जयपुर ग्रहों का सेनापति मंगल 2 जून को मिथुन राशि से कर्क राशि में करेगा प्रवेश, कोरोना से मिलेगी राहत, राजनीतिक माहौल उच्च होगा; जानें कैसा रहेगा आपकी राशि का हाल

ग्रहों का सेनापति मंगल 2 जून को मिथुन राशि से कर्क राशि में करेगा प्रवेश, कोरोना से मिलेगी राहत, राजनीतिक माहौल उच्च होगा; जानें कैसा रहेगा आपकी राशि का हाल

ग्रहों का सेनापति मंगल 2 जून को मिथुन राशि से कर्क राशि में करेगा प्रवेश, कोरोना से मिलेगी राहत, राजनीतिक माहौल उच्च होगा; जानें कैसा रहेगा आपकी राशि का हाल

जयपुर: ग्रहों के सेनापति मंगल ग्रह 2 जून को मिथुन राशि से कर्क राशि में प्रवेश करेंगे. इस राशि में मंगल 20 जुलाई 2021 तक विराजमान रहेंगे. कर्क चंद्रमा की राशि है और यह मंगल देव की नीच राशि मानी जाती है. जबकि मकर राशि में ये उच्च के माने जाते हैं. मंगल ग्रह कर्क और सिंह राशि में अधिक शुभ फल देते हैं. पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि संवत 2078 के राजा और मंत्री मंगल जैसे ही कर्क राशि में प्रवेश करेंगे और कोरोना महामारी संक्रमण से लोगों को निजात मिलना आरंभ हो जाएगा. 

मंगल के कारण ही लॉकडाउन समाप्त होगा और जनजीवन सामान्य होगा. जून के महीने में कोरोना महामारी के वैक्सीन में वैज्ञानिकों को सफलता मिलेगी तथा बीमारियों के इलाज में सफलता प्राप्त होगी. जून के महीने से देश में कुछ राहत होने वाली है. इससे मौसम भी बदलेगा और बारिश भी अच्छी होगी. इसके अलावा देश में आपदा में भी कमी आएगी. मंगल के कारण रक्त संबंधी बीमारियों में कमी आएगी और लोगों के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार होगा. मंगल ग्रह को ऊर्जा का कारक माना जाता है. मंगल ग्रह हर डेढ़ माह में अपनी राशि परिवर्तन करते हैं.

इस राशि में मंगल 20 जुलाई तक रहेंगे:
ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि नवग्रहों में सेनापति का दर्जा मंगल को प्राप्त है. मंगल 2 जून की सुबह 6:51 बजे मिथुन राशि से निकलकर कर्क राशि में प्रवेश करेंगे. इस राशि में मंगल 20 जुलाई तक रहेंगे. यह गोचर शीघ्रता से परिणाम देने वाला साबित होगा और देश और दुनिया के विभिन्न क्षेत्रों में गति आएगी. मंगल के कारण प्राकृतिक आपदा के साथ अग्नि कांड भूकंप गैस दुर्घटना वायुयान दुर्घटना होने की संभावना. पूरे विश्व में राजनीतिक अस्थिरता यानि राजनीतिक माहौल उच्च होगा. पूरे विश्व में सीमा पर तनाव शुरू हो जायेगा. मंगल की वजह से दुर्घटना होने की आशंका है. देश के कुछ हिस्सों में हवा के साथ बारिश रहेगी. भूकंप या अन्य तरह से प्राकृतिक आपदा आने की भी आशंका है.

मंगल का शुभ-अशुभ प्रभाव:
विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि मंगल के कारण ही लॉकडाउन समाप्त होगा और जनजीवन सामान्य होगा. जून के महीने में कोरोना महामारी के वैक्सीन में वैज्ञानिकों को सफलता मिलेगी तथा बीमारियों के इलाज में सफलता प्राप्त होगी. जून के महीने से देश में कुछ राहत होने वाली है. इससे मौसम भी बदलेगा और बारिश भी अच्छी होगी. इसके अलावा देश में आपदा में भी कमी आएगी. लोगों के लिए समय अच्छा रहेगा. रोजगार के क्षेत्रों में वृद्धि होगी. आय में बढ़ोतरी होगी. देश की अर्थव्यवस्था के लिए शुभ रहेगा. खाने की चीजों की कीमतें सामान्य रहेंगी. सब्जियां, तिलहन और दलहन की कीमतें कम होंगी. व्यापार में तेजी रहेगी. सोने चांदी के भाव में वृद्धि होगी. राजनीति में उतार-चढ़ाव देखने को मिलेगा. प्राकृतिक आपदा के साथ अग्नि कांड भूकंप गैस दुर्घटना वायुयान दुर्घटना होने की संभावना. पूरे विश्व में राजनीतिक अस्थिरता यानि राजनीतिक माहौल उच्च होगा. पूरे विश्व में सीमा पर तनाव शुरू हो जायेगा. मंगल की वजह से दुर्घटना होने की आशंका है. देश के कुछ हिस्सों में हवा के साथ बारिश रहेगी. भूकंप या अन्य तरह से प्राकृतिक आपदा आने की भी आशंका है.

