जयपुर Jaipur: फेस्टिवल सीजन में "सेक्स ऑफर" ! सोशल मीडिया के जरिए दलाल लोगों से कर रहे सम्पर्क, डिस्काउंट का भी दे रहे लालच; जानिए क्या है पूरा मामला

Jaipur: फेस्टिवल सीजन में "सेक्स ऑफर" ! सोशल मीडिया के जरिए दलाल लोगों से कर रहे सम्पर्क, डिस्काउंट का भी दे रहे लालच; जानिए क्या है पूरा मामला

जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर...जी हां पधारो म्हारे देश की संस्कृति से अभिभूत.; यहां आकर कई देशी विदेशी पावणे यंहा की कला और संस्कृति देखकर आश्चर्य चकित हो जाते है...संस्कार और पौराणिक परम्पराओं से लवलेज यंहा के लोगों की जीवन शैली भी शायद यही संदेश देती है की पूरे विश्च में गुलाबी नगरी जैसा शहर कही नही है. लेकिन इन दिनों कुछ लोग हमारी इस संस्कृति पर दाग लगाने का प्रयास कर रहे है. दिपावली के फेस्टीवल सीजन जहां दुकानदार अपना सामान बेचने के लिए बेस्ट ऑफर दे रहे हैं. वही कुछ अपराधी तत्व सोशल मीडिया के जरिए सेक्स ऑफर कर रहे हैं.

- यह क्या हो रहा है मेरे शहर को
- फेस्टीवल सीजन में "सेक्स ऑफर"
- अनैतिक कार्यो के लिए युवतियां बाहर से आ रही जयपुर
- युवाओं को परोसा जा रहा सेक्स
- सोशल मीडिया के जरिए दलाल लोगों से कर रहे सम्पर्क
- फेस्टीवल सीजन में डिस्काउंट का भी दे रहे ऑफर
- पुलिस ने किया ऐसे ही एक मामले का पर्दाफाश

कोरोना काल के दो सालों के बाद अब बाजारों में फेस्टिवल सीजन की रौनक बढ़ने लगी है. एक बार फिर जयपुर शहर के लोग दीपावाली के त्योहार पर खुशियां समेटने के लिए तैयार है. लेकिन इस दीपावली शहर में ऐसे गिरोह भी पनप गए है. जो की हमारी संस्कृति में जहर घोलने का काम कर रहे हैं. इन गिरोह के सदस्य लोगों को मोबाइल और अन्य सोशल मीडिया के जरिए सैक्स ऑफर कर रहे हैं और वो भी फेस्टिवल सीजन में डिस्काउंट बता कर. जब फर्स्ट इंडिया की टीम ने इन सोशल साइट्स को खंगाला तो सामने आया की केवल एक क्लिक पर ये लोग युवतियों का सौदा कर लेते है. मोबाइल में वाट्सएप पर जाकर केवल दलालों के नम्बर पर हाय लिख कर भेजना है. उसके बाद इस गिरोह के सदस्य एक साथ आपको युवतियों की फोटो भेज देगे. फोन पर ही युवती की रेट तय कर ली जाती है और उसके बाद इस गिरोह के सदस्य तय की गई युवती को लेकर आपके बताए गए स्थान पर पहुंच जांएगे. 

आमेर इलाके मे सामने आए एक ऐसे ही मामले ने पुलिस अधिकारियों को भी चौंका दिया:
हांलाकि अभी तक पुलिस इन गिरोह की भनक नही थी. लेकिन आमेर इलाके मे सामने आए एक ऐसे ही मामले ने पुलिस अधिकारियों को भी चौंका दिया. दरअसल दो युवक आमरे की एक होटल में ठहरे थे और उन्होने वाट्सएप पर बने वीआईपी स्कॉट्स नामक ग्रुप से एक युवती को बुलवाया था. वाट्सएप पर दोनों युवकों को कई युवतियों की फोटो भेजी गई थी. जिनमें से दोनों ने एक युवती को पसंद किया था. लेकिन गिरोह से जुड़े जब दूसरी लड़की लेकर होटल पहुंचे तो एक युवक ने फोटो वाली लड़की नहीं भेजने के कारण रुपए देने से इंकार कर दिया. 

आरोपियों ने वाट्सएप पर वीआईपी स्कॉट्स नामक ग्रुप बना रखा:
इसी विवाद के कारण अनैतिक कार्यो से जुड़े गिरोह के सदस्यों ने युवक पर सरिए से हमला कर दिया और मौके से फरार हो गए. जब मामला थाने तक पहुंचा और पुलिस ने अनुसंधान शुरू किया तो इस गिरेाह की परते खुलती चली गई. पुलिस के मुताबिक गिरफ्त आरोपियों ने वाट्सएप पर वीआईपी स्कॉट्स नामक ग्रुप बना रखा है. इस ग्रुप पर यह कई युवतियों की अश्लील फोटो शेयर करते है और पंसद आने पर उसकी रेट तय कर उसे बताए गए स्थान पर छोड़ कर भी आते हैं. इतना ही नही पुलिस से बचने के लिए शिफ्ट कार मे युवतियों की सप्लाई की जाती है. एडिशनल डीसीपी नॉर्थ सुमन चौधरी के मुताबिक अनैतिक कार्यों से जुड़े गिरोह के सदस्य लोगों को फेस्टिवल सीजन में डिस्काउंट देने का झांसा देते हैं. 

इस मामले के बाद अब कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच भी एक्टिव हो गई:
आमेर में सामने आए इस मामले के बाद अब कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच भी एक्टिव हो गई है. डीसीपी क्राइम अमृता दुहान ने बताया की अब जल्द ही अनैतिक कार्यों में लिप्त लोगों की धरपकड़ की जाएगी. जिससे की शहर की संस्कृति को बचाया जा सके. बहरहाल यह तो स्पष्ट हो गया है की शहर में देह व्यापार का गौरखधंधा किस प्रकार से  फल फूल रहा है. ऐसे में जरूरत है की जल्द से जल्द शहर में फैल रहे अन्य गिरोह का पर्दाफाश कर आरोपियों की गिरफ्तारी की जाए. जिससे की समाज को इस गंदगी से बचाया जा सके.

...फर्स्ट इंडिया न्यूज के लिए सत्यनारायण शर्मा की रिर्पोट

और पढ़ें