जयपुर मेयर के चुनाव ने एक बार फिर साबित की 1 वोट की कीमत

Divya Gaur Published Date 2019/01/22 07:16

जयपुर। जयपुर नगर निगम में महापौर पद के लिए उपचुनाव आज पूरा हो गया और इस उपचुनाव में भाजपा से बागी हुए विष्णु लाटा ने बाजी मार ली। अब जयपुर के प्रथम नागरिक यानि नए महापौर विष्णु लाटा होंगे। दिनभर की जोर—आजमाइश के बाद आज बीजेपी के दिग्गज नेता भी निगम में दिखे और अपनी पार्टी की जीत के लिए हर संभव कोशिश करते नजर आए। लेकिन बीजेपी इस परीक्षा में फेल हो गई और बीजेपी के ही कुछ पार्षदों ने बागी हुए विष्णु लाटा के पक्ष में वोटिंग कर उन्हें महापौर बना दिया।

बीजेपी के लिए नाक का सवाल बने नगर निगम के महापौर पद के लिए उपचुनाव में बीजेपी को हार मिली है। हालांकि बीजेपी इस जीत के प्रति आश्वस्त दिखाई दे रही थी। दो दिन से पार्षदों की बाड़ाबंदी कर हर मुकम्मल कोशिशें की जा रही थीं, जिससे नया महापौर बीजेपी का ही बन जाए। लेकिन इससे पहले बीजेपी से हुई इस चूक में बीजेपी को ये चुनावी मैच 1 वोट से हरा दिया।

नगर निगम उपचुनाव के इस जंग में बीजेपी के भी बड़े-बड़े नेता चुनावी जंग में दिखाई दिए। आमेर से विधायक सतीश पूनिया, जयपुर नगर निगम के पूर्व महापौर और सांगानेर से विधायक अशोक लाहोटी, पूर्व मंत्री अरुण चतुर्वेदी, पूर्व विधायक मोहनलाल गुप्ता सुबह से ही निगम में मोर्चा संभाले हुए थे और पार्षदों को समझाइश कर बीजेपी के पक्ष में वोटिंग करने के लिए कह रह थे, लेकिन जब नतीजे आए तो तस्वीर बिल्कुल उल्टी निकली। नतीजों में बागी हुए विष्णु लाटा जयपुर के प्रथम नागरिक और महापौर की कुर्सी पर काबिज हो गए।

1 वोट से तय हुई हार—जीत :
जयपुर नगर निगम उपचुनाव में महज 1 वोट से जीत—हार तय हो गई। नगर निगम मौजूदा पार्षदों की संख्या 90 हैं, जिसमें आज हुए उपचुनाव में जहां उपमहापौर मनोज भारद्वाज को 44 वोट मिले, वही पार्षद विष्णु लाटा को 45 वोट मिले, जबकि एक वोट निरस्त हो गया। लोकतंत्र में आज भी एक वोट की कीमत सभी को समझ आई, जब महज एक वोट के कारण एक प्रत्याशी की सीट जाती और एक की आती दिखाई दी। 

रिटर्निंग ऑफिसर अरविन्द सारस्वत ने बताया कि आज की ये पूरी चुनाव प्रकिया कानूनी दायरे के अंदर हुई है। आज के इस उपचनाव में महापौर पद के लिए 2 नामांकन आए, जिनमें एक मनोज भारद्वाज और दूसरा विष्णु लाटा ने भरा था। चुनाव मतदान प्रकिया के बाद विष्णु लाटा को बहुमत मिला और वे जयपुर नगर निगम के महापौर बने।

2 दिन की मशक्कत के बाद आखिरकार बीजेपी से बागी हुए पार्षद विष्णु लाटा ने महापौर पद पर काबिज होकर अपनी योग्यता दिखाई। साथ ही विपक्षी दलों के साथ मिलकर महापौर की सीट भी हासिल की। इस मौके पर नवनियुक्त महापौर विष्णु लाटा ने कहा कि मैं मेरी जिम्मेदारी पूरी ईमानदारी और निष्ठा के साथ निभाऊंगा और जयपुर में रुके हुए विकास के कार्यों को करूंगा। उन्होंने कहा कि सभी साथियों को साथ लेकर सदन की परंपरा का निर्वहन करते हुए जयपुर को विकास के नए पथ पर ले कर चलूंगा।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Sadhvi Pragya Thakur narrates the story of torture by jail officials

Hardik Patel Slapped During Public Rally In Gujarat’s Surendranagar
हनुमान जयंती के पर्व पर किये जाने वाले महाटोटका जिससे बरसेगी आप पर कृपा | Good Luck Tips
RSS के चक्रव्यूह में फसेंगी कांग्रेस? | Big Fight
Exclusive Interview | AICC महासचिव और राजस्थान प्रभारी Avinash Pande से बेबाक बातचीत
Face to Face with Writer Nandita Puri
क्या सच में नागा साधु पाखंडी है ? देखिए वायरल वीडियो का वायरल सच | Satyamev Jayate
आमेर के गरीब फकीरों की डूंगरी की अकलियत आबादी के हालात | अधूरी आस, आसिफ खान के साथ