इंदौर में कोरोेना संक्रमण से जूझ रहे व्यक्ति ने तोड़ा दम, कोविड की दोनो डोज लगवाने के बाद भी आया कोरोना की चपेट में

इंदौर में कोरोेना संक्रमण से जूझ रहे व्यक्ति ने तोड़ा दम, कोविड की दोनो डोज लगवाने के बाद भी आया कोरोना की चपेट में

इंदौर में कोरोेना संक्रमण से जूझ रहे व्यक्ति ने तोड़ा दम, कोविड की दोनो डोज लगवाने के बाद भी आया कोरोना की चपेट में

इंदौर: मध्यप्रदेश के इंदौर में कोरोना वायरस संक्रमण से जूझ रहे 69 वर्षीय व्यक्ति की एक सरकारी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत का मामला सामने आया है. जिले में साढ़े चार महीने के लम्बे अंतराल के बाद इस महामारी से किसी मरीज ने दम तोड़ा है. 

कोविड-19 के नोडल अधिकारी डॉ. अमित मालाकार ने मंगलवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि 69 वर्षीय पुरुष ने शहर के मनोरमा राजे टीबी (एमआरटीबी) चिकित्सालय में रविवार रात आखिरी सांस ली. उन्होंने बताया कि यह मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद नौ नवंबर से एमआरटीबी चिकित्सालय में गंभीर हालत में भर्ती था. वह मधुमेह की पुरानी बीमारी से भी जूझ रहा था. 

इंदौर में कोरोना के इतने है मामले:
नोडल अधिकारी ने बताया कि इस व्यक्ति ने कोविड-19 रोधी टीके की दोनों खुराकें ले रखी थीं.  लेकिन अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी जान नहीं बचाई जा सकी. मालाकार ने बताया कि इससे पहले इंदौर में 29 जून को कोविड-19 के एक मरीज की मौत हुई थी. गौरतलब है कि इंदौर, सूबे में कोविड-19 की पिछली दो लहरों से सबसे ज्यादा प्रभावित रहा है.  हालांकि, बढ़ते टीकाकरण के बीच इन दिनों जिले में महामारी के बेहद कम नये मामले सामने आ रहे हैं. अधिकारियों ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान इंदौर में कोविड-19 का एक नया मरीज मिलने के बाद महामारी के मरीजों की तादाद बढ़कर 1,53,278 पर पहुंच गई और इनमें से 1,392 लोगों की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है. 

और पढ़ें