Live News »

VIDEO: उदयपुर में फर्जी कॉल सेंटर पर पुलिस की छापामार कार्रवाई, विदेशी लोगों से कर रहे थे ठगी

VIDEO:  उदयपुर में फर्जी कॉल सेंटर पर पुलिस की छापामार कार्रवाई, विदेशी लोगों से कर रहे थे ठगी

उदयपुर: लुभावनी स्कीमों के माध्यम से विदेशी लोगों से ठगी कर रहे दो फर्जी कॉल सेंटर पर आज उदयपुर पुलिस नें छापेमारी की कार्यवाही की. शहर के गोर्वधनविलास और हाथीपोल थाना इलाको में संचालित हो रहे इन फर्जी कॉल सेंटर्स पर छापे के दौरान पुलिस नें 2 युवतियों सहित कुल 34 लोगों को गिरफ्तार किया. पुलिस ने इन कॉल सेंटर्स से करीब दो दर्जन से ज्यादा लैपटॉप,15 से 20 डेस्कटॉप,इंटरनेट मॉडम और कुछ नगदी सहित अन्य सामान बरामद किया हैं जिसका अपयोग ठगी के इस काले काम में किया जा रहा था.

गिरफ्तार किये गये अधिकांश आरोपी गजरात के निवासी: 
पुलिस अधीक्षक कैलाश बिश्नोई नें बताया कि कॉल सेंटर्स के गिरोह का सरगना संकेत हद्धय भी गिरफ्तार हुआ हैं जो मूलत गुजरात का रहने वाला हैं. यही नहीं पुलिस द्धारा गिरफ्तार किये गये इन आरोपियों में से अधिकांश गुजरात निवासी ही हैं. अब उदयपुर  पुलिस इस पूरे मामले में तकनीकी अनुसंधान करते हुये ठगी का शिकार हुये विदेशियों से भी संपर्क करने की कोशिश कर रही हैं. 

और पढ़ें

Most Related Stories

उदयपुर में कलयुगी पिता ने किया रिश्तों को तार-तार, 7 वर्षीय पुत्री को बनाया हवस का शिकार

उदयपुर में कलयुगी पिता ने किया रिश्तों को तार-तार, 7 वर्षीय पुत्री को बनाया हवस का शिकार

उदयपुर: प्रदेश के उदयपुर के गोवर्धनविलास थाना इलाके में सोमवार को रिश्तों को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. जहां एक कलयुगी पिता ने अपनी 7 साल की मासूम बेटी को हवस का शिकार बनाते हुए उसके साथ दुष्कर्म किया. 

आयकर विभाग की छापेमारी में नया अपडेट ! कुल 42 ठिकानों पर हो रही आयकर छापे और सर्वे की कार्रवाई 

मासूम को लहूलुहान हालत में छोड़कर हुआ फरार:
बताया जा रहा है कि आरोपी की पत्नी पिछले एक महीने से अपने पीहर रह रही थी. आरोपी पिता रात को अपने ससुराल गया और फिर अपनी बेटी को लेकर बाहर निकल गया. रात करीब 1 बजे जब वह अपने बेटी को वहां छोड़ कर चला गया.

मासूम का अस्पताल में उपचार जारी:
इस दौरान मासूम रो रही थी और उसके कपड़ो पर खून लगा हुआ था. उसने अपने साथ हुई इस हरकत के बारे में मां को बताया. इसके बाद पीड़िता की माँ अपनी बेटी को लेकर गोवर्धनविलास थाने पहुंची. पुलिस ने मामला दर्ज कर शीघ्र कार्रवाई करते हुए आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है. वही मासूम का अस्पताल में उपचार जारी है.

कांग्रेस विधायक दानिश अबरार बोले, सरकार के पास बहुमत से ज्यादा नंबर हैं

जयपुर ACB की उदयपुर में बड़ी कार्रवाई, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट का फाइनेंशियल एडवाइजर 2 लाख की रिश्वत लेते ट्रैप

जयपुर ACB की उदयपुर में बड़ी कार्रवाई, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट का फाइनेंशियल एडवाइजर 2 लाख की रिश्वत लेते ट्रैप

उदयपुर: जयपुर एसीबी की टीम नें आज एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए उदयपुर स्मार्ट सिटी कंपनी लिमिटेड में कार्यरत वित्तीय सलाहकार आबिद खान और उनके एक दलाल को 2 लाख रुपये की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों ट्रेप कर लिया. दरअसल, एसीबी के एडीजी दिनेश एम. एन को उदयपुर के रहने वाले परिवादी प्रवीण नें शिकायत दी थी कि स्मार्ट सिटी कंपनी लिमिटेड उदयपुर का वित्तीय सलाहकार आबिद खान स्मार्ट सिटी कार्यों के बिलों को पास करने की एवज में 3 लाख रुपयें की रिश्वत मांग रहा हैं. 

विधायक अनिता भदेल कोरोना पॉजिटिव, 2 दिन पहले आयीं थीं भाजपा प्रदेश कार्यालय 

आरोपी ने कल 1 लाख रुपये की राशी ग्रहण कर ली थी: 
एसीबी की टीम द्धारा शिकायत के सत्यापन के दौरान आरोपी आबिद खान नें परिवादी से कल 1 लाख रुपये की राशी ग्रहण कर ली थी. जिसके बाद आज रिश्वत की शेष 2 लाख रुपये की राशि लेते आरोपी आबिद खान को एसीबी की टीम नें घर दबोचा. एसीबी की टीम फिलहाल आरोपी आबिद खान औऱ उसके दलाल से कड़ी पूछताछ कर रही हैं. यही नहीं ब्यूरो की टीम इस पूरे घटनाक्रम में शामिल अन्य लोगों से भी पड़ताल करेगी. 

राज्यसभा चुनाव के बाद परवान चढ़ती आरोप-प्रत्यारोप की पॉलिटिक्स, अब मुख्यमंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का आरोप 

जयपुर ACB की उदयपुर में बड़ी कार्रवाई, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट का फाइनेंशियल एडवाइजर ट्रैप

जयपुर ACB की उदयपुर में बड़ी कार्रवाई, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट का फाइनेंशियल एडवाइजर ट्रैप

जयपुर: रिश्वतखोर अधिकारियों और कर्मचारियों पर लगाम लगाने के लिए भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की टीमें लगातार कार्रवाई कर रही है. एसीबी की टीम प्रदेश में लगातार रिश्वतखोरों को ट्रैप कर रही है. अब ताजा मामला उदयपुर का है. जहां पर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की जयपुर टीम ने बड़ी कार्रवाई की है. 

VIDEO: आबकारी विभाग का स्पेशल ऑपरेशन, अवैध शराब के काले कारोबार पर कसा शिकंजा

2 लाख रुपए की रिश्वत लेते ट्रैप:
जयपुर एसीबी की टीम ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट का फाइनेंशियल एडवाइजर को ट्रैप किया गया है. आरोपी आबिद खान 2 लाख की रिश्वत लेते ट्रैप किए गए है. साथ ही एसीबी टीम ने कार्रवाई करते हुए दलाल आरिफ को भी दबोच लिया है. इन्होंने बिल पास करने की एवज में रिश्वत मांगी थी. यह कार्रवाई DG आलोक त्रिपाठी, ADG दिनेश एमएन के निर्देश पर हुई. 

HARYANA : सीएम मनोहर लाल खट्टर ने की पीएम मोदी से मुलाकात, कई अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

मेवाड़ को मुख्यमंत्री गहलोत की सौगातें, सीएम आवास से हुआ लोकार्पण

मेवाड़ को मुख्यमंत्री गहलोत की सौगातें, सीएम आवास से हुआ लोकार्पण

उदयपुर: प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज उदयपुर के बाशिंदों को बड़ी सौगात दी. मुख्यमंत्री गहलोत नें आज जयपुर स्थित सीएम निवास से वीसी के माध्यम से  उदयपुर में दो भवनों का लोकार्पण किया. दी उदयपुर सेंट्रल को ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड के नवनिर्मित प्रधान कार्यालय और शाखा भवन का मुख्यमंत्री नें वीसी के माध्यम से ई लोकार्पण किया. इसके अलावा मुख्यमंत्री गहलोत नें चित्तौड़गढ़ जिले के चंदेरिया में बने  सहकार भवन का भी लोकार्पण किया. 

