Live News »

आखिर रंग लाए गहलोत सरकार के प्रयास, ट्रैक पर 'जिंदगानी' और गुर्जर लौटे काम पर

आखिर रंग लाए गहलोत सरकार के प्रयास, ट्रैक पर 'जिंदगानी' और गुर्जर लौटे काम पर

जयपुर (पवन टेलर)। राजस्थान में पिछले 9 दिनों से आरक्षण की मांग को लेकर चले आ रहा गुर्जर आंदोलन आज आखिरकार समाप्त हो गया है। आंदोलन की अगुवाई कर रहे कर्नल किरोड़ी बैंसला ने सरकार के साथ अपनी मांगों में से अधिकांश मांगों पर सहमति बनने के बाद आंदोलन समाप्त करने की औपचारिक घोषणा कर दी है। इसके साथ ही रेलवे ट्रैक पर जमे आंदोलनकारियों ने ट्रैक छोड़ दिया है, जिसके साथ अब वे अपनी आम दिनचर्या वाले ट्रैक पर लौट आए हैं। दूसरी ओर, आंदोलनकारियों द्वारा रेलवे ट्रैक खाली कर दिए जाने से ट्रेन की 'जिंदगानी' ट्रैक पर आ गई है और फिर से छुक—छुक की आवाज सुनाई देने लगी है।

गुर्जर आंदोलन को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के प्रयास रंग लाए हैं और आज ये आंदोलन समाप्त हो गया है। गुर्जर आरक्षण आंदोलन का सुखद पटाक्षेप होने के बाद अब सभी सड़क मार्गों और रेलवे ट्रैक से जाम हटा दिए गए हैं। सरकार ने इस मसौदे में गुर्जरों के छह बिन्दुओं पर सहमति जता दी है और मंत्री विश्वेंद्र सिंह मसौदा लेकर धरनास्थल पहुंचे। इसके बाद विश्वेंद्र सिंह और बैंसला ने मसौदे पर हस्ताक्षर किए और बैंसला ने आंदोलन समाप्ति की घोषणा की। साथ ही बैंसला ने मुख्यमंत्री गहलोत का आभार भी जताया और आरक्षण से लोगों को हुई असुविधा के लिए माफी भी मांगी।

गुर्जर आंदोलन को लेकर पिछले नौ दिनों से चले आ रहे घटनाक्रम के बीच जहां राज्य सरकार ने विधानसभा में आरक्षण विधेयक को सर्वसम्मति से पारित करवाया, वहीं अब आखिरकार आंदोलन की समाप्ति भी करा दी है। सबसे खास बात यह है कि राज्य सरकार की कुशलता के चलते आंदोलन में किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना होने की भी खबर नहीं आई है। ऐसे में राज्य सरकार ने इस बार आंदोलन का बड़ी ही शांतिपूर्ण तरीके से निष्कासन निकाला है और ट्रेन की राह में डटे गुर्जरों को आरक्षण के ट्रैक पर ला दिया है। ऐसे में किसान कर्जमाफी के साथ ही राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि जुड़ गई है, वहीं गुर्जरों के खाते में भी पिछले 14 साल चले आ रहे संघर्ष का सुखद अंत 5 प्रतिशत आरक्षण के रूप में आया है।

