VIDEO : हम आतंक को कुचलना भी जानते हैं, क्योंकि 'मोदी है तो मुमकिन है' : पीएम मोदी

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/23 02:06

टोंक। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज राजस्थान के टोंक में हैं, जहां वे 'विजय संकल्प रैली' में जनसभा को सम्बोधित कर रहे हैं। पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद यह ऐसा पहला मौका है, जब पीएम मोदी राजस्थान आए हैं। ऐसे में टोंक में आयोजित हो रही इस रैली में पीएम मोदी ने आतंकवाद के साथ ही पड़ोसी देश पर भी हमला जमकर बोला है और कहा कि इंसानियत के दुश्मनों का चुन—चुन कर हिसाब किया जाएगा। दुनियाभर में इनका दाना—पानी बंद होगा, जिसके लिए आपका ये प्रधानसेव​क इसी काम में जुटा है।

टोंक में आयोजित हो रही भाजपा की 'विजय संकल्प रैली' में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ ही पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी, केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री वी सतीश, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, गुलाबचंद कटारिया, सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया, यूनुस खान, राजेन्द्र राठौड़ समेत भाजपा के कई नेतागण एवं पदाधिकारी मंच पर मौजूद हैं। इस दौरान सभा में लोगों से 'हर-हर मोदी, घर-घर मोदी' के नारे भी लगवाए गए।

कार्यक्रम के दौरान मंच से जनसभा को सम्बोधित करते हुए वसुंधरा राजे ने कहा कि टोंक की इस धरती पर खड़ी होकर मैं राजसथान की इस वीर भूमि करे नमन करती हूं। राजस्थान को पूरे देश में वीरों की खान के रूप में जाना जाता है और ये वो धरती है, जिसने जब जब भी देश के लिए बलिदान देने का वक्त आया तो राजस्थान के वीर के पीछे नहीं हटे। राजस्थान के वीरों ने हमेशा देश की रक्षा में जी-जान लगाई है और यहां तक की बलिदान देने से पीछे नहीं हटे। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने देश के हर वर्ग को राहत पदान करने के कार्य किया है। चाहे वो किसान हो, बेरोजगार युवा हो, व्यापारी हो या फिर आम आदमी, हर वर्ग के लिए भाजपा की सरकार ने राहत प्रदान की है। इस दौरान उन्होंने भामाशा​ह योजना, अन्नपूर्णा योजना समेत कई योजनाओं का जिक्र किया, जो आम आदमी के लिए लाभदायक साबित हो रही है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जनसभा को सम्बोधित करने की शुरूआत भारत माता की जय का नारा लगाकर की और कहा कि आप जैसे लाखों—करोड़ों देशवासियों के कारण ही आज भारत पूरी दुनिया में सीना तानकर खड़ा है। आज पूरा देश तो आपके साथ है ही, पूरी दूनिया भारत के साथ है। मुझे अपने वीर जवानों की बहादुरी पर गर्व है, जिन्होंने 100 घंटे के अंदर ही पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड को वहां पहुंचा दिया, जहां उसकी जगह थीं। माता रानी की कृपा से मैं आपको ये विश्वास दिलाता हूं कि इस बार पूरा हिसाब होगा। इंसानियत के दुश्मनों का चुन—चुन कर हिसाब किया जाएगा। दुनियाभर में इनका दाना—पानी बंद होगा, जिसके लिए आपका ये प्रधानसेव​क इसी काम में जुटा है।

आतंक की फैक्ट्री पर ताला लगाने का काम भी मेरे हिस्से :
पीएम मोदी ने ​कहा कि आतंक की इस फैक्ट्री पर ताला लगाने का काम भी अगर मेरे ही हिस्से लिखा है तो ऐसा ही सही। अब आतंक की फैक्ट्री पर निश्चित रूप से ताला लगेगा और ये संकल्प सिर्फ मोदी का नहीं 130 करोड़ देशवासियों का संकल्प है। पुलवामा हमले के बाद आपने भी देखा है कि कैसे इस हमले का एक-एक करके हिसाब लिया जा रहा है। देश में रहते हुए अलगाववाद को हवा देने वाले लोगों पर भी कार्रवाई होती रही है और होती रहेगी। हम आतंक को कुचलना भी जानते हैं, क्योंकि ये नई रीति और नई नीति का भारत है।