Rajasthan Corona Updates: अस्पताल की दूसरी मंजिल से छलांग लगाने पर कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत, लगातार बढ़ रही संक्रमितों की संख्या 

3 करोड़ 18 लाख रुपए की लागत से बने भवन: 
उदयपुर में बने 3 करोड़ 18 लाख रुपए की लागत से बनें इन भवनों के लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान प्रदेश के सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना और सहकारिता राज्यमंत्री  टीकाराम जूली भी मौजूद रहे. शहर के प्रतापनगर इलाके में बनें दी उदयपुर सेंट्रल को ऑपरेटिव बैंक के प्रधान कार्यालय के लोकार्पण के दौरान संभागीय आयुक्त विकास भालें, पुलिस अधीक्षक कैलाश विश्नोंई, देहात कांग्रेस अध्यक्ष लालसिंह झाला सहित कांग्रेस के कई पदाधिकारी मौजूद रहे. 

केंद्रीय गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, राजीव गांधी फाउंडेशन के लेनदेन की होगी जांच 

किसानों की आर्थिक प्रगति का राह मजबूत करने की बात कही: 
इस मौके पर मुख्यमंत्री गहलोत नें तमाम अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए सहकारिता के माध्यम सें किसानों की आर्थिक प्रगति का राह मजबूत करने की बात कही. इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए केन्द्रीय सहकारी बैंक के प्रबंध निदेशक आलोक चौधरी नें साफ किया कि इन भवनों के मिलने से किसानों के सहकारिता से जुडे कार्यो में और तेजी आएगी. 

शराब के नशे में बंदूक से फायर कर पत्नी की हत्या, 10 लाख में तय हुआ मौताणा

शराब के नशे में बंदूक से फायर कर पत्नी की हत्या, 10 लाख में तय हुआ मौताणा

उदयपुर: जिले के कोटड़ा थाना क्षेत्र के खाखरिया ग्राम पंचायत के कुंडाल गांव मे बीती रात्रि शराब के नशे में पति ने बंदूक से फायर कर पत्नी की हत्या कर दी. हत्या के बाद आरोपी फरार हो गया. थानाधिकारी धनपत सिंह ने बताया कि मृतका रजका उर्फ मेवा पत्नी कानिया उम्र 30 वर्ष जाति लऊर निवासी कुंडाल सोमवार रात्रि करीबन 12 बजे शराब के नशे में पत्नी से आपसी विवाद को लेकर कानिया ने अपनी पत्नी मेवा पर घर मे रखी बंदूक से फायर कर दिया. गोली मृतका के छाती में लगने से उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया.

VIDEO: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दी चिकित्सा जगत को बड़ी सौगात, 108 भवनों का किया शिलान्यास 

आरोपी कानिया लऊर रात्रि में ही फरार हो गया:
वहीं वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी कानिया लऊर रात्रि में ही फरार हो गया. बताया जा रहा है कि मृतका मेवा के 5 बच्चें है. जो घटना के वक्त घर मे ही मौजूद थे. ग्रामीणों द्वारा घटना की जानकारी मिलते ही कोटड़ा थानाधिकारी धनपत सिंह अप्रिय घटना को रोकने हेतु मय जाब्ता घटना स्थल पर पहुंचे. 

कोरोनिल विवाद पर बाबा रामदेव की सफाई, कहा- हमने क्लीनिकल ट्रायल नियमों का पालन किया 

10 लाख में तय हुआ मौताणा, मौके पर दिए 50 हजार: 
घटना की जानकारी मिलने के बाद सुबह मृतका का पीहर पक्ष गुजरात (मथारा) से घटना स्थल कुंडाल गांव पहुंचे जहां ग्रामीणों एवं पंच मौतबीर लोगों की मौजूदगी में सामाजिक स्तर पर आपसी सहमति से पीहर पक्ष ने 10 लाख रुपए मौताणा तय किया गया और अंतिम संस्कार (झाल) की राशि 50 हजार रुपए मौके पर लेने के बाद शव का कोटड़ा सीएचसी में पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया. 

मामूली कहासुनी पर दम्पति ने की आत्महत्या

मामूली कहासुनी पर दम्पति ने की आत्महत्या

उदयपुर: जिले के झाड़ोल थाना क्षेत्र के देवास में आज एक दम्पति ने फांसी के फंदे से लटक कर आत्महत्या कर ली. सुबह दम्पति के बीच मामूली सी बात को लेकर कहासुनी हो गई. आवेश में आकर पत्नी ने फांसी पर लटक कर आत्महत्या कर ली, डर के मारे पति भी फंदे से लटक गया.

VIDEO: SMS अस्पताल के चिकित्सकों ने फिर किया कमाल ! 4 घंटे के सफल ऑपरेशन के बाद एक बच्ची को अपंग होने से बचाया 

मौके पर पहुंची और शवों को उतारकर मोर्चरी पहुंचाया: 
इधर परिजनों की सूचना पर झाड़ोल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को उतारकर मोर्चरी पहुंचाया. पुलिस ने डोड़ावली स्तिथ विवाहिता के पीहर पक्ष को सूचना दी. पीहर पक्ष के आने के बाद ही शवो का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा. बताया जा रहा है कि युवक ने दो वर्ष पूर्व ही युवती से प्रेम विवाह किया था जिसकी सुलह नहीं होने से युवती का पीहर पक्ष नाराज ही चल रहा था कि ये घटनाक्रम हो गया. 

ऋणी किसानों के लिए फसल बीमा योजना स्वैच्छिक 

उदयपुर में ACB की कार्रवाई, हैड कांस्टेबल को साढ़े 3 हजार की रिश्वत लेते किया ट्रेप

उदयपुर में ACB की कार्रवाई, हैड कांस्टेबल को साढ़े 3 हजार की रिश्वत लेते किया ट्रेप

उदयपुर: राजस्थान के उदयपुर जिले में एसीबी की टीम ने शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन एक बड़ी कार्यवाही को अंजाम देते हुए जिले के सायरा थाने पर तैनात हेड कांस्टेबल को  3500 रुपए की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया है.

शायर अली हैं आरोपी हैड कांस्टेबल का नाम:
दरअसल थाने पर तैनात हेड कांस्टेबल शायर अली ने दो लोगों से एफआईआर में मुलजिमो के नाम हटाने और मदद करने की एवज में 4000 रुपए रिश्वत की मांग की थी. जिस पर सौदा तय होने पर 500 रुपए आरोपी हेड कांस्टेबल ने परिवादीयों से कल ही ले लिए थे. 

कांग्रेस का शहीदों के सम्मान में कार्यक्रम, शहीद स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित

रिश्वत की राशि लेते रंगे हाथों किया ट्रैप:
इसकी शिकायत पीड़ित परिवादियों ने एसीबी को दी. जिसके बाद एसीबी के एएसपी सुधीर जोशी के नेतृत्व में टीम ने मामले का सत्यापन करने के बाद शुक्रवार को आरोपी हेड कांस्टेबल को रिश्वत की राशि लेते रंगे हाथों ट्रैप कर लिया.

200 और मार्गों पर चलेंगी राजस्थान रोडवेज की बसें, गुजरात के लिए भी शुरू होगी बस सेवा

उदयपुर ACB की चित्तौड़गढ़ में बड़ी कार्रवाई, रिश्वत लेते गंगरार BDO रूप सिंह को किया ट्रेप

उदयपुर: प्रदेश के उदयपुर जिले में एसीबी की टीम ने गुरुवार को एक बड़ी कार्यवाही को अंजाम देते हुए चित्तौड़गढ़ के गंगरार में तैनात बीडीओ को 50000 रुपए की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों ट्रैप कर लिया.

राजेन्द्र गढ़वाल हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, चूरू के राजगढ़ में गोली मारकर की थी हत्या

पच्चास हजार रुपए में सौदा हुआ तय:
दरअसल गंगरार में तैनात बीडीओ रूप सिंह गुर्जर ने अपने कार्यालय में संविदा पर कार्यरत एक तकनीकी सहायक से स्थानांतरण रोकने और अन्य कार्यों में मदद करने के एवज में एक लाख रुपए की रिश्वत की मांग की थी, जिस पर सौदा 50000 रुपए तय हुआ.

आरोपी के घर पर एसीबी का सर्च अभियान:
परिवादी ने इस मामले की सूचना उदयपुर एसीबी टीम को दी, जिस पर एसीबी की टीम ने आज कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. फिलहाल एसीबी की टीम आरोपी के घर पर सर्च कर रही हैं.

12वीं की परीक्षा देने आई छात्रा का अपहरण,गाड़ी में सवार होकर आए थे अपहरणकर्ता

Open Covid-19