हाईटेक मोड में जयपुर डिस्कॉम प्रबन्धन, बिजली कनेक्शन में नहीं चलेगा मैटेरियल का बहाना

Vikas Sharma Published Date 2019/01/11 07:38

जयपुर (विकास शर्मा)। प्रदेश के दूर-दराज के इलाकों से लेकर शहरों तक बिजली कनेक्शन अन्य कामकाज में लेटलतीफी के लिए मैटेरियल का बहाना अब नहीं चलेगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सत्ता संभालने के साथ ही जयपुर डिस्कॉम प्रशासन हाईटेक मोड में आ गया है। डिस्कॉम प्रशासन ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार करवा रहा है, जिसमें फाइनेंस, वर्क-प्रोजेक्ट, मैटेरियल और हयूमन रिसोर्स से जुड़ी फील्ड की हर जानकारी एक क्लिक में मुख्यालय पर उपलब्ध होगी। डिस्कॉम में शुरू होने वाले इस ईआरपी सॉफ्टवेयर से उपभोक्ताओं के लिए सुविधाएं बढ़ सकेगी।

बिजली कम्पनियों में फील्ड में कामकाज का ढर्रा किसी से छिपा नहीं है। कभी मेटेरियल की कमी तो कभी मैनपॉवर का टोटा, कुछ ऐसे ही बहाने लगाकर अभियंता कमाई के चक्कर में बिजली कनेक्शनों में लेटलतीफी करते हैं। अब इस तरह की मनमानी फील्ड में नहीं चलेगी। जयपुर डिस्कॉम प्रशासन ने बहुप्रतिक्षित ईआरपी सिस्टम डवलप करने के लिए डीओआईटी को काम सौंपा है। ईआरपी सॉफ्टवेयर 1.45 करोड़ की लागत से तैयार होगा, जो न सिर्फ आमजन के लिए सुविधा बनेगा, बल्कि बिजली कर्मचारियों को भी राहत देगा। 

क्या होगा ईआरपी सॉफ्टवेयर में खास :
- ईआरपी सॉफ्टवेयर में बनेंगे चार मॉड्यूल
- फाइनेंस मॉड्यूल में बजट एस्टीमेशन, सामान्य खाते-बही, कैश फ्लो, लोन एण्ड एडवांस मैनेजमेंट को लेकर सम्पूर्ण जानकारी ऑनलाइन होगी
- वर्क-प्रोजेक्ट मॉड्यूल में सभी तरह के प्रोजेक्टस, प्लानिंग, प्रोजेक्ट के कामकाज की गति और फाइनेंशियल क्रियान्वयन आदि की सूचना एक क्लिक में मिलेगी
- मैटेरियल मैनेजमेंट मॉड्यूल डिस्कॉम के लिए सबसे महत्वपूर्ण रहेगा, जिसमें मैटेरियल की आवक, स्टोर में उपलब्धता और फील्ड में मेटल की सप्लाई की पूरी पोजिशन ऑनलाइन उपलब्ध होगी
- एचआरएमएस मॉड्यूल के अंदर बिजली कर्मचारी से जुड़ी हर जानकारी एक क्लिक पर उपलब्ध होगी

डिस्कॉम प्रशासन की नई व्यवस्था का फायदा यह होगा कि किसी सरकार में मैटेरियल की कमी होगी तो तो ऑनलाइन सिस्टम से चेक करके तत्काल दूसरे सर्किल से वह मैटेरियल शिफ्ट हो सकेगा। इसके साथ ही कर्मचारियों के लिए साफ्टवेयर लाभकारी होगा। फिर चाहे ट्यूर के बिल हो या लीव एप्लीकेशन या फिर सैलरी का पूरा ब्रेकअप। इन तमाम जानकारियोंं के अलावा फिल्ड में कर्मचारियों की पोस्टिंग, दफ्तरों में स्वीकृत पद, खाली पदों समेत हर जानकारी ऑनलाइन ही उपलब्ध होगी।

अजमेर और जोधपुर के बाद जयपुर डिस्कॉम ने भी ईआरपी सॉफ्टवेयर के लिए कार्यालय जारी कर दी है। अब देखना यह होगा कि कब तक यह प्रोजेक्ट पूरा होगा और एक क्लिक में डिस्कॉम के तमाम जानकारियां मुख्यालय को उपलब्ध होगी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Loksabha Election 2019 : भाजपा ने जारी की यूपी के उम्मीदवारों की लिस्ट

यूपी के भदोही में बीजेपी की \'विजय संकल्प\' सभा
योगी आदित्यनाथ से प्रियंका गाँधी के 4 सवाल
राहुल गांधी का राजस्थान दौरा, 2 चुनावी रैलियों को करेंगे संबोधित
कंगाली, गरीबी, दरिद्रता से मुक्ति दिलवाने वाले महा चमत्कारी उपाय
11 बजे की सुपर फ़ास्ट खबरें | INDIA 360
दीया का राजनीतिक भविष्य ?, राज्यपाल ने ये क्या कह दिया ? #ElectionExpress2019
दिल्ली में गिरफ्तार हुआ आईएसआई एजेंट | Breaking