सेना को दी पूरी तरह से खुली छूट :
इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि सेना को हमने पूरी तरह से खुली छूठ दे दी है। मैं देख ररहा हूं कि इन दिनों सोशल मीडिया पर वीर रस की बाढ़ आया हुई है। लेकिन मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है, हमारी लड़ाई कश्मीरियों के खिलाफ नहीं है, हमारी लड़ाई कश्मीर के लिए है। आपने देखा होगा कि अमरनाथ यात्रियों की सेवा करने वाला हमारे इस कश्मीर के ये बच्चे बच्चे ही हैं। अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले में घायल होने वाले लोगों की मदद के लिए हमारे कश्मीर के मुस्लिम भाइयों ने ही अहम भूमिका निभाई थी, जिसके लिए मैं उनका ह्रदय से धन्यवाद देता हूं।

कश्मीरी भाइयों ने निभाया वादा :
पीएम मोदी ने कहा कि कश्मीर के लोग भी आतंक से बुरी तरह प्रभावित हैं और आतंक से मुक्ति और आतंक का खात्मा चाहते हैं। कश्मीर में हुए पंचायत के चुनावों में 70—75 प्रतिशत मतदान करके कश्मीर घाटी के लोगों ने आतंक का खात्मा किए जाने का संकेत दिया। मैने कश्मीर घाटी के पंच—सरपंचों से कहा कि घाटी में स्कूल—कॉलेजों में होने वाली आगजनी की घटनाओं को रुकवाए। क्योंकि आतंकवादी जब स्कूल—कॉलेजों को जलाते हैं तो वहां सिर्फ एक ​बिल्डिंग ही नहीं जलती, वहां आपके बच्चों का भविष्य भी जलता है। इसके बाद पिछले दो सालों में हमारे कश्मीरी भाइयों ने एक भी स्कूल—कॉलेज को जलने नहीं दिया है।

पाक प्रधानमंत्री की बात कसौटी पर परखने का वक्त :
पाकिस्तान में जब हालिया नई सरकार बनी थी, तब मैंने उनसे कहा था कि आप तो खेल की दुनिया से राजनीति में आए हो, आओ हम साथ मिलकर अशिक्षा के खिलाफ लड़ते हैं, आतंकवाद के खिलाफ लड़ते हैं, गरीबी के खिलाफ और कुरीतियों के खिलाफ लड़ते हैं। उस वक्त उन्होंने कहा था कि मैं पठान का बच्चा हूं, अपनी बात से कभी नहीं पलटुंगा, लेकिन आज उनकी उस बात को कसौटी पर परखने का वक्त है और मैं देखता हूं कि वे अपनी बात पर कितना खरा उतरते हैं। आतं​कवाद को पनाह देने वाले लोग न इन्सान के हैं और न ही किसानों के होते हैं।

राजस्थानी जुबान दे देते हैं तो मुकरते नहीं :
इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि ये राजस्थान की धरती है, जहां के लोग एक बार जुबान दे देते हैं तो उसके लिए भले ही अपनी जिंदगी दे देते हैं, लेकिन अपनी जुबान से मुकरते नहीं हैं। हमारी सरकार ने बजट में ऐसी योजना बनाई है, जिसकी अगर कांग्रेस की योजना से तुलना करें तो उनकी योजना से करीब 20 प्रतिशत किसानों को लाभ मिलेगा, लेकिन हमारी योजना से 90 प्रतिशत से भी ज्यादा किसानों को फायदा होगा। अब कामधेनू योजना भी बनाई जा रही है, जो गायों के रक्षा के लिए कार्य करेगी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in