नई दिल्ली पीएम मोदी बोले- आतंक के दम पर साम्राज्य खड़ा करने वालों का अस्तित्व स्थायी नहीं, सोमनाथ मंदिर को जितनी बार गिराया गया उतनी ही बार खड़ा हुआ

पीएम मोदी बोले- आतंक के दम पर साम्राज्य खड़ा करने वालों का अस्तित्व स्थायी नहीं, सोमनाथ मंदिर को जितनी बार गिराया गया उतनी ही बार खड़ा हुआ

पीएम मोदी बोले- आतंक के दम पर साम्राज्य खड़ा करने वालों का अस्तित्व स्थायी नहीं, सोमनाथ मंदिर को जितनी बार गिराया गया उतनी ही बार खड़ा हुआ

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्‍यम से गुजरात के सोमनाथ मंदिर में कई नई योजनाओं की शुरुआत की. उन्होंने यहां 'समुद्र दर्शन' पैदल पथ, सोमनाथ प्रदर्शनी केंद्र और नवीनकृत अहिल्याबाई होलकर मंदिर का उद्घाटन किया. इसके अलावा उन्होंने यहां पार्वती माता मंदिर का भी शिलान्यास किया. कार्यक्रम में बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री विजय रुपाणी मौजूद रहे. 

आस्था को आंतक से कुचला नहीं जा सकता:   
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आस्था को आंतक से कुचला नहीं जा सकता, साथ ही उन्होंने कहा कि आतंक के दम पर साम्राज्य खड़ा करने वालों का अस्तित्व स्थायी नहीं है. प्रधानमंत्री ने कहा कि कई बार सोमनाथ मंदिर का अस्तित्व मिटाने की कोशिश की गई, लेकिन मंदिर जितनी बार गिराया गया उतनी ही बार खड़ा हुआ. दुनिया आज भी आतंक की विचारधारा से पीड़ित है. पीएम के इस कथन को अफगानिस्तान में जारी हलचल से जोड़कर देखा जा रहा है. 

सोमनाथ मंदिर को भव्यता देने का काम जारी:
अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि सोमनाथ मंदिर को भव्यता देने का काम जारी है. धार्मिक पर्यटन से राजस्व में इजाफा होने के साथ ही युवाओं को भी रोजगार मिलेगा. उन्होंने कहा कि आज मैं लोकमाता अहिल्याबाई होल्कर को भी प्रणाम करता हूं, जिन्होंने विश्वनाथ से लेकर सोमनाथ तक, कितने ही मंदिरों का जीर्णोद्धार कराया. प्राचीनता और आधुनिकता का जो संगम उनके जीवन में था, आज देश उसे अपना आदर्श मानकर आगे बढ़ रहा है.

और पढ़ें