लखनऊ यूपी के डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक बोले- सत्ता की लालच में एक परिवार ने देश पर थोपा था आपातकाल

यूपी के डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक बोले- सत्ता की लालच में एक परिवार ने देश पर थोपा था आपातकाल

यूपी के डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक बोले- सत्ता की लालच में एक परिवार ने देश पर थोपा था आपातकाल

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने शनिवार को कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि सत्ता की लालच में एक परिवार ने देश पर आपातकाल थोपा था. 

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रदेश मुख्यालय पर 'लोकतंत्र के काला अध्याय: आपातकाल (काला दिवस)' विषयक संगोष्ठी में आपातकाल के विरोध में आवाज उठाने वाले लोकतंत्र रक्षक सेनानियों को सम्मानित करने के बाद समारोह को संबोधित करते हुए पाठक ने कहा कि सत्ता की लालच में एक परिवार ने देश पर आपातकाल थोपा था. आज ही के दिन 47 वर्ष पूर्व कांग्रेस द्वारा थोपा गया आपातकाल देश के प्रजातंत्र पर किया गया सबसे बड़ा और कायराना हमला था.' उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी में हमेशा से गांधी परिवार के हितों को पार्टी और देश हित से ऊपर रखा गया तथा देश में आपातकाल लागू करना भी इसी नीति का हिस्सा रहा. उन्होंने कहा कि यह अलोकतांत्रिक निर्णय जो आपातकाल के रूप में जबरन देश पर थोपा गया, भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में काले अध्याय के रूप में दर्ज है, इस अनैतिक और दमनात्मक कृत्य के लिए देश की जनता कांग्रेस को कभी माफ नहीं करेगी. उन्होंने दावा किया कि आपातकाल के दौरान लोगों से अंग्रेजी शासन से भी बुरा व्यवहार किया गया, इस निर्णय का विरोध करने वालों को कड़ी यातनाएं दी गईं, अकारण ही लाखों लोगों को जेल में ठूंस दिया गया और अदालतों और प्रेस पर भी सेंसरशिप लगा दी गई. 

वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि इसके बावजूद लाखों लोकतंत्र सेनानियों ने यातनाओं को सहते हुए इस अनैतिक निर्णय का न सिर्फ विरोध किया बल्कि तानाशाह सरकार को सबक भी सिखाया. उन्होंने आपातकाल के खिलाफ संघर्ष करने वाले लोकतंत्र सेनानियों को नमन करते हुए कहा कि लोकतांत्रिक मूल्यों की पुनर्स्थापना में लोकतंत्र सेनानियों का बड़ा योगदान है. इस मौके पर बड़ी संख्या में लोकतंत्र सेनानी और भाजपा पदाधिकारी मौजूद थे. समारोह का संचालन प्रदेश मंत्री अमित वाल्मीकि ने किया. सोर्स- भाषा

और पढ़ें