रक्सौल एक्सप्रेस में बर्दवान के यात्रियों से लूट, सूचना के बाद भी रेलवे से नहीं मिली मदद

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/03/17 03:15

नई दिल्ली। बर्दवान शहर से एक ग्रुप बना कर घूमने गए कई लोगों को ट्रेन में ही डकैती की घटना से दो चार होना पड़ा । इस घटना में ना केवल यात्रियों के साथ मारपीट बल्कि उनके लाखों रुपए की संपत्ति की लूट की घटना सामने आई है। बर्दवान निवासी उत्तम हाजरा ने बताया कि गत 11 मार्च को बर्दवान से कुल 35 लोग घूमने के लिए गए हुए थे । सभी लोग रक्सौल एक्सप्रेस के माध्यम से घर वापसी कर रहे थे। 

वापसी के दौरान रविवार सुबह करीब 4:15 पर जब ट्रेन लखीसराय स्टेशन से होकर धीमी गति से गुजर रही थी। उसी समय कुछ लोग  चाकू की नोंक पर ट्रेन में अचानक से लूटपाट करने लगे। इस दौरान उन लोगों ने कथित तौर पर चाकू की नोक पर सभी को डराया धमकाया  तथा उनके हाथों में रखें पैसे और मोबाइल वगैरह छीन लिया।  सुबह करीब 4:15 बजे घटित हुई इस घटना के बाद जब लोगों ने प्रतिवाद करना चाहा तो उन लोगों के साथ डकैतों ने मारपीट की । 

इस लूटपाट और डकैती की घटना की शिकार सोमा  सरकार नामक एक अन्य महिला ने बताया कि वे सभी रक्सौल एक्सप्रेस के एस 1 कमरे में यात्रा कर रहे थे। अचानक से डकैतों ने उनसे उनका बैग छीन लिया जिसमें करीब 70 हजार रुपये नकदी के साथ ही साथ 3 मोबाइल फोन भी थे। सोमा ने बताया कि उन लोगों ने मेरी बेटी के हाथ में रखे पर्स को भी छीन लिया जिसमें कुछ सोने के सामान रखे हुए थे। 

घटना के बाद जब रेल यात्री  रविवार दोपहर बर्दवान स्टेशन पहुंचे तो इन लोगों ने बर्दवान जीआरपी में इसकी लिखित शिकायत दर्ज कराई है। जीआरपी अधिकारी इस मामले की जांच कर अपराधियों को पकड़ने संबंधी भरोसा पीड़ित यात्रियों को दिलाया है। लेकिन ट्रेन में सवार यात्रियों का कहना है कि जब लूटपाट की घटना के बाद अपराधी फरार हो रहे थे तब उन लोगों ने चेन पुलिंग कर ट्रेन को रोका। लेकिन चेन पुलिंग किए जाने के काफी समय बाद तक भी ना तो कोई जीआरपी और ना ही कोई आरपीएफ अधिकारी मौके पर पहुंचे। जिस वजह से इस घटना को अंजाम देने वाले अपराधी काफी आसानी से वहां से फरार होने में सफल रहे।  इस घटना के बाद रेल यात्री सफर के दौरान अपने कड़वे अनुभव को सोचकर काफी सहमे और भयभीत दिखे।
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in