माल्या ने खुद को बताया कंगाल, कहा- उधारी से कर रहा हूं जीवन यापन

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/04 09:53

लंदन। ऐशो-आराम की जिंदगी जीने वाला शराब कारोबारी विजय माल्या अब दिवालिया हो गया है। माल्या का कहना है कि वह अपनी पार्टनर, पर्सनल असिस्टेंट, परिचित कारोबारियों और बच्चों पर निर्भर है। माल्या ने बुधवार को ब्रिटेन की अदालत में अपनी दास्तां सुनाई। 
विजय माल्या ने यह बात 13 बैंकों द्वारा उसके खिलाफ दर्ज की गई बैंकरप्टसी याचिका के जवाब में कही है। याचिका के जवाब में माल्या ने कहा कि उसकी व्यक्तिगत संपत्ति मात्र 2956 करोड़ रुपये रह गई है और उसने यह पूरी संपत्ति बैंकों से सेटलमेंट के लिए कर्नाटक हाई कोर्ट के सामने पेश कर दी है। बैंकों ने माल्या द्वारा दी गई इस जानकारी को यूके कोर्ट से साझा किया है। 

11 सितंबर, 2018 को 13 भारतीय बैंकों द्वारा माल्या के खिलाफ दिवालिया याचिका दायर की थी जिसकी सुनवाई दिसंबर 2019 में होनी है। माल्या का कहना है कि उसके बच्चे और ललवानी उसका भरण-पोषण कर रहे हैं। बैंकों ने माल्या से मिली इस जानकारी के बारे में अदालत को बताया। 

कारोबारी ने अपनी निजी सहायक मिस महल और परिचित कारोबारी मिस्टर बेदी से 75.7 लाख और 1.15 करोड़ रुपये उधार लिए हुए हैं। उसने यह राशि कर्ज चुकाने और जीवनयापन के लिए उधार ली है। निजेल तोजी उन 13 बैंकों का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं जिनसे माल्या ने 11,000 करोड़ रुपये का कर्ज लिया है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in