9 दिन तक यूं चला घटनाक्रम :
8 फरवरी
— आरक्षण की मांग पर गुर्जरों ने 8 फरवरी को अपने आंदोलन की शुरूआत की और देर शाम को उन्होंने रेलवे के ट्रैक पर धरना—प्रदर्शन शुरू किया। ऐसे में दिल्ली-मुंबई-दिल्ली रूट बाधित हुआ।
9 फरवरी — गुर्जर आंदोलन के चलते रेलवे प्रशासन ने रेलवे प्रशासन ने कई ट्रेनों के रूट डायवर्ट किए तो कई ट्रेनों को रद्द कर दिया। सरकार की ओर से गठित कमेटी में शामिल मंत्री विश्वेन्द्र सिंह और आईएएस नीरज के पवन धरनास्थल पर वार्ता के लिए पहुंचे और आरक्षण के आश्वासन के साथ ही सरकार से वार्ता का न्यौता भी दिया। लेकिन गुर्जर ट्रैक पर ही वार्ता किए जाने की मांग पर अड़े रहे।
10 फरवरी — आंदोलन के लेकर सरकार की ओर से गठित कमेटी सक्रिय हुई और आईएएस नीरज के पवन को सरकारी दूत बनाकर संघर्ष समिति से वार्ता में लगा दिया। दूसरी ओर, कई जगहों पर गुर्जरों ने सड़कों पर भी विरोध प्रदर्शन किया। 
11 फरवरी — राजस्थान विधानसभा में सदन की कार्यवाही शुरू हुई और गुर्जर आंदोलन का मुद्दा भी सदन में उठाया गया। दूसरी ओर, आंदोलन अब रेलवे ट्रैक के साथ ही सड़कों पर भी आ गया, जिसके चलते हिण्डौनसिटी में हिण्डौन-करौली मार्ग पर रोडवेज बसों का संचालन बंद कर दिया गया। गुजरों ने सरकार को दिया तीन दिन का अल्टीमेटम और 15 फरवरी को जयपुर बंद की चेतावनी।
12 फरवरी — गुर्जर आरक्षण आंदोलन को लेकर हुए मंथन के बाद सीएमओ में चली मैराथन बैठक में सरकार ने आरक्षण विधेयक का फार्मूला तैयार किया। जबकि दूसरी ओर, गुर्जर समाज के लोगों ने NH12 पर जाम लगा दिया और वहीं धरना देकर वहीं बैठ गए।
13 फरवरी — विधानसभा में गहलोत सरकार की ओर से मंत्री बीडी कल्ला ने आरक्षण विधेयक पेश किया, जिसमें गुर्जरों समेत पांच जातियों को 5 फीसदी आरक्षण दिए जाने का प्रावधन किया गया। इस पर चर्चा के बाद विधानसभा में इस विधेयक को सर्वसम्मति से पारित किया गया।
14 फरवरी — आरक्षण विधेयक की कॉपी धरनास्थल तक पहुंचाई गई, लेकिन गुर्जरों के संतुष्ट नहीं होने से आंदोलन को कोई हल नहीं निकल पाया।
15 फरवरी — आंदोलन के आठवें दिन आरक्षण विधेयक की अधिकारिक कॉपी देखने के बाद गुर्जर समाज ने कहा कि कांग्रेस ने हमे बिल का नहीं, आरक्षण का वादा किया था। ऐसे में अब अगर अदालत में बिल अटकता है तो उस पर सरकार का रवैया क्या होगा? इसके बाद देर रात राज्यपाल ने भी विधेयक पर हस्ताक्षर कर दिये।
16 फरवरी — आंदोलन के 9वें दिन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने फिर धरनास्थल पर गुर्जरों से चर्चा की और उनके मसौदे में से 1—2 मुद्दों के अतिरिक्त सभी मांगें मान लिए जाने की बात कही। साथ ही बाकी मांगों पर भी जल्द ही चर्चा का आश्वासन दिया। उन्होंने भरोसा दिलाया कि 5 प्रतिशत आरक्षण को निरंतर बनाए रखने की जिम्मेदारी सरकार की है। इसके बाद किरोड़ी बैंसला ने आंदोलन समाप्त करने की औपचारिक घोषणा की और आखिरकार 9 दिनों के बाद आंदोलन समाप्त हुआ।

बहरहाल, ऐसे में जबकि गुर्जरों को आंदोलन आज समाप्त हो गया तो पिछले 9 दिनों से पटरी का सूनापन अब जाकर दूर हुआ है और पटरी पर फिर से छुक-छुक की रौनक दिखाइे देने लगी है। इसके साथ ही कई सड़क मार्गों पर भी लोगों के आवागमन के साधन रूटीन में आ गए हैं। आंदोलन समाप्त होने के साथ ही उत्तर-पश्चिम रेलवे की सीमा में ट्रेनों का संचालन सुचारू कर दिया गया है और ट्रैक पर मेंटेनेंस के साथ ही ट्रेनों का संचालन शुरू किया जा रहा है। साथ ही आगरा और कोटा रूट पर चलने लगी रोडवेज बसों का संचालन भी सुचारू हो गया है।

और पढ़ें

Most Related Stories

भाजपा ने उठाई मांग, आम आदमी की स्थिति ठीक नहीं, 3 महिने के बिजली और पानी के बिल हो माफ

भाजपा ने उठाई मांग, आम आदमी की स्थिति ठीक नहीं, 3 महिने के बिजली और पानी के बिल हो माफ

जयपुर: भारतीय जनता पार्टी ने मांग की है कि 3 दिनों से राजस्थान में जो तब्लीगी तबका आया है, उस वजह से संक्रमण फैला है ऐसे में धार्मिक स्थलों पर जहां भी इन्हें आश्रय मिला हुआ है. उनकी जांच की जानी चाहिए. गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने सचिवालय में मुख्य सचिव देवेंद्र भूषण गुप्ता और पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र सिंह यादव से मुलाकात कर विभिन्न सुझाव दिए. साथ ही आश्वासन दिया की कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में भारतीय जनता पार्टी पूरी तरह से सरकार के साथ खड़ी हुई है.

प्रतापगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किए 3 इनामी शूटर, हत्या के आरोप में चल रहे थे फरार

कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोए:
प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि बदलते हालात में पंथ ,मजहब और अन्य चीजों से ऊपर उठकर मानवता और भारतीयता के नाते सभी एक हैं. किसी भी व्यक्ति के साथ खिलवाड़ ना हो चिकित्सा कर्मी और पुलिसकर्मी शिद्दत से काम कर रहे हैं उन पर हमले भी नहीं होने चाहिए सरकार मजबूत तरीके से ऐसे मामलों को डील करें. फिलहाल राशन की भारी किल्लत है कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोए सरकार सुनिश्चित करें कि प्रत्येक व्यक्ति को राशन समय पर मिले.

पानी और बिजली के बिल हो माफ:
दूसरी तरफ राजेंद्र राठौड़ का कहना है कि किसान की फसल खेत में पक कर तैयार हो चुकी है. सरकार आवश्यक व्यवस्था करें कि किसान की फसल का न्यूनतम मूल्य पर खरीद ऑनलाईन शुरू हो. भाजपा की मांग है कि इन विषम परिस्थितियों में आम आदमी की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं बिजली और पानी के बिलों को 3 महीने के लिए माफ किया जाए. 

श्री खोले के हनुमान मंदिर में रामनवमी उत्सव सम्पन्न, दशमी को होगी हवन-पूजा

बीपीएल की सभी सुविधाएं दिए जाने की मांग:
राठौड़ ने 6000 पाक विस्थापित परिवारों को भी त्वरित रूप से बीपीएल की सभी सुविधाएं दिए जाने की मांग की है. भाजपा का कहना है कि हवा महल, किशनपोल और आदर्श नगर विधानसभा क्षेत्र में कुछ लोगों को जानबूझकर भोजन सामग्री से वंचित किया जा रहा है. ऐसे समय में सभी को सहायता देना सरकार का फर्ज है. इस तरीके से विभिन्न मांगों के अलावा भाजपा ने सरकार को अपनी तरफ से हर तरीके के सहयोग का भी आश्वासन दिया है.

Rajasthan Corona Update: पिछले 24 घंटे में सामने आए 25 नए पॉजिटिव केस, 133 हुई मरीजों की संख्या

जयपुर: प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है. पिछले 24 घंटे में 25 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इनमें जयपुर में 7, जोधपुर में 2, अलवर में 1, उदयपुर में 1 और तबलीगी जमात के 14 लोग पॉजिटिव मिले है. तबलीगी जमात के लोगों में धौलपुर में 1, भरतपुर में 1, चूरू में 7, टोंक में 4 और झुंझुनूं में 1 पॉजिटिव मिला है. जयपुर में मिले सातों पॉजिटिव रामगंज इलाके में सामने आए हैं. ऐसे में अब राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 133 पर पहुंच गया है. 

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 328 नए मामले, 12 लोगों की मौत- स्वास्थ्य मंत्रालय 

उदयपुर में पहला कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आया:
वहीं जोधपुर में मिली दूसरा पॉजिटिव 27 वर्षीय महिला बताई जा रही है. यह महिला नागोरी गेट इलाके में रहती है. इसके अलावा उदयपुर में पहला कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आया है. यहां एक 14 साल का बच्चा कोरोना पॉजिटिव बताया जा रहा है. यह बच्चा मल्लातलाई इलाके का निवासी बताया जा रहा है. जानकारी मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम भी मौके पर पहुंच गई है. 

कोरोना वायरस से प्रदेश में तीसरी मौत: 
इससे पहले आज अलवर के पॉजिटिव मरीज की जयपुर में मौत हो गई. मरीज ने SMS अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में दम तोड़ा है. बता दें कि अलवर निवासी 85 वर्षीय सोहनलाल काफी गंभीर हालत में SMS अस्पताल आया था. प्रदेश में यह तीसरा मरीज ऐसा है जिसकी कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मौत हुई है. मरीज की कल ही कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी. ACS मेडिकल रोहित कुमार सिंह ने मौत की पुष्टि की है. लेकिन मौत का कारण पुरानी गंभीर बीमारी को बताया है. उन्होंने बताया कि मृतक सोहनलाल हार्ट डिसीज, ब्रेन हेमरेज, निमोनिया से जूझ रहा था. 

15 अप्रैल से शुरू हो सकता है फ्लाइट्स का संचालन, लॉकडाउन के बाद घटा हवाई किराया 

देश में अब तक 50 लोग कोरोना वायरस के चलते अपनी जान गंवा चुके: 
देश में भी कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है. आज स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में अब तक 50 लोग कोरोना वायरस के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि 151 लोग ठीक भी हुए हैं. वहीं पिछले 24 घंटे में 328 नए केस सामने आए हैं. देश में कोरोना के अब तक 1965 केस हैं. पिछले 24 घंटे में 12 लोगों की मौत हुई है. इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने बताया कि देशभर में तलबीगी जमात से जुड़े 400 लोग कोरोना से संक्रमित हैं. वहीं 1804 लोगों को क्वारनटीन किया गया है. 


 

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 328 नए मामले, 12 लोगों की मौत- स्वास्थ्य मंत्रालय

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 328 नए मामले, 12 लोगों की मौत- स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है. आज स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में अब तक 50 लोग कोरोना वायरस के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि 151 लोग ठीक भी हुए हैं. वहीं पिछले 24 घंटे में 328 नए केस सामने आए हैं. देश में कोरोना के अब तक 1965 केस हैं. पिछले 24 घंटे में 12 लोगों की मौत हुई है. 

15 अप्रैल से शुरू हो सकता है फ्लाइट्स का संचालन, लॉकडाउन के बाद घटा हवाई किराया 

देशभर में तलबीगी जमात से जुड़े 400 लोग कोरोना से संक्रमित: 
इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने बताया कि देशभर में तलबीगी जमात से जुड़े 400 लोग कोरोना से संक्रमित हैं. वहीं 1804 लोगों को क्वारनटीन किया गया है. इससे पहले आज देश में कोरोना वायरस महामारी की वजह से उत्पन्न स्थिति पर मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैसेज दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा कि अगले कुछ सप्ताह तक सारा ध्यान जांच करने, संक्रमित लोगों का पता लगाने, उन्हें घरों, पृथक केन्द्रों या अस्पतालों में पृथक रखने पर होना चाहिए. 

राजस्थान में भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा: 
वहीं राजस्थान में भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है. आज धौलपुर और भरतपुर में एक-एक पॉजिटिव मरीज सामने आया है. दोनों ही मरीज दिल्ली की तबलीगी जमात से राजस्थान लौटे हैं. प्रदेश में आज 11 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं. ऐसे में अब प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 131 पहुंच गया है. 

VIDEO: चीन के सबसे बड़े कोरोना वायरस एक्सपर्ट का दावा, अगले 4 हफ्तों में सबकुछ सामान्य हो जाएगा 

दुनिया भर में अब तक 9 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित:
बता दें दुनिया भर में अब तक 9 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं और 47 हजार से अधिक लोगों की मौत हुई है. 195,143 लोग ठीक हुए हैं. अमेरिका, इटली, स्पेन, फ्रांस में लगातार मामले बढ़ रहे हैं और यहां लोगों की मौत हुई है.


