कोझिकोड मीडिया का परिदृश्य पिछले कुछ सालों में बदल गया है- अनुराग ठाकुर

मीडिया का परिदृश्य पिछले कुछ सालों में बदल गया है- अनुराग ठाकुर

मीडिया का परिदृश्य पिछले कुछ सालों में बदल गया है- अनुराग ठाकुर

कोझिकोड: केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को कहा कि मीडिया का परिदृश्य पिछले कुछ सालों में बदल गया है और डिजिटल मीडिया के उदय से सूचनाएं लोगों की पहुंच में हैं.

लेकिन इसके साथ ही ठाकुर ने गलत खबरों के प्रसार और परंपरागत माध्यम के लिए प्रतिस्पर्धा से संबंधित चुनौतियों के प्रति भी आगाह किया. संघ के ‘जन्मभूमि दैनिक’ के कोझिकोड संस्करण को जारी करते हुए मंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान अखबारों की बिक्री में कमी आई. उन्होंने कहा कि मीडिया हाऊस ने इस अवधि को खुद को डिजिटल करने के लिहाज से अवसर के रूप में देखा. मंत्री ने कहा कि पिछले कुछ महीनों के दौरान विभिन्न मीडिया हाऊस के साथ बातचीत के दौरान मैंने महसूस किया कि डिजिटल ग्राहकों की असल संख्या बहुत-बहुत अधिक है. आपकी पाठक और दर्शक संख्या बढ़कर बहुत अधिक हो गई. ’’ पिछले सप्ताह उर्दू अखबारों के संपादकों के साथ अपनी बातचीत का जिक्र करते हुए ठाकुर ने कहा कि उन्होंने उन्हें बताया कि डिजिटल पाठकों की संख्या मुद्रित प्रतियों की तुलना में लगभग तीन गुना अधिक हो गई है.

मंत्री ने उस स्थिति के बारे में भी बात की जिसमें बहुत सारी झूठी जानकारी को हानिकारक तरीके से फैलाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि यह न केवल भारत, बल्कि विश्व स्तर पर महसूस किया गया और गलत सूचना के कारण कई लोगों की जान चली गई. ठाकुर ने कहा कि कोविड-19 महामारी एक तरह से महामारी से अधिक ‘इंफोडेमिक’ बन गया. न केवल भारत, बल्कि विश्व स्तर पर ‘इंफोडेमिक’ की यह समस्या पैदा हुई. इस गलत सूचना के कारण कई लोगों की जान चली गई. सोर्स- भाषा

और पढ़ें