Live News »

VIDEO: पड़ताल में बड़ा खुलासा, रोडवेज में राजस्व चोरी के जिम्मेदार 150 से ज्यादा व्हाट्सएप ग्रुप

उदयपुर: प्रदेश की सत्ता में दशको से सरकारों के आने औऱ चले जाने का दौर जारी है, लेकिन खस्ताहाल आर्थिक हालातों से जूझ रही राजस्थान रोडवेज के दुर्दिन समाप्त होने के बजाए और ज्यादा बिगडते जा रहे हैं. यही नहीं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने राजस्थान रोडवेज की नैय्या को और ज्यादा डुबोने में बडी भूमिका निभाई है. 

खास पड़ताल:
दरअसल फर्स्ट इंडिया न्यूज द्वारा की गई खास पड़ताल में सामने आया हैं कि राजस्थान रोडवेज के 54 आगारों में हजारों चालक और परिचालक रोडवेज में  राजस्व के रिसाव के सहभागी बने हुए हैं. यही नहीं रोडवेज के इन चालक औऱ परिचालकों द्वारा बनाये गये करीब 150 से ज्यादा व्हाट्सएप्प ग्रुप रोडवेज के राजस्व में करोडों का चूना लगा रहे हैं. आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर कैसे राजस्थान रोडवेज के चालक औऱ परिचालक रोडवेज को डुबोने पर अमादा है. पेश हैं खास इन्वेस्टिगेटिव रिर्पोट:

रोडवेज लगातार बदहाल:
प्रदेश में लाखों लोगों के लिए प्रतिदिन परिवहन का सबसे बडा साधन राजस्थान रोडवेज लगातार बदहाल हो रहा हैं. प्रदेश की सत्ता पर काबिज होने वाली लगभग हर सरकार नें इस सरकारी उपक्रम को फायदे में लाने के अटूट प्रय़ास किये हैं, लेकिन नतीजा सिफर ही रहा. राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम के आला अधिकारियों द्वारा इस उपक्रम को फायदे में लाने के लिए लगभग हर दिन कोई ना कोई योजना बनाई जाती हैं, लेकिन तमाम योजनाएं फिस्स हो जाती हैं.  

150 से ज्यादा व्हाट्सएप्प ग्रुप:
हमारे उदयपुर संवाददाता ने दर्जनों चालक और परिचालकों से चर्चाओं के बाद पाया कि प्रदेश के 54 रोडवेज आगारों के चालक औऱ परिचालक राजस्व को रोज चूना लगा रहे हैं. इन आगारों के चालक और परिचालको नें करीब 150 से ज्यादा ऐसे व्हाट्सएप्प ग्रुप बना रखे हैं, जिनमें रोडवेज की फ्लाइंग टीमों की रोज की लोकेशन साझा की जाती हैं. जैसे की यदि कोई बस जयपुर से हरिद्धार के लिए चल रही हैं, तो उस रुट पर फ्लाइंग टीम की लोकेशन इस बस से पहले गुजरने वाले चालक और परिचालकों द्वारा दे दी जाती हैं. ऐसे में फ्लाइंग टीम की लोकेशन के आस पास ये परिचालक सजग हो जाते है और बेटिकट यात्रियों को एवजी टिकट देकर बच जाते हैं. ऐसे में रोडवेज की फ्लाइंग टीमें बहुत ज्यादा सफल नहीं हो पाती और ये चालक परिचालक जमकर चांदी कूटते हैं. यही नहीं इनके द्वारा बनाये गये व्हाट्सएप्प ग्रुप में साफ निर्देश भी हैं कि फ्लाइट टीम की लोकेशन और उनके वाहन नंबर के अलावा कोई भी सूचनाएं इन ग्रुप्स में साझा नहीं की जाए. 

