राजस्थान विधानसभा में गुलाबचंद कटारिया होंगे प्रोटेम स्पीकर

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/01/12 04:27

जयपुर। राजस्थान में 15वीं विधानसभा का पहला सत्र 15 जनवरी से शुरू होने जा रहा है, जिसे लेकर सभी आवश्यक तैयारियां पूरी की जा रही है। दूसरी ओर अभी तक न तो सत्ता पक्ष की ओर से कोई विधानसभा अध्यक्ष नियुक्त किया गया है और न ही विपक्ष की ओर से नेता प्रतिपक्ष का चमयन हो पाया है। ऐसे में फिलहाल गुलाबचंद कटारिया विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर (अस्थायी विधानसभा अध्यक्ष) होंगे। कटारिया को राज्यपाल कल्याण सिंह विधानसभा सदस्य की शपथ दिलाएंगे।

15 जनवरी से शुरू होने वाले 15वीं विधानसभा के पहले सत्र के लिए गुलाबचंद कटारिया का नाम प्रोटेम स्पीकर के रूप में तय किया गया है। राज्यपाल कल्याण सिंह ने कटारिया को सामयिक अध्यक्ष नियुक्त किया है, जिन्हें सोमवार को राजभवन में दोपहर 12 बजे राज्यपाल विधानसभा सदस्य की शपथ दिलाएंगे, वहीं अन्य विधायकों को गुलाबचंद कटारिया शपथ दिलाएंगे। कटारिया के सहयोग के लिए राज्यपाल ने 3 अन्य को भी नामांकित किया है, जिनमें भंवरलाल शर्मा, परसराम मोरदिया और महादेव सिंह शामिल हैं।

क्या है प्रोटेम स्पीकर से तात्पर्य :
प्रोटेम स्पीकर उन्हें कहा जाता है, जो चुनाव के बाद पहले सत्र में स्थायी अध्यक्ष अथवा उपाध्यक्ष का चुनाव होने तक संसद या विधानसभा का संचालन करते हैं। सरल शब्दों में कहा जाए तो अस्थायी अध्यक्ष को ही प्रोटेम स्पीकर कहा जाता है। लोकसभा अथवा विधानसभाओं में इनका चुनाव बेहद कम समय के लिए होता है। हालांकि संविधान में प्रोटेम स्पीकर की शक्तियां स्पष्ट तौर पर नहीं बताई गई हैं, लेकिन यह तय है कि उनके पास स्थायी अध्यक्ष की तरह शक्तियां नहीं होती हैं।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in