किंग्सटन जमैका में प्रवासी भारतीयों से राष्ट्रपति कोविंद ने कहा- भारत की आत्म-निर्भरता की खोज का अर्थ ‘अलगाव’ नहीं

जमैका में प्रवासी भारतीयों से राष्ट्रपति कोविंद ने कहा- भारत की आत्म-निर्भरता की खोज का अर्थ ‘अलगाव’ नहीं

जमैका में प्रवासी भारतीयों से राष्ट्रपति कोविंद ने कहा- भारत की आत्म-निर्भरता की खोज का अर्थ ‘अलगाव’ नहीं

किंग्सटन: President RamNath Kovind ने यहां कहा कि भारत एक “बदलाव के मार्ग” पर चल रहा है और “आत्मनिर्भरता” की उसकी तलाश का अर्थ “अलगाव” नहीं, बल्कि ऐसी क्षमताओं का निर्माण करना है जो पूरी मानवता की मदद कर सकें. उन्होंने कैरेबियाई देश में भारतीय मूल के लोगों से आग्रह किया कि वे सरकार की नीतियों का लाभ उठाएं और देश की विकास गाथा का हिस्सा बनें.

इस द्वीपीय देश का दौरा करने वाले पहले भारतीय President कोविंद ने जमैका में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि नया भारत सभी को अपनी प्रगति और समृद्धि का हिस्सा बनने के अपार अवसर प्रदान करता है. उन्होंने कहा कि हम इस नए भारत के लिए आपका समर्थन चाहते हैं जो प्रगति और समृद्धि के साथ लाखों घरों को रोशन करने का वादा करता है. एक ऐसा भारत जो हर किसी की परवाह करता है. कोविंद ने कहा कि भारत बदलाव के पथ पर है. ‘आत्मनिर्भर भारत’ पहल भारत सरकार द्वारा उठाया गया बड़ा कदम है.

भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से पटरी पर लौट रही है:

उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भरता के लिए भारत की खोज का मतलब अलगाव नहीं है. वह उन क्षमताओं का निर्माण करना चाहता है जो ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ की सच्ची भावना में पूरी मानवता की मदद कर सकें. उन्होंने ‘आत्मनिर्भर भारत’ नीति की कुछ देशों में हो रही आलोचनाओं को रेखांकित करते हुए उपरोक्त बात कही. President ने कहा कि कोविड-19 महामारी की अड़चनों के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से पटरी पर लौट रही है. अपनी तीव्र गति वाली वृद्धि के लिए हम नई अवसंरचनाएं बना रहे हैं.

भौगोलिक दूरी सहित बाधाओं के बावजूद दोनों देशों के बीच आर्थिक और वाणिज्यिक संपर्क लगातार बढ़ रहा: 

President ने कहा कि हम डिजिटल अर्थव्यवस्था, नई प्रौद्योगिकियों, जलवायु परिवर्तन से संबंधित कार्रवाई और ज्ञानपूर्ण समाज के विकास के क्षेत्रों में नेतृत्व करने का प्रयास कर रहे हैं. कोविंद ने कहा कि भारत और जमैका साझा लोकतांत्रिक मूल्यों, इतिहास के सामान्य संबंधों, राष्ट्रमंडल में सदस्यता, अंग्रेजी भाषा के उपयोग और क्रिकेट के प्यार के आधार पर सौहार्दपूर्ण और मैत्रीपूर्ण संबंधों का आनंद लेते हैं. उन्होंने कहा कि भौगोलिक दूरी सहित बाधाओं के बावजूद दोनों देशों के बीच आर्थिक और वाणिज्यिक संपर्क लगातार बढ़ रहा है.

दो देशों की यात्रा के पहले चरण में रविवार को जमैका पहुंचे थे: 

उन्होंने कहा कि व्यापार और निवेश में वृद्धि की हालांकि काफी संभावनाएं हैं. विकासशील देश और विभिन्न बहुपक्षीय मंचों के सदस्य होने के नाते, हम आर्थिक विकास, गरीबी उन्मूलन, लोगों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार और समानता को बढ़ावा देने के लिए समान चिंताओं और समान आकांक्षाओं को साझा करते हैं. President RamNath Kovind दो देशों की यात्रा के पहले चरण में रविवार को जमैका पहुंचे थे और यहां 18 मई तक रुकेंगे. इसके बाद वह सेंट विंसेंट और ग्रेनेडाइंस जाएंगे. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें