जयपुर VIDEO: जयपुर एयरपोर्ट पर यात्रियों के सामने आ रही परेशानी, बोर्डिंग के 20 मिनट बीत रहे गर्मी और उमस में, देखिए ये खास रिपोर्ट

VIDEO: जयपुर एयरपोर्ट पर यात्रियों के सामने आ रही परेशानी, बोर्डिंग के 20 मिनट बीत रहे गर्मी और उमस में, देखिए ये खास रिपोर्ट

जयपुर: जयपुर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर हवाई यात्रियों के लिए छोटे विमानों से हवाई सफर करना परेशानी का कारण बना हुआ है. विमान में बैठने के दौरान एसी नहीं चलाया जाता. करीब 15 से 20 मिनट में जब तक सभी यात्रियों की बोर्डिंग कम्पलीट नहीं हो जाती, एसी नहीं चलाया जाता. आखिर क्यों विमानों में आ रही है यह समस्या, क्या एयरलाइन खर्च बचाने के लिए ऐसा कर रही हैं. 

जयपुर एयरपोर्ट पर इन दिनों कुछ यात्री विमान में सवार होते समय एसी नहीं चलने की शिकायत कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर अक्सर यात्री इस समस्या को लिखते हैं. विमान में बैठते समय एसी नहीं चलने की समस्या छोटे विमानों में देखने को मिल रही है. दरअसल यह समस्या एयरबस और बोइंग के बड़े विमानों के साथ नहीं है. लेकिन एटीआर और क्यू-400 श्रेणी के छोटे विमानों में एसी बंद होने की शिकायतें सामने आ रही हैं. आपको बता दें कि जयपुर एयरपोर्ट पर तीन एयरलाइंस द्वारा छोटे विमान संचालित किए जा रहे हैं. इंडिगो, स्पाइसजेट और अलायंस एयर द्वारा छोटे विमान संचालित होते हैं. इन तीनों एयरलाइंस के विमानों में इन दिनों यात्रियों को यह परेशानी झेलनी पड़ रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक यात्रियों को यह परेशानी विमान के रनवे पर जाने तक बनी रहती है. दरअसल विमान के जयपुर पहुंचने पर यात्रियों के डिबोर्ड होने और दुबारा बोर्डिंग के बीच में करीब 20 से 30 मिनट का समय रखा जाता है. यात्री जब विमान में सवार हो रहे होते हैं, तो एसी काम नहीं करता. इस दौरान अंदर बैठ रहे यात्री उमस और गर्मी से परेशान रहते हैं. सभी यात्रियों के विमान में सवार होने के बाद गेट बंद होने और विमान के पुश बैक होने पर ही एसी काम करता है. 

किन विमानों में है यह परेशानी

- इंडिगो और अलायंस एयर के एटीआर विमानों में परेशानी

- इंडिगो व अलायंस एयर चलाती हैं एटीआर-72 विमान

- एटीआर विमान में 70 से 78 यात्री एक साथ कर सकते यात्रा

- स्पाइसजेट एयरलाइन क्यू-400 विमानों का करती है संचालन

- क्यू-400 विमान में 80 से 90 यात्री कर सकते हैं यात्रा

- ऐसा नहीं है कि सभी विमानों में हर बार एसी बंद रहता है

- लेकिन कई बार विमानों में एपीयू नहीं होने से एसी रहता है बंद

- ऐसी स्थिति में विमानों में ग्राउंड पॉवर यूनिट से चलाया जाता है एसी

- लेकिन यदि जीपीयू भी नहीं मिले, ऐसी स्थिति में परेशान होते हैं यात्री

- ऐसी स्थिति में विमान के इंजन चालू होने पर ही चलता है एसी

- जीपीयू नहीं मिलने पर 20 से 30 मिनट तक यात्रियों को होती है परेशानी 

जयपुर एयरपोर्ट पर छोटे विमानों से करीब डेढ़ दर्जन फ्लाइट्स का संचालन किया जाता है. इंडिगो एयरलाइन द्वारा नजदीकी शहरों के लिए एटीआर विमान उपयोग में लिए जाते हैं. स्पाइसजेट एयरलाइन द्वारा तो मुम्बई और गुवाहाटी को छोड़ दें तो लगभग सभी रूटों पर क्यू-400 विमान ही चलाए जाते हैं. वहीं अलायंस एयर दिल्ली रूट पर इन विमानों को संचालित करती है. इस तरह रोजाना तीनों एयरलाइंस द्वारा करीब डेढ़ दर्जन फ्लाइट छोटे विमानों के जरिए संचालित की जाती हैं. 

किन शहरों के लिए यात्रियों को आ रही परेशानी

- इंडिगो की एटीआर विमान से संचालित उड़ानों में परेशानी

- इंडिगो की दिल्ली, लखनऊ, चंडीगढ़, इंदौर, देहरादून के लिए फ्लाइट में परेशानी

- अलायंस एयर की जयपुर से दिल्ली की 2 फ्लाइट्स में परेशानी

- स्पाइसजेट की पुणे, अहमदाबाद, दिल्ली, धर्मशाला, देहरादून, सूरत, वाराणसी, अमृतसर की फ्लाइट्स में परेशानी.

और पढ़ें