रोडवेज के राजस्व के रिसाव का रास्ता बने व्हाट्सएप्प ग्रुप:
—प्रदेशभर के 54 आगारों में कार्यरत हैं हजारों चालक-परिचालक. 
—करीब 150 से ज्यादा व्हाट्सएप्प ग्रुप हैं फ्लाइंग टीम की लोकेशन साझा करने के लिए. 
—राज्य के अलावा पड़ोसी राज्यो में जाने वाली रोडवेज के लिए भी साझा होती हैं फ्लाइंग टीम की लोकेशन 
—प्रतिदिन करोडों रुपयें के राजस्व का हो रहा हैं रोडवेज को नुकसान. 
—वैधानिक तौर पर ऐसे व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाकर कर राजस्व चोरी करना हैं सर्विस रुल्स के खिलाफ. 

राजस्व चोरी को पूरी तरह रोकना फिलहाल बड़ी चुनौती:
मजे की बात तो यह है कि प्रदेश के परिवहन मंत्री खुद इस बात को कबूल करते हैं कि रोडवेज में राजस्व के रिसाव को रोकने के लिए अभी भी एक फुल प्रूफ सिस्टम की जरुरत है. हालांकि मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास नें साफ किया कि पिछले कुछ महिनो में रोडवेज में भ्रष्टाचार को कम करके करोंडो रुपये महिने के बचाये जा रहे है, लेकिन इस राजस्व चोरी को पूरी तरह रोकना फिलहाल बड़ी चुनौती बना हुआ हैं.

... उदयपुर से रवि कुमार शर्मा की रिपोर्ट 

और पढ़ें

Most Related Stories

तालाब पर नहाने गए युवक की डूबने से हुई मौत, गोगुन्दा के सायरा थाना क्षेत्र की घटना

तालाब पर नहाने गए युवक की डूबने से हुई मौत, गोगुन्दा के सायरा थाना क्षेत्र की घटना

उदयपुर: प्रदेश के उदयपुर जिले के सायरा थाना क्षेत्र के ढोल ग्राम पंचायत के बड़गांव गांव में तालाब पर नहाते समय युवक का पैर फिसलने से पानी में डूबने से युवक की मौत हो गई. जानकारी के अनुसार मोहन गमेती तालाब पर नहाने गया था तभी अचानक उसका पैर फिसल गया, जिससे पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई.

{related}

सूचना पर ढोल चौकी के कांस्टेबल पहुंचे मौके पर:
सूचना पर ग्रामीण और परिजन मौके पर जमा हो गए. परिजनों की सूचना पर ढोल चौकी के हेड कांस्टेबल मौके पर पहुंचे ओर ग्रामीणों व पुलिस ने बड़ी मशक्कत के बाद शव को तालाब से बाहर निकाला. वहीं परिजनों ने पुलिस में कोई मामला दर्ज नहीं करवाया है.

उदयपुर के सराड़ा में चाकुओं से गोदकर युवक की बेरहमी से हत्या, बाइक सवार बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

उदयपुर के सराड़ा में चाकुओं से गोदकर युवक की बेरहमी से हत्या, बाइक सवार बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

सराडा(उदयपुर): सराडा वृत के सेमारी थाना क्षेत्र के शक्तावतों का गुडा में   अज्ञात बाइक सवारों ने एक युवक सोमा मीणा की चाकुओं से गोद कर जघन्य हत्या कर दी. हत्या के पीछे हैरान कर देने वाला मामूली वजह बाइक को साइड नहीं देने पर हुए विवाद में हमला कर दिया. बुधवार देर शाम सरेराह हत्या हुई थी, मौके पर मिले मोबाइल से आरोपी पकड़ में आये. दिनभर सेमारी अस्पताल और थाने के बीच बडी संख्या में लोगों जमा होते रहे. मृतक के परिजनों और रिश्तेदारों की भीड को देखते हुए तीन थानों का पुलिस जाप्ता तैनात रहा. घटना में लिप्त दो आरोपियों को पुलिस ने मोबाइल के आधार पर गिरफ्तार कर लिया है. घटना सेमारी थानाक्षेत्र के शक्तावतों का गुड़ा की है. 

सरेराह चाकूओं से गोदा:
पुलिस ने बताया कि बदमाशों ने आम्बा रेड फला निवासी सोमा मीणा (40) पर बाइक पर सवार बदमाशों ने अचानक सरेराह चाकू से हमला कर दिया. एक दुकानदार के हल्ला मचाने पर हमलावर भाग निकले. हमले में सोमा की मौत हो गई. सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक का शव सेमारी सीएचसी की मोर्चरी में रखवाया. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. 

{related}

साइड नहीं देने के चलते उपजा विवाद:
मौके से एक हमलावर का मोबाइल मिला, इसी के जरिये पुलिस आरोपितों तक पहुंची और गुरुवार शाम को दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तार आरोपित रोशन पुत्र लक्ष्मण मीणा कलासुआ (23) निवासी फला हालेली इंटाली पाल और धनेश्वर पुत्र विरमलाल अहारी (20) निवासी भोगरिया फला घोड़ासर ने पूछताछ में बताया कि मोटरसाइकिल को साइड नहीं देने के कारण विवाद हो गया था और उन्होंने सोमा पर चाकू से हमला कर दिया.

VIDEO: उदयपुर में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया की फिर फिसली जुबान ! एक पत्रकार के लिए कह दिए अपशब्द

VIDEO: उदयपुर में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया की फिर फिसली जुबान ! एक पत्रकार के लिए कह दिए अपशब्द

उदयपुर: जिले में शुक्रवार को राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया की एक बार फिर जुबान फिसल गई. कटारिया ने मीडिया से बातचीत के दौरान एक पत्रकार को संबोधित करते हुए अपशब्द कह दिए. हालांकि गुलाबचंद कटारिया ने पत्रकार का नाम नहीं लिया. कटारिया यहां नगर निगम की बोर्ड बैठक में शामिल होने आए थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि एक पत्रकार ने कोशिश की थी लेकिन मेरा कुछ भी नहीं बिगाड़ पाए. देखिए पूरा वीडियो...

उदयपुर: बिजली विभाग की एक और गंभीर लापरवाही, झोपड़ी में रहने वाले मजदूर को बिना कनेक्शन थमा दिया बिजली का बिल

उदयपुर: बिजली विभाग की एक और गंभीर लापरवाही, झोपड़ी में रहने वाले मजदूर को बिना कनेक्शन थमा दिया बिजली का बिल

कुराबड़ (उदयपुर): दो दिन पहले आपने खुद सुना होगा कि उदयपुर जिले के गिंगला थाना क्षेत्र के गिंगला गांव निवासी माना पटेल किसान के बिजली का बिल पोने चार करोड़ रुपये आया था. लेकिन महज दो दिन बाद फिर से बिजली विभाग का अब नया कारनामा सामने आया है. यह कारनामा गरीब झोपड़ी में रहने वाले मजदूर को बिना कनेक्शन बिजली का बिल थमा दिया. 

ऐसा मामला सामने आया जो और भी ज्यादा हैरान कर देने वाला:  
अब तक तो बिजली के बिल ज्यादा आने की शिकायत आ रही थी, लेकिन बुधवार को एक ऐसा मामला सामने आया जो और भी ज्यादा हैरान कर देने वाला है. एक केलूपोश मकान में रहने वाले परिवार को बिना बिजली कनेक्शन के ही बिल थमा दिया गया है.  मामला उदयपुर जिले बारां ग्राम पंचायत का है. ग्राम पंचायत बारां के फूलाराम पुत्र नाथू लाल मीणा को बिजली विभाग ने 1671 रुपये का बिल थमा दिया है. खास बात यह कि इस नाम से कोई बिजली कनेक्शन ही नहीं है. 

{related}

इस परिवार के घर पर रात को दीये की ही रोशनी होती है:
मिट्टी की दीवारों और केलूपोश की छत वाले झोंपड़े में रहने वाले इस परिवार के घर पर रात को दीये की ही रोशनी होती है, क्योंकि उसके यहां बिजली का कनेक्शन नहीं है. उसने बताया कि मैं अंधेरे में ही रह रहा हूं, लेकिन विभाग ने मुझे बिजली का बिल भेज दिया है. वह खुद तो हैरान है ही, अन्य ग्रामीणों में भी बिजली विभाग के इस कारनामे को लेकर चर्चा फैली हुई है. 

बिना बिजली कनेक्शन के ही बिल आ रहे:
भाजपा जावर माता मंडल अध्यक्ष हरीश मीणा ने कहा कि बिजली विभाग का कोई धणी-धोरी नहीं है. बिना बिजली कनेक्शन के ही बिल आ रहे हैं, मान लीजिये कि यदि सरकारी कागजों में इस केलूपोश मकान में बिजली कनेक्शन दिखा दिया गया हो, फिर भी कोई मीटर रीडिंग लेने तो आया होगा, तब उसे पता चलना ही चाहिए था कि यहां तो कनेक्शन ही नहीं है. इससे यह स्पष्ट है कि मीटर की रीडिंग भी नहीं हुई है और इसी कारण पूरे राज्य में बिजली के बिलों में विसंगतियां हुई हैं. इसी कारण जनता आक्रोशित है. 

VIDEO: 3 करोड़ 71 लाख 61 हजार रुपए का बिल देखकर उड़े किसान के होश, इलाके में मचा हड़कंप

VIDEO: 3 करोड़ 71 लाख 61 हजार रुपए का बिल देखकर उड़े किसान के होश, इलाके में मचा हड़कंप

उदयपुर: जिले में बिजली के बिल आम लोगों को साथ किसानों को भी करंट दे रहे हैं. यहां एक किसान के पास बिजली का बिल इतना आया की जिसे देखकर उसके पैरों तले जमीन खिसक गई. जी हां, भले ही आपको यह सुनने में अजीब लग रहा हो लेकिन जिले के गिंगाल गांव के मानाजी डांगी नाम के एक किसान का बिल 3 करोड़ 71 लाख 61 हजार रुपए आया है. 

{related}

तुरंत ही बिजली विभाग के अधिकारियों को कराया अवगत: 
जैसे ही मानाजी डांगी ने यह बिल देखा तो उसके होश उड़ गए. वहीं बिल की राशि देखकर गांव सहित इलाके में हड़कंप मच गया. हालांकि उसने तुरंत ही बिजली विभाग के अधिकारियों को इसके बारे में अवगत करवाया तो संशोधन के बाद बिल मात्र करीब ₹7000 का हुआ. ऐसे में अब इस बिल को लेकर सबसे बड़ा सवाल तो यह खड़ा हो रहा है कि बिजली विभाग इतनी बड़ी लापरवाही कैसे कर सकता है. 

 

13 फीट पूर्ण भराव क्षमता के बाद फतेहसागर हुआ ओवरफ्लो, कलेक्टर ने विधिवत पूजा अर्चना के बाद खोले गेट

13 फीट पूर्ण भराव क्षमता के बाद फतेहसागर हुआ ओवरफ्लो,  कलेक्टर ने विधिवत पूजा अर्चना के बाद खोले गेट

उदयपुर: प्रदेश के उदयपुर शहर वासियों की दिलों की धड़कन कहीं जाने वाली ऐतिहासिक फतेहसागर झील आज लबालब हो गई. 13 फीट की पूर्ण भराव क्षमता वाली फतेहसागर झील के आज लबालब होने के बाद इसके गेट खोले गए.

झील को देखने पहुंचे उदयपुर वासी:
झील के ओवरफ्लो पॉइंट पर इस नजारे को देखने के लिए भारी तादाद में लोग उमड़े. जिला कलेक्टर चेतन देवड़ा ने झील के ओवरफ्लो पॉइंट पर पहुंचकर विधिवत पूजा अर्चना की पूजा अर्चना की और फिर इन को खोला गया.

{related}

फतेहसागर झील का अद्भुत नजारा:
हालाकि कोविड-19 के संक्रमण के दौर के चलते जिला कलेक्टर ने लोगों से अपील की है कि वे कम से कम संख्या में यहां पहुंचे और कोरोना संक्रमण केे वाहक ना बने. फतेहसागर झील के इस अद्भुत नजारे का जायजा लिया हमारे उदयपुर संवाददाता रवि शर्मा ने...