ग्रहों के सेनापति हैं मंगल:
विख्यात भविष्यवक्ता अनीष व्यास ने बताया कि ज्योतिष शास्त्र में मंगल को सभी ग्रहों का सेनापति होने का दर्जा प्राप्त है. मंगल मेष राशि और वृश्चिक राशि के स्वामी माने गए हैं. विख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि मकर राशि में मंगल उच्च के हो जाते हैं वहीं कर्क राशि में मंगल को नीच का माना जाता है. सूर्य, चंद्रमा और बृहस्पति से इनकी मित्रता है. बुध से मंगल की नहीं बनती है. जबकि शुक्र और शनि इनके सम संबंध हैं. मंगल देव पराक्रम, स्फूर्ति, साहस, आत्मविश्वास, धैर्य, देश प्रेम, बल, रक्त, महत्वकांक्षा एवं शस्त्र विद्या के अधिपति माने गए है. यहां आपको विशेष रूप से बताना चाहता हूं कि अग्नि तत्व होने से मंगल सभी प्राणियों को जीवन शक्ति देता है. यह प्रेरण, उत्साह एवं साहस का प्रेरक होता है. 

 

करें पूजा-पाठ और दान:
विख्यात कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि मंगल के अशुभ असर से बचने के लिए हनुमानजी की पूजा करनी चाहिए. लाल चंदन या सिंदूर का तिलक लगाना चाहिए. तांबे के बर्तन में गेहूं रखकर दान करने चाहिए. लाल कपड़ों का दान करें. मसूर की दाल का दान करें. शहद खाकर घर से निकलें. हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करें. मंगलवार को बंदरों को गुड़ और चने खिलाएं. 

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास से जानते हैं मंगल का कर्क राशि में गोचर का सभी 12 राशियों पर प्रभाव...

मेष राशि:-
कार्यक्षेत्र में सफलता मिल सकती है. नौकरी और व्यापार में तरक्की के योग बन रहे हैं. मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी. स्वास्थ्य का ध्यान रखने की आवश्यकता है. मनमुटाव हो सकता है.

वृष राशि:-
मानसिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है. इस समय धैर्य से काम लें. कार्यक्षेत्र में सफलता प्राप्त करेंगे. धन- लाभ होने के योग बन रहे हैं. स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें. 

मिथुन राशि:-
किसी भी तरह के वाद- विवाद से दूर रहें. धन- हानि हो सकती है, इसलिए खर्च सोच- समझकर ही करें. लेन- देन के लिए समय शुभ नहीं है. स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा. वाहन चलाते समय सावधानी बरतें.

कर्क राशि:-
तनाव का सामना करना पड़ सकता है. गुस्सा करने से नुकसान हो सकता है, इसलिए गुस्से पर नियंत्रण रखने का प्रयास करें. आर्थिक पक्ष मजबूत होगा. स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा.

सिंह राशि:-
व्यापार से जुड़े लोगों को विशेष सावधानी बरतनी होगी. धन- हानि हो सकती है. लेन- देन न करें. इस समय निवेश करने से नुकसान हो सकता है. दांपत्य जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

कन्या राशि:-
आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. धन- खर्च न करें. निवेश सोच- समझकर ही करें. दांपत्य जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. स्वास्थ्य का भी विशेष ध्यान रखना होगा.

तुला राशि:-
कार्यक्षेत्र में दबाव और तनाव रह सकता है. आर्थिक स्थिति सामान्य रहेगी. स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है. जीवनसाथी के साथ कुछ अनबन हो सकती है. 

वृश्चिक राशि:-
शारीरिक और मानसिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है. भाग्य का साथ नहीं मिलेगा. लक्ष्य प्राप्ति के लिए कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता है. आर्थिक समस्याओं से छुटकारा मिल जाएगा. परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य का ध्यान रखें.

धनु राशि:-
धनु राशि के जातकों को इस गोचर से सावधान रहने की आवश्यकता है. अधिक मेहनत करनी होगी. अधिक खर्चों से बचने का प्रयास करें. लेन- देन से दूर रहें. पारिवारिक जीवन खुशहाल रहेगा.

मकर राशि:-
जीवनसाथी के साथ मनमुटाव हो सकता है. आर्थिक पक्ष सामान्य रहेगा. खान- पान का विशेष ध्यान रखें नहीं तो स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

कुंभ राशि:-
गुस्से पर नियंत्रण करने का प्रयास करें. अधिक खर्च करने से बचें. जीवनसाथी के साथ रिश्ते मधूर बनाए रखने के लिए जीवनसाथी के साथ अधिक से अधिक समय व्यतीत करें.

मीन राशि:-
संतान पक्ष की तरफ से कुछ समस्याएं हो सकती हैं. आर्थिक समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है. खर्चा सोच- समझकर ही करें. स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना होगा.

सोर्स - सौजन्य से अनीष व्यास विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्लेषकपाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर 

और पढ़ें