खास्त 

8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती:  
कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने एक षडयंत्र के तहत राजस्थान की 8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती दी है. बीजेपी ने साजिश के तहत कांग्रेस की सरकार को अस्थिर कर गिराने की साजिश की है. बीजेपी धनबल और सत्ताबल से कांग्रेस पार्टी और निर्दलीय विधायकों को खरीदने की कोशिश की है.

Rajasthan Political Crisis: मुख्यमंत्री गहलोत ने की राज्यपाल से मुलाकात, कल हो सकता है प्रदेश में मंत्रिमंडल फेरबदल 

Rajasthan Political Crisis:  मुख्यमंत्री गहलोत ने की राज्यपाल से मुलाकात, कल हो सकता है प्रदेश में मंत्रिमंडल फेरबदल 

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र से मिलने पहुंचे. यहां पर गहलोत मंत्रिमंडल में बदलाव की जानकारी दी. साथ ही विधायकों के समर्थन का पत्र भेजेंगे. खबर यह भी है कि बुधवार को मंत्रिमंडल फेरबदल किया जाएगा. सीएम गहलोत ने राज्यपाल कलराज मिश्र को प्रस्ताव दिया. उन्होंने सचिन पायलट,विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को बर्खास्त किए जाने का प्रस्ताव दिया. राज्यपाल कलराज मिश्र ने सीएम के प्रस्ताव को तत्काल प्रभाव से स्वीकृति प्रदान की.

गोविंद सिंह डोटासरा बने कांग्रेस के नए पीसीसी चीफ, सचिन पायलट बर्खास्त 

कांग्रेस का बड़ा एक्शन:
इससे पहले राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम के चलते कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद केसी वेणुगोपाल, अविनाश पांडे, रणदीप सुरजेवाला और अजय माकन ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने तीन मंत्रियों को बर्खास्त किया है. इसमे सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा शामिल है. वहीं सचिन पायलट को पीसीस चीफ पदे से भी हटाया गया है. उनके स्थान पर  गोविंद सिंह डोटासरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बने हैं. वहीं मुकेश भाकर को यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर उनके स्थान पर गणेश घूघरा को यूथ कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया है. वहीं हेमसिंह शेखावत सेवादल प्रदेशाध्यक्ष होंगे. 

Rajasthan Political Crisis: उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा भी बर्खास्त

गोविंद सिंह डोटासरा की नेम प्लेट लगाई:
पीसीसी चीफ को लेकर लेटेस्ट अपडेट सामने आया है. मुख्यालय पर अध्यक्ष कक्ष के बाहर पायलट की नेम प्लेट हटाई गई है. नए अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा की नेम प्लेट लगाई गई है.विधायक चेतन डूडी ने कहा कि कांग्रेस एकजुट है. PCC चीफ के फैसले का स्वागत किया है. किसान कौम के बीच हर्ष की लहर है. गोविन्द सिंह डोटासरा को प्रदेश पीसीसी का अध्यक्ष बनाने पर स्वागत किया है. 

Rajasthan Political Crisis: पुलिस मुख्यालय से बड़ी खबर, गुर्जर बाहुल्य इलाकों में हाई अलर्ट जारी

Rajasthan Political Crisis:  पुलिस मुख्यालय से बड़ी खबर, गुर्जर बाहुल्य इलाकों में हाई अलर्ट जारी

जयपुर: राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम के बीच पुलिस मुख्यालय से बड़ी खबर आई है. सचिन पायलट को पीसीसी चीफ और डिप्टी सीएम से हटाने के बाद गुर्जर बाहुल्य इलाकों में हाई अलर्ट जारी किया गया है. इसमें दौसा, अजमेर, भीलवाड़ा, धौलपुर, टोंक, सवाई माधोपुर और भरतपुर समेत कई जिले शामिल है. ऐसे में काननू व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी जिला SP को अलर्ट जारी किया गया है. सचिन पायलट की बर्खास्तगी के बाद इंटेलीजेंस ने ऐसा इनपुट दिया है. 

Rajasthan Political Crisis:  उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा भी बर्खास्त 

कांग्रेस पार्टी ने तीन मंत्रियों को बर्खास्त किया:   
वहीं इससे पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने तीन मंत्रियों को बर्खास्त किया है. इसमे सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा शामिल है. वहीं सचिन पायलट को पीसीस चीफ पदे से भी हटाया गया है. उनके स्थान पर  गोविंद सिंह डोटासरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बने हैं. वहीं मुकेश भाकर को यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर उनके स्थान पर गणेश घूघरा को यूथ कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया है. वहीं हेमसिंह शेखावत सेवादल प्रदेशाध्यक्ष होंगे. 

