यूपी और उत्तराखंड में जहरीली शराब का कहर, अब तक 82 की मौत

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/09 12:05

लखनऊ। शराब अब इस मॉर्डन दुनिया का हिस्सा बन गई है यह अब हमारी कल्चर बन चुकी है। लेकिन ये आपके स्वास्थ के लिए कितनी हानिकारक है ये भी जान लिजिए। शराब पीने से उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में शुक्रवार से आज तक यानि दो दिनों में 82 से अधिक मौत हो चुकी है। राज्यों में ज़हरीली शराब ने कई परिवारों को बेघर कर दिया वहीं कई बच्चों को अनाथ बना दिया। उत्तराखंड के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (ADGP) अशोक कुमार ने बताया कि गुरुवार शाम झबरेड़ा क्षेत्र में स्थित बालूपुर गांव में एक मृतक की तेरहवीं में अवैध शराब परोसी गई जिसके बाद लोगों की तबीयत खराब हो गई। उत्तराखंड के बालूपुर गांव में 16 लोगों की मौत हो गई। 

बतादें, इस मामले में जिला आबकारी अधिकारी, 2 आबकारी निरीक्षक, 2 आबकारी सिपाही और 3 पुलिस उपनिरीक्षकों और 6 सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है। सहारनपुर के जिलाधिकारी आलोक पांडे ने कहा, 'अब तक मरने वालों की संख्या 18 है। 42 लोग अभी भी अस्पताल में उपचाराधीन हैं।' 
इसके अलावा कुशीनगर में भी जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 11 हो गई है। बांदा सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में छापे मारे गए हैं जहां बड़ी मात्रा में अवैध शराब जब्त की गई।

उत्तराखंड के आबकारी और वित्तमंत्री प्रकाश पंत ने घटना की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए हैं। घटना उस समय घटी, जब देहरादून के बालापुर गांव में तेरहवीं के भोज के समय कई लोग एकत्रित हुए और शराब पीने के बाद लोग उल्टी करने लगे। इसके बाद उन्हें हरिद्वार में पास एक अस्पाल में भर्ती कराया गया। उत्तराखंड के राज्यपाल बेबी रानी मौर्य और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in