आप के समर्थन में एकजुट विपक्ष, टीएमसी—सीपीआईएम के बाद अब मिला माकपा का भी साथ

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/01/20 03:37

नई दिल्ली। राजनीति के खेल को समझना बहुत ही कठिन है, यहां दोस्ती और दुश्मनी सब कुछ देखने और समझने के बाद की जाती है। किस समय किसका साथ देना है और किस समय किसका साथ छोड़ देना है, यह राजनेताओं को अच्छे से मालूम है। पीएम मोदी को हराने के लिए पूरा विपक्ष केजरीवाल के समर्थन में आ गया है। लाभ के पद पर अपने 20 विधायकों पर लटक रही तलवार पर केजरीवाल अब अकेले नहीं है, उन्हें बाकी राजनीतिक पार्टियों और राजनेताओं का समर्थन प्राप्त हो रहा है।

पहले टीएमसी फिर सीपीआईएम और अब माकपा ने भी 20 विधयाकों की सदस्यता को रद्द करना गलत बताया है। शिवसेना के संजय राउत ने भी इस मामले में चुनाव आयोग को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा है कि, "आयोग का यह फैसला संदेह के घेरे में है और इसके लिए आयोग जिम्मेदार है।"

शरद यादव ने अपने ट्वीट से आम आदमी पार्टी का समर्थन करते हुए लिखा है कि "चुनाव आयोग द्वारा 20 विधायकों की सदस्यता रद्द कर दिया जाना अलोकतांत्रिक है।" उन्होंने कहा कि, "क्योंकि उनका पक्ष सुना ही नहीं गया, इसलिए यह न्याय के खिलाफ है। देश की संवैधानिक संस्थाओं का दुरुपयोग किया जा रहा है। इसलिए लोगों को इस मुद्दे पर गंभीरता से सोचना चाहिए।"

माकपा नेता ने भी मामले में 'आप' का साथ दिया है। वृंदा करात ने कहा है कि 20 विधायकों की सदस्यता को रद्द किया जाना आयोग की विश्वसनीयता को कम कर देगा। इस मुद्दे पर ममता ने सरकार पर सीधा निशाना लगाया है। अपने एक ट्वीट में उन्होंने कहा है कि राजनीतिक फायदों के लिए संवैधानिक पदों का दुरुपयोग्य करना गलत है। वृंदा ने यह भी कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि विधायकों कि एक भी बात आयोग ने बिना सुने ही अपना फैसला दे दिया।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

जीत से मिला कांग्रेस को ऑक्सीज़न

दफ्तर पर रेड के बाद पहली बार बोले रोबर्ट वाड्रा
हिंदी हार्टलैंड में बीजेपी को बड़ा झटका, बीजेपी की हार की वजहों को समझिये
Big Fight Live | जीत के बाद चुनौती | 12 DEC, 2018
जानिए कुछ ऐसे चमत्कारी उपाय जिनसे होगा आपका जीवन सरल
पीसीसी में विधायक दल की बैठक आज, शाम तक होगा मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान
5 राज्यों में कांग्रेस को मिली बढ़त पर राहुल बोले...
धौलपुर जेल से कैदी का वीडियो वायरल
loading...
">
loading...