जयपुर वर्ष की अंतिम राष्ट्रीय लोक अदालत में 53 हजार प्रकरणों का किया गया निस्तारण

वर्ष की अंतिम राष्ट्रीय लोक अदालत में 53 हजार प्रकरणों का किया गया निस्तारण

वर्ष की अंतिम राष्ट्रीय लोक अदालत में 53 हजार प्रकरणों का किया गया निस्तारण

जयपुर: राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर प्रदेश में भी कल हाईकोर्ट सहित अधीनस्थ अदालतों में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया. प्रदेशभर में आयोजित हुई वर्ष 2019 की अंतिम और चौथी लोक अदालत में करीब 53 हजार से अधिक प्रकरणों का निस्तारण किया गया है. साथ ही 400 करोड़ के अवार्ड पारित किए गए.

राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव अशोक जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत के लिए कुल 814 बैंचो का गठन किया गया था. जिसमें सुनवाई के लिए 2 लाख 70 से अधिक प्रकरण चिन्हित किये गये थे. एक दिन की इस राष्ट्रीय लोक अदालत में प्रदेशभर में पेडिंग 43848 प्रकरणों का निस्तारण किया गया है. वहीं 5 हजार से अधिक प्री लिटिगेशन के मुकदमों का निस्तारण किया गया है. हाईकोर्ट की जोधपुर मुख्यपीठ में 69 और जयपुर पीठ में कुल 337 प्रकरणों का निस्तारण किया गया है. 

और पढ़ें