युवक का पुलिस पर बर्बरतापूर्ण पिटाई का आरोप, समाज के लोगों ने दिया ज्ञापन

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/03/24 04:11

शाहपुरा(भीलवाड़ा)। जिले के शाहपुरा में चल रहे फूलडोल महोत्सव के दौरान एक युवक ने पुलिस पर उसके साथ बर्बरतापूर्ण तरीके से मारपीट करने, अभ्रदता कर अपमानित करने व अकारण रात भर लॉकअप में रखने का आरोप लगाया है। राजपूत समाज के लोगों ने रविवार को प्रदर्शन कर दोषी पुलिस कार्मिकों को निलबिंत करने की मांग को लेकर एएसपी को ज्ञापन सौंपा है। युवक ने शाहपुरा थाने के दीवान जगदीश व कांस्टेबल उमेश मीणा सहित पांच जनों के खिलाफ रिपेार्ट थाने में देकर उनको निलबिंत करने की मांग की है। युवक के समर्थन में राजपूत समाज के लोगों ने रविवार को शाहपुरा में प्रदर्शन कर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देकर मामले की जांच करने, दोषियों को निलबिंत करने की मांग की है, ऐसा न होने पर आंदोलन करने की धमकी दी है। 

मूहलां निवासी हेमेंद्र सिंह पुत्र भंवरसिंह कानावत ने बताया कि 22 मार्च को रात्रि में 11.30 बजे वो अपने मित्रों के साथ फूलडोल मेले में घुम रहे थे। उसके साथ चंद्रशेखर सिंह सौदा भी थे। बस स्टेंड के पास बाइक को खड़ी करने के लिए वो रूका तो पुलिस चैकी के दीवान जगदीश ने अकारण उसके साथ गाली गलौच की। बात अनसुनी कर वो अपने मित्र को छोड़कर वापस बस स्टेंड से गुजर रहा था तो दीवान जगदीश पुलिस गाड़ी में चार पांच अन्य जवानों के साथ आया और उसके पान खाने के दौरान उसको पकड़ कर सभी ने अभ्रदता करते हुए जातिगत गालियां दी। उसके साथ मारपीट करते हुए उसे घसीट कर थाने ले जाया गया तथा वहां पर बर्बरता पूर्ण कार्रवाई करते हुए सभी ने लाठी, डंडे व पुलिस बेल्ट से उसकी फिर से पिटाई करते हुए उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया। उसके शरीर पर गंभीर चोट आने के बाद भी उसे मेडिकल सुविधा नहीं दी गई। रात भर जबरन लॉकअप में रखा गया तथा राजपूत समाज के लोगों के आकर थाने में अधिकारियों को वास्तविक स्थिति बताने पर उसे नहीं छोड़ा गया।

युवक ने आरोप लगाया कि उसके साथ बर्बरता पूर्ण मारपीट के बाद उसे धमकाया गया कि उसने कोई भी कार्रवाई करने की चेष्टा की तो उसको राजकार्य के मामले में फंसा दिया जायेगा।

इस मामले को लेकर राजपूत समाज के लोगों में गहरा आक्रोश व्याप्त हो गया तथा रविवार को मेवाड़ क्षत्रिय महासभा के उपाध्यक्ष गोर्वधनसिंह राणावत की अगुवाई में शाहपुरा में प्रदर्शन करके अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक व सीआई को ज्ञापन देकर मामले के संबंध में कार्रवाई करने को कहा गया। युवक हेमेंद्र सिंह को सेटेलाइट चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है जहां उसका उपचार चल रहा है। समाज के लोगों ने अपनी भावनाओं को पुलिस अधीक्षक के साथ पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल तक पहुंचाया है। समाज ने कहा कि दोनो पुलिस कार्मिकों को निलबिंत नहीं किया गया तो आंदोलन किया जायेगा।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in