Rajasthan Political Crisis: भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर का बड़ा बयान, कहा- सचिन पायलट के लिए दरवाजे खुले  

8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती:  
कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने एक षडयंत्र के तहत राजस्थान की 8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती दी है. बीजेपी ने साजिश के तहत कांग्रेस की सरकार को अस्थिर कर गिराने की साजिश की है. बीजेपी धनबल और सत्ताबल से कांग्रेस पार्टी और निर्दलीय विधायकों को खरीदने की कोशिश की है.


 

गोविंद सिंह डोटासरा बने कांग्रेस के नए पीसीसी चीफ, सचिन पायलट बर्खास्त 

 गोविंद सिंह डोटासरा बने कांग्रेस के नए पीसीसी चीफ, सचिन पायलट बर्खास्त 

जयपुर: राजस्थान में सियासी संकट के बीच बा​गी विधायकों के खिलाफ बडा एक्शन लिया है. कांग्रेस विधायक दल की बैठक में ये निर्णय लिया गया. बैठक के बाद कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता रणधीर सुरजेवाला ने प्रेस वार्ता करके बताया कि पीसीसी चीफ पद से सचिन पायलट बर्खास्त किया गया है. वहीं गोविंद सिंह डोटासरा को नया प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया है. साथ ही गणेश घूघरा को यूथ कांग्रेस अध्यक्ष का बनाया गया है. वहीं हेमसिंह शेखावत को सेवादल का प्रदेशाध्यक्ष बनाया गया है. 

Rajasthan Political Crisis: उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा भी बर्खास्त

 Rajasthan Political Crisis:  उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा भी बर्खास्त

जयपुर: राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम के चलते कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद केसी वेणुगोपाल, अविनाश पांडे, रणदीप सुरजेवाला और अजय माकन ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने तीन मंत्रियों को बर्खास्त किया है. इसमे सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा शामिल है. वहीं सचिन पायलट को पीसीस चीफ पदे से भी हटाया गया है. उनके स्थान पर  गोविंद सिंह डोटासरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बने हैं. वहीं मुकेश भाकर को यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर उनके स्थान पर गणेश घूघरा को यूथ कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया है. वहीं हेमसिंह शेखावत सेवादल प्रदेशाध्यक्ष होंगे. 

8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती:  
कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने एक षडयंत्र के तहत राजस्थान की 8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती दी है. बीजेपी ने साजिश के तहत कांग्रेस की सरकार को अस्थिर कर गिराने की साजिश की है. बीजेपी धनबल और सत्ताबल से कांग्रेस पार्टी और निर्दलीय विधायकों को खरीदने की कोशिश की है.

सचिन पायलट भ्रमित होकर बीजेपी के जाल में फंस गए: 
रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि सचिन पायलट भ्रमित होकर बीजेपी के जाल में फंस गए और कांग्रेस सरकार गिराने में लग गए. पिछले 72 घंटे से कांग्रेस आलाकमान ने सचिन पायलट और अन्य नेताओं से संपर्क करने की कोशिश की. कांग्रेस की ओर से लगातार सचिन पायलट को मनाने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने लगातार हर बात को नकारा.


 

Rajasthan Political Crisis: भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर का बड़ा बयान, कहा- सचिन पायलट के लिए दरवाजे खुले

Rajasthan Political Crisis: भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर का बड़ा बयान, कहा- सचिन पायलट के लिए दरवाजे खुले

जयपुर: राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम पर भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर का बड़ा बयान आया है. उन्होंने कहा कि सचिन पायलट के लिए दरवाजे खुले हैं. सचिन पायलट पार्टी में आते हैं तो उनका स्वागत होगा. साथ ही कहा कि कांग्रेस ने पायलट के साथ अच्छा बर्ताव नहीं किया. सियासी संकट कांग्रेस का अंदरूनी मामला है. पहले से प्रस्तावित दौरे पर ओम माथुर दिल्ली से जयपुर के लिए रवाना हो गए हैं. 

