लंदन ICC चेयरमैन ग्रेग बार्कले ने किया आगाह, भविष्य में कम हो सकते हैं Test Match

ICC चेयरमैन ग्रेग बार्कले ने किया आगाह, भविष्य में कम हो सकते हैं Test Match

ICC चेयरमैन ग्रेग बार्कले ने किया आगाह, भविष्य में कम हो सकते हैं Test Match

लंदन: ICC चेयरमैन ग्रेग बार्कले ने चेताया है कि घरेलू टी20 लीगों की बढती संख्या से द्विपक्षीय श्रृंखलायें छोटी होती जा रही है और अगले दशक में इससे टेस्ट मैचों की संख्या में कटौती हो सकती है .

नवंबर 2020 में ICC  चेयरमैन बने बार्कले ने कहा कि अगले साल से शुरू हो रहे अगले भावी दौरा कार्यक्रम को तय करते समय ICC  को बड़ी दिक्कतें आयेंगी .

हर साल महिला और पुरूष क्रिकेट का एक टूर्नामेंट है, इसके अलावा घरेलू लीग बढती जा रही है: 

उन्होंने इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला के पहले मैच के दौरान बीबीसी के ‘टेस्ट मैच स्पेशल’ कार्यक्रम में कहा कि हर साल महिला और पुरूष क्रिकेट का एक टूर्नामेंट है . इसके अलावा घरेलू लीग बढती जा रही है . इससे द्विपक्षीय श्रृंखलायें छोटी हो रही है. उन्होंने कहा कि इसके दुर्भाग्यपूर्ण परिणाम होंगे . खेलने के अनुभव के नजरिये से भी और उन देशों के राजस्व पर भी जिन्हें ज्यादा खेलने के मौके नहीं मिलते खासकर भारत, आस्ट्रेलिया या इंग्लैंड जैसी टीमों के खिलाफ.

महिला क्रिकेट में टेस्ट प्रारूप का उतनी तेजी से विकास नहीं हो रहा है: 

उन्होंने कहा कि अगले 10.15 साल में टेस्ट क्रिकेट खेल का अभिन्न हिस्सा तो रहेगा लेकिन मैचों की संख्या कम हो सकती है. उन्होंने यह भी संकेत दिया कि भारत, आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसे देशों पर इसका असर नहीं पड़ेगा. बार्कले ने यह भी कहा कि महिला क्रिकेट में टेस्ट प्रारूप का उतनी तेजी से विकास नहीं हो रहा है. उन्होंने कहा कि टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिये घरेलू ढांचा उस तरह का होना चाहिये जो अभी किसी देश में नहीं है . मुझे नहीं लगता कि महिला क्रिकेट में टेस्ट प्रारूप का उतनी तेजी से विकास हो रहा है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें