श्रीनगर गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को सरकार का तोहफा, 20 जिलों में 2जी इंटरनेट सेवा आज से बहाल

गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को सरकार का तोहफा, 20 जिलों में 2जी इंटरनेट सेवा आज से बहाल

गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को सरकार का तोहफा, 20 जिलों में 2जी इंटरनेट सेवा आज से बहाल

श्रीनगर: जम्मू और कश्मीर के लोगों को गणतंत्र दिवस पर मोदी सरकार ने मोबाइल इंटरनेट बहाली का आम नागरिकों को तोहफा दिया है. पांच महीने से ज्यादा समय तक तक बंद रहने के बाद शनिवार से कश्मीर घाटी में पोस्टपेड के साथ ही प्रीपेड फोन पर 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गई है. जम्मू और कश्मीर के लोग 301 वेबसाइट खोल सकेंगे, लेकिन सोशल मीडिया ऐप पर पाबंदी लगी रहेगी.

सोशल मीडिया साइटों तक घाटी के लोगों की पहुंच नहीं होगी: 
जम्मू कश्मीर प्रशासन के गृह विभाग की एक अधिसूचना के मुताबिक मोबाइल फोन पर 2जी स्पीड के साथ इंटरनेट सुविधा 25 जनवरी से चालू हो जाएगी. सोशल मीडिया साइटों तक घाटी के लोगों की पहुंच नहीं होगी और तय वेबसाइटों तक ही उनकी पहुंच हो सकेगी. पोस्टपेड और प्रीपेड सिम कार्ड पर डेटा सुविधा उपलब्ध होगी.

इंटरनेट सेवा 31 जनवरी तक बहाल रहेगी:
आदेश में कहा गया है कि मोबाइल पर 2जी इंटरनेट सेवा 31 जनवरी तक बहाल रहेगी. इसके बाद समीक्षा कर इसे जारी रखने पर विचार किया जाएगा. जम्मू संभाग के सभी 10 जिलों तथा कश्मीर संभाग के दो जिलों कुपवाड़ा व बांदीपोरा में 2जी मोबाइल इंटरनेट सुविधा 18 जनवरी को बहाल की गई थी. जिन साइटों को मंजूरी दी गयी है, उनमें सर्च इंजन और बैंकिंग, शिक्षा, समाचार, यात्रा, सुविधाएं और रोजगार से संबंधित हैं.

प्रतिबंधों को लेकर हाल ही में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई थी:
जम्मू-कश्मीर में लगाए प्रतिबंधों को लेकर हाल ही में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई थी. सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि इंटरनेट का अधिकार, अभिव्यक्ति के अधिकार के तहत आता है और यह भी मूलभूत अधिकार हैं. सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर प्रशासन से अस्पतालों, शैक्षणिक संस्थानों जैसी आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाली सभी संस्थाओं में इंटरनेट सेवाओं को बहाल करने के लिए कहा था.

और पढ़ें