Rajasthan Political Crisis: बागियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव पारित, कांग्रेस विधायक दल की बैठक जारी  

बीजेपी राज्य में संभावनाएं तलाश कर रही: 
वहीं राजस्थान बीजेपी की बैठक की भी खबरें आ रही हैं. गुलाबचंद कटारिया और राजस्थान बीजेपी के अध्यक्ष सतीश पूनिया इस बैठक में शामिल हैं. माना जा सकता है कि राजस्थान में चल रहे सियासी संकट के बीच बीजेपी राज्य में संभावनाएं तलाश कर रही है.

कांग्रेस ने बागियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव पारित किया:
माथुर का बयान ऐसे समय में सामने आया जब कांग्रेस ने बागियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव पारित किया. मंत्री शांति धारीवाल ने अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव रखा जिसका सभी विधायकों ने दोनों हाथ खड़े करके समर्थन किया. वहीं बैठक में 109 विधायकों का दावा किया जा रहा है. 

विधायकों ने अशोक गहलोत को ही अपना नेता करार दिया: 
इससे पहले गहलोत समर्थक विधायकों ने बागियों पर कार्रवाई की मांग उठाई है. कांग्रेस पार्टी पायलट के आने की उम्मीद लगाई बैठी थी लेकिन सचिन पायलट की ओर से बिल्कुल मना कर दिया गया. बैठक में विधायकों ने अशोक गहलोत को ही अपना नेता करार दिया है. सभी विधायक अशोक गहलोत का समर्थन कर रहे हैं. ऐसे में सचिन पायलट गुट को ये बड़ा झटका माना जा रहा है. 

कांग्रेस ने पायलट पर कार्रवाई करने का मन बना लिया: 
वहीं कांग्रेस अब विधायक दल की बैठक में नहीं शामिल हुए विधायकों को नोटिस भेजने की तैयारी में है. पार्टी की ओर से बार-बार विधायकों को चेतावनी दी गई थी, लेकिन कोई भी शामिल नहीं हुआ. वहीं सूत्रों की माने तो अब कांग्रेस आलाकमान ने सचिन पायलट से और कोई बात नहीं करने का मन बना लिया है. उनका मानना है कि पायलट को मनाने की जितनी कोशिश हो सकती थी वो की जा चुकी हैं. ऐसे में अब माना जा सरहा है कि कांग्रेस ने पायलट पर कार्रवाई करने का मन बना लिया है और उनके समर्थक विधायकों पर भी सख्त फैसला लिया जा सकता है. 

VIDEO: सचिन पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा का बयान, कहा- फ्लोर टेस्ट में सब कुछ क्लीयर हो जाएगा 

रणदीप सुरजेवाला व अविनाश पांडे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे:
कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले सीएम अशोक गहलोत ने केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडे,अजय माकन और विवेक बंसल से अमह चर्चा की. चर्चा में आगे की रणनीति पर बात हुई. इसके साथ ही विधायक दल की बैठक के बाद रणदीप सुरजेवाला व अविनाश पांडे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. 

Rajasthan Political Crisis: बागियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव पारित, कांग्रेस विधायक दल की बैठक जारी

Rajasthan Political Crisis: बागियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव पारित, कांग्रेस विधायक दल की बैठक जारी

जयपुर: कांग्रेस विधायक दल की बैठक से बड़ी खबर निकल कर सामने आई है. बागियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव पारित हो गया है. मंत्री शांति धारीवाल ने अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव रखा जिसका सभी विधायकों ने दोनों हाथ खड़े करके समर्थन किया. ऐसे में अब पायलट को सभी पदों से बर्खास्त किया जा सकता है. पायलट को प्रदेशाध्यक्ष पद से साथ मंत्रिमंडल से भी बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है. इसके साथ सभी बागी विधायकों को पार्टी से निष्कासित किया जा सकता है.

Rajasthan Political Crisis: कांग्रेस विधायक दल की बैठक शुरू, अपनी बात मनवाने पर अड़ा पायलट गुट!

विधायकों ने अशोक गहलोत को ही अपना नेता करार दिया: 
इससे पहले गहलोत समर्थक विधायकों ने बागियों पर कार्रवाई की मांग उठाई है. कांग्रेस पार्टी पायलट के आने की उम्मीद लगाई बैठी थी लेकिन सचिन पायलट की ओर से बिल्कुल मना कर दिया गया. बैठक में विधायकों ने अशोक गहलोत को ही अपना नेता करार दिया है. सभी विधायक अशोक गहलोत का समर्थन कर रहे हैं. ऐसे में सचिन पायलट गुट को ये बड़ा झटका माना जा रहा है. 

