अलवर लोकसभा प्रत्याशियों में अंदर खाने फूट, रख रहे फूंक-फूंक कर कदम

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/14 03:29

अलवर। अलवर में मुख्यत तीन पार्टियों के प्रत्याशी मैदान में है जिनमें बसपा भाजपा और कांग्रेस है लेकिन तीनो ही पार्टियां अंदर खाने की फूट से परेशान हैं। प्रत्याशी जानते हुए भी खुद की पार्टी में एकजुटता नहीं है दूसरे की पार्टी से फुट डाल रहे हैं। भाजपा और कांग्रेस में तो अंदर खाने फूट ही है जबकि बसपा के जिलाध्यक्ष और लोकसभा प्रभारी को इस्तीफे सौंप गए हैं।

अलवर में कांग्रेस से पूर्व केंद्रीय मंत्री रहे जितेंद्र सिंह चुनाव मैदान में हैं जबकि भाजपा ने महंत चांदनाथ के शिष्य बालक नाथ को चुनाव मैदान में उतारा है। बालक की घोषणा के बाद से ही भाजपा एकमत नहीं है। पूर्व जिला अध्यक्ष रहे धर्मवीर शर्मा उनके खिलाफ बयान दे चुके हैं तो रोहिताश शर्मा ने भी जितेंद्र सिंह की तारीफ कर बता दिया था कि नेताओं की सेंधमारी एक दूसरे की पार्टी में भी है। इधर कांग्रेस में दो बड़े नेताओं में तू तू मैं मैं हो चुकी है तो राजगढ़ से विधायक जोहरी लाल मीणा साफ तौर पर विरोध जता रहे हैं और पार्टी के ही एक मंत्री पर गलत तरीके से दूसरे नेता को सपोर्ट करने की बात कह रहे हैं साथ ही यह भी दोहराते हैं की इस तरह वोट नहीं मिलेंगे।

माना जा रहा है कि बसपा कांग्रेस को नुकसान पहुंचाएगी और बसपा जिलाध्यक्ष और लोकसभा प्रभारी द्वारा दिया गया इस्तीफा भी कांग्रेस के इशारे पर ही माना जा रहा है। लेकिन इससे तय हो गया है कि हर प्रत्याशी अपनों की घात से परेशान है भले ही बाबा बालक नाथ हो या फिर बसपा के इमरान खान। भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष धर्मवीर शर्मा अब प्रत्याशी की तारीफ करते हैं लेकिन स्वीकारते हैं कि पहले विरोध कर रहे थे। वहीं बाबा बालक नाथ कहते हैं कि धर्म की जीत होगी।

भले ही चुनाव में अभी वक्त है और सभी प्रत्याशियों की ओर से नामांकन भी नहीं हुआ है लेकिन जनता ने मानस बनाना शुरू कर दिया है और हर नेता का बयान कुछ ना कुछ असर मतदाता के अंतः पटल पर जरूर डालता है। ऐसे में खुद प्रत्याशी फूंक फूंक कर पैर रख रहे हैं कि कहीं उनके ही परिवार का कोई सदस्य नाराज न हो जाए।
              अलवर से संवाददाता अश्विनी यादव की रिपोर्ट

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in