नई दिल्ली Delhi Weather: राष्ट्रीय राजधानी में एक बार फिर बदला मौसम, IMD ने जताई हल्की बारिश की संभावना

Delhi Weather: राष्ट्रीय राजधानी में एक बार फिर बदला मौसम, IMD ने जताई हल्की बारिश की संभावना

Delhi Weather: राष्ट्रीय राजधानी में एक बार फिर बदला मौसम, IMD ने जताई हल्की बारिश की संभावना

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से आठ डिग्री कम 18.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने दिन के समय हल्की बारिश के साथ आसमान में बादल छाए रहने का अनुमान जताया है.

सुबह साढ़े आठ बजे से मंगलवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक 15 मिमी बारिश दर्ज की गई: 

राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को हुई भारी बारिश और आंधी के बाद न्यूनतम तापमान में खासी गिरावट दर्ज की गई. भारतीय IMD द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, सोमवार को सुबह साढ़े आठ बजे से मंगलवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक 15 मिमी बारिश दर्ज की गई.

सोमवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से नौ डिग्री नीचे 17.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि अधिकतम तापमान सामान्य से आठ डिग्री कम 31.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. दिल्ली में मई महीने में इतना न्यूनतम तापमान एक मई 2004 के बाद दर्ज किया गया. एक मई 2004 को न्यूनतम तापमान 16.7 डिग्री सेल्सियस था. 15.2 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान का रिकॉर्ड 2 मई 1982 को दर्ज किया गया था.

बुधवार को न्यूनतम और अधिकतम तापमान क्रमशः 21 डिग्री सेल्सियस और 38 डिग्री सेल्सियस पर रहने की संभावना:

राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को न्यूनतम तापमान 18.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मंगलवार को सुबह साढ़े आठ बजे हवा में सापेक्षिक आर्द्रता दर 77 प्रतिशत रही. मौसम विभाग के मुताबिक, अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है. IMD के आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को न्यूनतम और अधिकतम तापमान क्रमशः 21 डिग्री सेल्सियस और 38 डिग्री सेल्सियस पर रहने की संभावना है.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण ब्यूरो (सीपीसीबी) के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) सुबह करीब साढ़े नौ बजे संतोषजनक (70) श्रेणी में दर्ज किया गया. गौरतलब है कि शून्य से 50 के बीच एक्यूआई ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच एक्यूआई ‘गंभीर’ माना जाता है. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें