कानपुर में बरामद किए गए करोड़ो रुपए के पुराने नोट, थाने में रात भर चली नोटों की गिनती

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/01/17 02:32

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में बंद हो चुके पुराने 500 एवं 1000 रुपए के नोटों की एक बड़ी खेप बरामद की गई है, जिसमें कुल रकम करीब 100 करोड़ रुपए बताई जा रही है। इस मामले में कानपुर पुलिस ने नामी बिल्डर के घर से करीब 97 करोड़ की पुरानी करेंसी के साथ 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। ये सभी नोट 500 और 1000 रुपये के बंद हो चुके नोट हैं, जिन्हें नोटबंदी के करीब 14 महीने बाद बरामद किया गया है।

जानकारी के मुताबिक, पुलिस और एनआईए की टीम ने मंगलवार की रात कानपुर के तीन-चार होटल्स और निर्माणाधीन परिसर में छापेमारी की, जिसके बाद स्वरूप नगर इलाके स्थित एक घर पर पुलिस को करोड़ों रुपये के पुराने नोट मिले। छापेमारी के दौरान पुलिस ने जब अलग-अलग कमरों में मौजूद पुराने नोटों के बिस्तर देखे तो सभी सन्न रह गए। इन नोटों को बिस्तर बनाकर रखा गया था।

दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ लोग शहर के बड़े व्यापारियों के पास छिपाकर रखे गए पुराने नोट लेने आए हैं, जो एक होटल में रुके हैं। इनको गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के अलावा आयकर विभाग की टीम भी गिरफ्तार लोगों से पूछताछ कर रही है। थाने में रातभर चली नोटों की गिनती के बाद अब तक 97 करोड़ रुपये की गिनती हो चुकी है। एसएसपी अखिलेश मीणा के अनुसार, पुराने नोटों की गिनती अभी जारी है और कुल रकम की घोषणा शाम तक की जाएगी।

पुलिस ने मामले के आतंकी गतिविधि से जुड़े होने से साफ इनकार किया। एसएसपी का कहना है कि मामले के मुख्य आरोपी आनंद खत्री काफी अमीर परिवार से संबंध रखते हैं और वह नोटबंदी के बाद से ही 20 से 25 प्रतिशत के एवज में लोगों का पुराना पैसा बदलने का झांसा देते थे। हालांकि आनंद को ये राशि जहां से बदलवानी थी वहां काम नहीं हो सका जिस वजह से पैसा घर में इकट्ठा होता गया। पुलिस के अनुसार, मंगलवार तक आनंद ने लोगों से पैसे इकट्ठा किए।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in