 

15 अप्रैल से शुरू हो सकता है फ्लाइट्स का संचालन, लॉकडाउन के बाद घटा हवाई किराया

15 अप्रैल से शुरू हो सकता है फ्लाइट्स का संचालन, लॉकडाउन के बाद घटा हवाई किराया

जयपुर: 21 दिन के लॉकडाउन के बीच अच्छी खबर आई है. हवाई सेवाओं का संचालन 15 अप्रैल से शुरू हो सकता है. एयरलाइंस ने फ्लाइट्स के लिए टिकट बुकिंग शुरू कर दी है. 15 अप्रैल से एयरलाइंस देश के सभी शहरों में आने-जाने के लिए फ्लाइट्स में टिकट बुक कर रही हैं. हालांकि कोरोना वायरस के डर से कम लोग ही हवाई यात्रा करेंगे, यही कारण है कि फ्लाइट्स में टिकट की दरें काफी कम हो गई हैं. 

VIDEO- Coronavirus Updates: राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़कर पहुंचा 131 पर, देशभर में 2100 से अधिक लोग चपेट में 

पुणे, बेंगलूरु और हैदराबाद के हवाई किराए में भी काफी कमी आई:
जयपुर से मुम्बई आने-जाने के लिए करीब 3700 रुपए किराया लग रहा है, जो आम दिनों की तुलना में काफी कम है. इसी तरह अहमदाबाद का किराया 3200 रुपए के आस-पास रह गया है. पुणे, बेंगलूरु और हैदराबाद के हवाई किराए में भी काफी कमी आई है. जयपुर से दिल्ली और कोलकाता का किराया भी काफी कम लग रहा है. हालांकि अभी पूरी तरह से नहीं कहा जा सकता कि 15 अप्रैल से फ्लाइट्स का आवागमन शुरू हो जाएगा, क्योंकि लॉकडाउन की अवधि बढ़ने पर फ्लाइट संचालन शुरू होने में भी देरी हो सकती है. 

VIDEO: चीन के सबसे बड़े कोरोना वायरस एक्सपर्ट का दावा, अगले 4 हफ्तों में सबकुछ सामान्य हो जाएगा 

15 अप्रैल के लिए इतना है हवाई किराया:
- जयपुर से मुम्बई का किराया हुआ 3740 रुपए
- जयपुर से बेंगलूरु का किराया हुआ 5210 रुपए
- जयपुर से पुणे का किराया हुआ 3740 रुपए
- जयपुर से अहमदाबाद का किराया 3214 रुपए
- जयपुर से हैदराबाद के लिए 4580 रुपए लग रहा किराया
- जयपुर से कोलकाता के लिए किराया 5210 रुपए
...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट
 

VIDEO- Coronavirus Updates: राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़कर पहुंचा 131 पर, देशभर में 2100 से अधिक लोग चपेट में

जयपुर: प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है. आज धौलपुर और भरतपुर में एक-एक पॉजिटिव मरीज सामने आया है. दोनों ही मरीज दिल्ली की तबलीगी जमात से राजस्थान लौटे हैं. प्रदेश में आज 11 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं. ऐसे में अब प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 131 पहुंच गया है. भरतपुर जिले के मेवात इलाके में छिपकर बैठे लगभग 80 जमातियों को भरतपुर में बनाए गए आइसोलेशन वार्डो में रखा गया था जिसमें से कल जमातियों के सैंपल जांच के लिए जयपुर भिजवाए थे जिनमें से जुरहरी गांव के रहने वाले फारुख की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. कोरोना पॉजिटिव मरीज फारुख मेव को भरतपुर से जयपुर अस्पताल के लिए भेज दिया गया है.

अंतरराष्ट्रीय सीमा पर नहीं है कोई लॉकडाउन, पूरा देश घरों में कैद पर सरहद की रक्षा में दिन-रात डटे जवान 

संक्रमित मरीज मिलने के बाद जिला प्रशासन अलर्ट मोड़ पर:
वहीं धौलपुर जिले में कोरोना पॉजिटिव का पहला संक्रमित मरीज मिलने के बाद जिला प्रशासन और पुलिस भी लॉकडाउन की सख्ती से पालना कराने को लेकर अलर्ट मोड़ पर आ गयी है. कोरोना के पॉजिटिव मरीज की सूचना आग की तरह शहर भर में फैल गयी जिसके बाद पुलिस ने भी मोर्चा संभालते हुए सड़कों पर बेबजह घूम रहे लोगों पर सख्ती बरती और हलके बल का प्रयोग करते हुए मुख्य बाजारों में गश्त भी किया.