उदयपुर में सड़क पर पसरा काल, दर्दनाक हादसे में 4 लोगों की मौत 

उदयपुर में सड़क पर पसरा काल, दर्दनाक हादसे में 4 लोगों की मौत 

उदयपुर: उदयपुर जिले के गोगुन्दा पिण्डवाड़ा हाइवे पर बेकरिया थाना क्षेत्र में हुए भीषण सड़क हादसे में दो बाइक सवार सहित 4 लोगों की मौके पर मौत हो गई. बताया जा रहा है कि बजरी से भरा ट्रेलर पिंडवाड़ा से उदयपुर की ओर तेज गति से आ रहा था. इसी दौरान ट्रेलर बडापुर गांव के पास ट्रेलर अनियंत्रित हो दो बाइक सवार को चपेट में लेते हुए पलट गया गया.

बेकरिया थाना पु​लिस पहुंची मौके पर :
हादसे के बाद बजरी के नीचे रॉड किनारे चल रहे दो किशोर दब गए. सूचना पर बेकरिया थाना पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने चारो के शवों को स्थानीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया. पुलिस ने शवो की शिनाख्त लोहारचा निवासी दशरथ, प्रकाश, छगन और हुँचन्द्र के रूप में की.

{related}

पुलिस ने ट्रेलर को किया जब्त:
पुलिस ने हादसे की सूचना परिजनों को दी. परिजनों ले आने पर पुलिस ने पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सौप दिए. वही पुलिस ने मामले में कार्यवाइ करते हुए ट्रेलर चालक को गिरफ्तार कर ट्रेलर को जब्त कर लिया है. वहीं देख लिया पुलिस ने कोविड-19 की गाइडलाइन के आधार पर चारों शवों का दाह संस्कार करवाया.

उदयपुर के गोगुंदा में तेज रफ्तार का कहर, अनियंत्रित ट्रेलर की टक्कर से 2 लोगों की मौत

 उदयपुर के गोगुंदा में तेज रफ्तार का कहर, अनियंत्रित ट्रेलर की टक्कर से 2 लोगों की मौत

उदयपुर: प्रदेश के उदयपुर जिले के गोगुंदा पिंडवाड़ा हाइवे पर गोगुन्दा की ओर से तेज गति से जा रहा ट्रेलर गोगुंदा मार्ग से उदयपुर मार्ग पर जाकर पलटी हो गया, जिसने दो बाइक को चपेट में ले लिया, जिसमें दो बाइक सवार युवकों की मौके पर ही मौत हो गई और दो युवक गंभीर घायल हो गए. वहीं एक बाइक मौके पर जलकर खाक हो गई. 

30 अगस्त 2020: जानिए आज का पंचांग, ये रहेगा शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

2 बाइक सवारों की मौके पर मौत:
जानकारी के मुताबिक गोगुंदा की ओर से तेज गति से जा रहा ट्रेलर अनियंत्रित होकर गोगुंदा पिंडवाड़ा हाइवे मार्ग से उदयपुर पिंडवाड़ा हाइवे मार्ग पर जा कर पलटी हो गया. जिसमें उदयपुर की ओर से आ रही दो बाइकों को अपनी चपेट में ले लिया. हादसे में 2 बाइक सवारों चालकों की मौके पर ही मौत हो गई. वे दोनों दो बाइकों पर सवार दो युवक गंभीर घायल हो गए. बताया जा रहा है कि यह रामदेवरा दर्शन के लिए जा रहे थे. 

सूचना पर पुलिस पहुंची मौके पर:
सूचना पर गोगुन्दा थाना अधिकारी गोपाल लाल शर्मा, 108 और हाइवे पेट्रोलिंग की टीम मौके पर पहुंची दोनों गंभीर घायल युवकों को 108 से उदयपुर जिला अस्पताल  पहुंचाया. जहां डॉक्टरों ने दोनों की हालत को भी नाजुक बताया है. वहीं पुलिस ने दोनों शवों को गोगुन्दा हॉस्पिटल मोर्चरी में रखवाया. वहीं उदयपुर गोगुन्दा  हाईवे मार्ग भी बाधित होने से यातायात मार्ग एकतरफा करवाया है. पुलिस ने मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया है. 

Horoscope Today, 30 August 2020: आज इन राशि वालों का बदलेगा भाग्य, पढ़ें दैनिक राशिफल