कांग्रेस ने पायलट पर कार्रवाई करने का मन बना लिया: 
वहीं कांग्रेस अब विधायक दल की बैठक में नहीं शामिल हुए विधायकों को नोटिस भेजने की तैयारी में है. पार्टी की ओर से बार-बार विधायकों को चेतावनी दी गई थी, लेकिन कोई भी शामिल नहीं हुआ. वहीं सूत्रों की माने तो अब कांग्रेस आलाकमान ने सचिन पायलट से और कोई बात नहीं करने का मन बना लिया है. उनका मानना है कि पायलट को मनाने की जितनी कोशिश हो सकती थी वो की जा चुकी हैं. ऐसे में अब माना जा सरहा है कि कांग्रेस ने पायलट पर कार्रवाई करने का मन बना लिया है और उनके समर्थक विधायकों पर भी सख्त फैसला लिया जा सकता है. 

VIDEO: सचिन पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा का बयान, कहा- फ्लोर टेस्ट में सब कुछ क्लीयर हो जाएगा 

रणदीप सुरजेवाला व अविनाश पांडे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे:
कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले सीएम अशोक गहलोत ने केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडे,अजय माकन और विवेक बंसल से अमह चर्चा की. चर्चा में आगे की रणनीति पर बात हुई. इसके साथ ही विधायक दल की बैठक के बाद रणदीप सुरजेवाला व अविनाश पांडे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. 

Rajasthan Political Crisis: कांग्रेस विधायक दल की बैठक में बागियों पर कार्रवाई की मांग उठी

Rajasthan Political Crisis: कांग्रेस विधायक दल की बैठक में बागियों पर कार्रवाई की मांग उठी

जयपुर: कांग्रेस विधायक दल की बैठक में गहलोत समर्थक विधायकों ने बागियों पर कार्रवाई की मांग उठाई है. इससे पहले कांग्रेस पार्टी पायलट के आने की उम्मीद लगाई बैठी थी लेकिन सचिन पायलट की ओर से बिल्कुल मना कर दिया गया. वहीं बैठक में विधायकों ने अशोक गहलोत को ही अपना नेता करार दिया है. सभी विधायक अशोक गहलोत का समर्थन कर रहे हैं. ऐसे में सचिन पायलट गुट को ये बड़ा झटका माना जा रहा है.

Rajasthan Political Crisis: कांग्रेस विधायक दल की बैठक शुरू, अपनी बात मनवाने पर अड़ा पायलट गुट!  

कांग्रेस ने पायलट पर कार्रवाई करने का मन बना लिया: 
वहीं कांग्रेस अब विधायक दल की बैठक में नहीं शामिल हुए विधायकों को नोटिस भेजने की तैयारी में है. पार्टी की ओर से बार-बार विधायकों को चेतावनी दी गई थी, लेकिन कोई भी शामिल नहीं हुआ. वहीं सूत्रों की माने तो अब कांग्रेस आलाकमान ने सचिन पायलट से और कोई बात नहीं करने का मन बना लिया है. उनका मानना है कि पायलट को मनाने की जितनी कोशिश हो सकती थी वो की जा चुकी हैं. ऐसे में अब माना जा सरहा है कि कांग्रेस ने पायलट पर कार्रवाई करने का मन बना लिया है और उनके समर्थक विधायकों पर भी सख्त फैसला लिया जा सकता है. 

रणदीप सुरजेवाला व अविनाश पांडे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे:
कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले सीएम अशोक गहलोत ने केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडे,अजय माकन और विवेक बंसल से अमह चर्चा की. चर्चा में आगे की रणनीति पर बात हुई. इसके साथ ही विधायक दल की बैठक के बाद रणदीप सुरजेवाला व अविनाश पांडे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. 

VIDEO: सचिन पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा का बयान, कहा- फ्लोर टेस्ट में सब कुछ क्लीयर हो जाएगा 

कांग्रेस से जनता का मोहभंग हो चुका: 
दूसरी ओर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राजस्थान के सियासी संकट पर कहा है कि कांग्रेस से जनता का मोहभंग हो चुका है. वहीं गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने कहा है कि आज शाम तक राजस्थान संकट सुलझ जाएगा और अशोक गहलोत और सचिन पायलट अपने बीच के मतभेदों को सुलझा लेंगे. 

Open Covid-19