कोरोना वायरस से प्रदेश में तीसरी मौत: 
इससे पहले आज अलवर के पॉजिटिव मरीज की जयपुर में मौत हो गई. मरीज ने SMS अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में दम तोड़ा है. बता दें कि अलवर निवासी 85 वर्षीय सोहनलाल काफी गंभीर हालत में SMS अस्पताल आया था. प्रदेश में यह तीसरा मरीज ऐसा है जिसकी कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मौत हुई है. मरीज की कल ही कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी. ACS मेडिकल रोहित कुमार सिंह ने मौत की पुष्टि की है. लेकिन मौत का कारण पुरानी गंभीर बीमारी को बताया है. उन्होंने बताया कि मृतक सोहनलाल हार्ट डिसीज, ब्रेन हेमरेज, निमोनिया से जूझ रहा था.  

बुधवार रात चूरू में 7 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आये: 
इससे पहले बुधवार रात चूरू में 7 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आये है. चूरू के सभी पॉजि​टिव दिल्ली में तबलीगी जमात में शरीक होकर लौटे थे. 7 कोरोना पॉजिटिव सामने आने के बाद कर्फ्यू चूरू और सरदारशहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है. चूरू शहर के 3 और सरदारशहर के 4 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे. अकेले रामगंज इलाके में 7 नए पॉजिटिव केस सामने आया. 

VIDEO: चीन के सबसे बड़े कोरोना वायरस एक्सपर्ट का दावा, अगले 4 हफ्तों में सबकुछ सामान्य हो जाएगा 

भारत में 2100 से अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में:
वहीं देश में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 50 हो गया है. इस समय भारत में 2100 से अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में हैं. हालांकि 171 लोग इस महामारी के प्रकोप से उबरकर ठीक हो चुके हैं. देश में सबसे ज्यादा कोरोना वायरस के मरीजों की तादाद महाराष्ट्र में है और यहां 338 मरीज कोविड-19 महामारी की जद में आ चुके हैं. 


 

VIDEO: चीन के सबसे बड़े कोरोना वायरस एक्सपर्ट का दावा, अगले 4 हफ्तों में सबकुछ सामान्य हो जाएगा

नई दिल्ली: दुनियाभर में कोरोना वायरस के खौफ के बीच चीन से अच्छी खबर आई है. यह पूरे विश्व के लिए अच्छी खबर है. चीन के सबसे बड़े कोरोना वायरस एक्सपर्ट ने दावा किया है कि अगले 4 हफ्तों में पूरी दुनिया पहले जैसी हो जाएगी. एक्सपर्ट का मानना है कि अगले 4 हफ्तों में इसमें गिरावट आएगी. 

मोदी सरकार ने लॉकडाउन का फैसला बिना तैयारी के लिया- सोनिया गांधी 

अगले 4 हफ्तों में सबकुछ सामान्य हो जाएगा:
कोरोना एक्सपर्ट डॉ. झोंग नानशान ने भविष्यवाणी करते हुए कहा कि आने वाले दिन अच्छे होंगे. कोरोना के मामलों में गिरावट आएगी. अगले 4 हफ्तों में सबकुछ सामान्य हो जाएगा. बता दें कि डॉ. झोंग नानशान को चीन की सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर तैनात मुख्य टीम का प्रमुख बनाया है. डॉ. झोंग नानशान संक्रामक बीमारियों के विशेषज्ञ हैं. खासकर कोरोना वायरस जैसी महामारी का एक्सपर्ट बताया जाता है. 

PM मोदी ने सभी मुख्यमंत्रियों से की बात, कहा- केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर कोरोना को हराएंगी 

मोदी सरकार ने लॉकडाउन का फैसला बिना तैयारी के लिया- सोनिया गांधी

मोदी सरकार ने लॉकडाउन का फैसला बिना तैयारी के लिया- सोनिया गांधी

नई दिल्लीः कोरोना संकट के चलते आज कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक हुई. इस दौरान कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने बैठक में कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने लॉकडाउन का फैसला बिना तैयारी के ले लिया जिसका खामियाजा पूरे देश को भुगतना पड़ रहा है. सोनिया गांधी ने कहा कि 21 दिन का लॉकडाउन जरूरी था, लेकिन इसे अनियोजित तरीके से लागू किया गया. लॉकडाउन के कारण लाखों प्रवासी मजदूरों का उत्पीड़न हुआ.

