जैसलमेर Jaisalmer: सिर में चोट के बाद भी तलवार लहराता रहा युवक, घायल का गुस्सा देख लोगों में दहशत; जानिए क्या है पूरा मामला

Jaisalmer: सिर में चोट के बाद भी तलवार लहराता रहा युवक, घायल का गुस्सा देख लोगों में दहशत; जानिए क्या है पूरा मामला

Jaisalmer: सिर में चोट के बाद भी तलवार लहराता रहा युवक, घायल का गुस्सा देख लोगों में दहशत; जानिए क्या है पूरा मामला

जैसलमेर: आपसी रंजिश में 6-7 बदमाशों ने एक युवक पर हमला कर दिया. तलवार से वार कर जमकर मारा जिससे सिर पर चोट लग गई. लहूलुहान हालत में भी युवक बचाव में लड़ता रहा और तलवार छीन ली. इससे बदमाश डर गए और भाग गए. उसके बाद युवक हाथ में तलवार लेकर घरवालों के पास आया और बदला लेने की बात कहने लगा. घायल का गुस्सा देखकर और तलवार लहराने से आस-पास के लोग डर गए. भरे बाजार में युवक के तलवार लहराने का एक सीसीटीवी भी सामने आया है. सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और जैसे-तैसे उसे पकड़कर हॉस्पिटल लेकर गई. इलाज के बाद थाने लेकर गई. युवक को गिरफ्तार कर मामले की जांच की जा रही है. मामला जैसलमेर के गड़ीसर गेट का है.

एसपी भंवर सिंह नाथावत ने बताया कि युवक राजेन्द्र सिंह को गिरफ्तार किया गया है. मामले की जांच की जा रही है. वहीं युवक के भाई प्रकाश सिंह ने बताया कि तलवार उसके भाई की नहीं है. पुरानी रंजिश के चलते 6 से 7 बदमाशों ने तलवार से पहले हमला किया. युवक के सिर में तलवार के वार से गंभीर चोट आई, लेकिन युवक ने बदमाशों का मुकाबला किया और उनसे तलवार छीन ली. जैसे ही तलवार छीनी सभी बदमाश फरार हो गए. पीड़ित युवक राजेन्द्र सिंह तलवार लेकर उनके पीछे गया लेकिन वो लोग फरार हो गए. उस दौरान लोगों ने युवक को घेर लिया और घायल युवक ने तलवार हाथ में लेकर अपने घर वालों और दोस्तों को अपने साथ हुए हादसे के बारे में बताया और वो गुस्से में भरकर बदला लेने का कहने लगा. इस दौरान माहौल गरमा गया और भीड़ जमा हो गई. लोगों को तलवार लहराता राजेन्द्र सिंह खौफनाक लगा. इस दौरान पुलिस आ गई और उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद युवक को पड़ा और उसके सिर में लगी चोट का इलाज कर उसको थाने ले आई.

पुलिस पर एक तरफा कार्रवाई करने का आरोप: 
पीड़ित युवक राजेन्द्र सिंह के भाई प्रकाश सिंह ने पुलिस पर एक तरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया है. प्रकाश ने बताया कि उसका भाई 2 साल से मानसिक रोगी है तथा उसका इलाज जोधपुर से चल रहा है और वो दिमागी बीमारी की गोलियां ले रहा है. वो गांव धऊआ गांव में ही रहता है. शुक्रवार शाम वो घर से निकल शहर आ गया. उसकी पुरानी रंजिश के चलते बदमाशों ने उसको गड़िसर गेट में देखकर उस पर तलवार से हमला किया.लेकिन उसने बदमाशों का मुकाबला करके तलवार छीन ली इस दौरान उसके सिर में चोट भी आई. लेकिन तलवार राजेंद्र के हाथ में देखकर बदमाश फरार हो गए. पीड़ित राजेंद्र वहीं खड़ा रहा और लोगों ने उसको घेर लिया. वो दिमागी परेशानी में वहीं खड़ा रहा और बदला लेने का कहकर उसने हमको बुलाया. पुलिस ने उसको तब तक पकड़कर सिर में टांके लगाकर थाने में बैठा दिया. हमने पुलिस को सच्चाई बताई, बदमाशों के बारे में बताया मगर हमारी नहीं सुनी गई और एक तरफा कार्रवाई करते हुए हमारे भाई को ही थाने में मुकदमा दर्ज कर बैठा दिया. जबकि जिन बदमाशों ने उस पर तलवार से हमला किया उनको पुलिस नहीं पकड़ रही है.

और पढ़ें