 PM मोदी ने सभी मुख्यमंत्रियों से की बात, कहा- केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर कोरोना को हराएंगी 

चिकित्सा कर्मचारियों को व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण प्रदान करना चाहिए:
सोनिया गांधी ने कहा कि सरकार को डॉक्टरों, नर्सों और चिकित्सा कर्मचारियों को व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण प्रदान करना चाहिए. सरकार को अस्पतालों, बेड की संख्या, क्वारनटीन और परीक्षण सुविधाओं और चिकित्सा आपूर्ति का के बारे में जानकारी देनी चाहिए. इसके साथ ही किसानों पर लगे फसल कटाई के प्रतिबंध को हटाना चाहिए. 

मध्यम वर्ग के लिए एक सामान्य न्यूनतम राहत कार्यक्रम करें तैयार: 
इसके साथ ही सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार से मध्यम वर्ग के लिए एक सामान्य न्यूनतम राहत कार्यक्रम तैयार करने और प्रकाशित करने की मांग की. इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस सरकारों और कार्यकर्ताओं से आगे आकर उन परिवारों की मदद करने की पेशकश की जो अत्यधिक जोखिम में हैं.

VIDEO- Rajasthan Corona Update: कोरोना वायरस से जुड़ी आज की सबसे बड़ी खबर, अलवर के पॉजिटिव मरीज की जयपुर में हुई मौत 

पत्र लिखकर भी दिए थे सुझाव:
बता दें कि इससे पहले भी सोनिया गांधी ने लॉकडाउन लागू होने के बाद पीएम मोदी को पत्र लिखकर लॉकडाउन से जुड़े कुछ सुझाव दिए थे. उन्होंने लॉकडाउन को समर्थन देते हुए कहा था कि कांग्रेस इस संकट के समय में सरकार के साथ है.


 

PM मोदी ने सभी मुख्यमंत्रियों से की बात, कहा- केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर कोरोना को हराएंगी

PM मोदी ने सभी मुख्यमंत्रियों से की बात, कहा- केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर कोरोना को हराएंगी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना संकट पर सभी प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत की. इस दौरान पीएम मोदी ने केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से किए जा रहे उपयों पर चर्चा की. इसके साथ ही उन्होंने राज्य सरकारों को आश्वासन दिया कि केंद्र सरकार उनकी हर संभव मदद करेगी. 

Coronavirus Updates:. पूरे विश्व में अब तक 47 हजार से ज्यादा लोगों की मौत, 9 लाख 35 हजार से ज्यादा संक्रमित  

पीएम मोदी ने लॉकडाउन को लेकर भी चिंता जताई:
इस दौरान पीएम मोदी ने लॉकडाउन को लेकर भी चिंता जताई. वहीं राज्यों के मुख्यमंत्रियों से लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने की भी अपील की. इसके साथ ही लोगों को जरूरी सामान मुहैया कराने की बात कही जिससे लोगों किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़े. 

मजदूरों के पलायन को हर संभव रोकने की भी बात कही:
पीएम मोदी ने इस दौरान मजदूरों के पलायन को हर संभव रोकने की भी बात कही. पीएम ने कहा कि इसके लिए हर राज्य अपनी ओर से इंजताम करें. मजूदरों के लिए शेल्टर होम के साथ उनके खाने-पीने की व्यवस्था की जाए. इसके साथ ही मजदूरों से बाहर न निकलने की भी अपील की जाए. 

VIDEO- Rajasthan Corona Update: कोरोना वायरस से जुड़ी आज की सबसे बड़ी खबर, अलवर के पॉजिटिव मरीज की जयपुर में हुई मौत 

केंद्र और राज्य सरकारों के बीच बेहतरीन समन्वय की आवश्यकता:
पीएम ने कहा कि इस संकट के समय में केंद्र और राज्य सरकारों के बीच बेहतरीन समन्वय की आवश्यकता है. केंद्र सरकार हर राज्य सरकार को जरूरी मदद उपलब्ध कराई जाएगी. इस दौरान पीएम ने राज्यों से मेडिकल सुविधाओं को बारे में भी बात की. 
 

Open Covid-19