Live News »

पाकिस्तान के ननकाना साहिब में गुरुद्वारे पर पथराव के खिलाफ दिल्ली में प्रदर्शन

पाकिस्तान के ननकाना साहिब में गुरुद्वारे पर पथराव के खिलाफ दिल्ली में प्रदर्शन

नई दिल्ली: पाकिस्तान में ननकाना साहिब गुरुद्वारा पर शुक्रवार को बड़ा हमला हुआ. भीड़ ने ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पथराव किया. साथ ही ननकाना साहिब गुरुद्वारे का नाम बदलने और सिखों को वहां से भगाने के नारे भी लगाए. वहीं आज इस घटना के खिलाफ दिल्ली में प्रदर्शन किया गया. अकाली दल और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने विरोध प्रदर्शन किया है. 

भारत ने पाकिस्तान स्थित ननकाना साहिब गुरुद्वारा पर हमले और तोड़फोड़ की कड़ी निंदा की है. साथ ही पाकिस्तान से सिख समुदाय की सुरक्षा के लिए जल्द से जल्द कदम उठाने को कहा है. विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा, 'हम ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हमले और तोड़फोड़ की घटना से चिंतित हैं. बता दें कि भीड़ का नेतृत्व पिछले साल ननकाना साहिब की एक सिख लड़की जगजीत कौर को अगवा करने और जबरन धर्मांतरण कर निकाह करने के आरोपी मोहम्मद हसन का परिवार कर रहा था. मोहम्मद हसन के भाई ने कहा कि सिखों ने जगजीत कौर को वापस भेजने के लिए दवाब डाला, लेकिन यह कभी नहीं होगा, क्योंकि वह अब मुस्लिम बन चुकी है. 

और पढ़ें

Most Related Stories

Rajasthan Corona Update: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, लैटर में लिखी यह प्रमुख बात

Rajasthan Corona Update: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, लैटर में लिखी यह प्रमुख बात

जयपुर: लॉकडाउन के चलते प्रदेश की आर्थिक हालत को लेकर सीएम गहलोत चिंतित है. इसी के चलते मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि राज्यों को मजबूत करने के लिए केंद्र अत्यावश्यक कदम उठाए, राजस्व में भारी गिरावट की वजह से राज्यों की वित्तीय स्थिति तेजी से बिगड़ रही है. सीएम गहलोत ने कहा कि राज्यों के भुगतान का पुनर्निधारण करते हुए ब्याज मुक्त आधार पर कम से कम 3 माह का मोरेटोरियम उपलब्ध कराए. साथ ही भारत सरकार के स्तर पर ऋण लेकर राज्यों के विकास के लिए उपलब्ध करवाया जाए. 

अगले कुछ सप्ताह के लिए हमार व्यवहार ही तय करेगा कोरोना वायरस की अगली दशा—मुख्य न्यायाधीश 

मनरेगा के मजदूरों को अग्रिम भुगतान का किया आग्रह:
पत्र में सीएम गहलोत ने मनरेगा के तहत पंजीकृत और सक्रिय मजदूरों को 21 दिन के अग्रिम वेतन भुगतान पर विचार करने का भी आग्रह किया और सुझाव दिया कि अग्रिम भुगतान को मनरेगा साइट पर काम शुरू होने के बाद मजदूरों द्वारा किये जाने वाले काम समयोजित किया जा सकता है. इसके अलावा ठेले एवं रेहड़ी चलाने वाले, पंजीकृत निर्माण श्रमिक और कारखानों में काम करने वाले श्रमिक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के दायरे में नहीं आते हैं. ऐसे में उन्हे भी एनएफएसए लाभार्थियों के समान अनाज उपलब्ध करवाने की व्यवस्था पर विचार किया जाना चाहिए.

पारदर्शी अंतर्राज्यीय आपूर्ति श्रंखला प्रोटोकोल लागू हो:
वहीं सीएम गहलोत ने मांग करते पत्र में लिखा कि केन्द्र सरकार को आवश्यक वस्तुओं की आवाजाही के लिए स्पष्ट एवं पारदर्शी अंतर्राज्यीय आपूर्ति श्रंखला प्रोटोकोल लागू करना चाहिए. विभिन्न राज्यों में दूसरे राज्यों से आए मजदूर फंसे हुए हैं.

वेंटिलेटर का उचित प्रमाणिकरण कर उसका मूल्य निर्धारण किया जाए:
इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने COVID19 के प्रसार की सटीक जानकारी प्राप्त करने हेतु केन्द्र से परीक्षण सुविधा में तेजी से वृद्धि करने, डॉक्टरों, चिकित्सा कर्मचारियों हेतु व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण, टेस्टिंग किट का युद्ध स्तर पर आयात कर कोरोना संक्रमित रोगियों की संख्या के आधार पर इसका वितरण करने का आग्रह किया. सीएम ने मांग करते हुए पत्र में लिखा कि केन्द्र सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा वेंटिलेटर का उचित प्रमाणिकरण कर उसका मूल्य निर्धारण किया जाए ताकि बाजार में आए कम लागत वाले प्रभावी वेंटिलेटर्स की खरीद में आसानी हो.

संघवाद के मूल्यों को मजबूत करने के लिए पीएम को धन्यवाद दिया:
इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने राज्य सरकारों को भरोसे में लेकर संघवाद के मूल्यों को मजबूत करने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद भी ज्ञापित किया. सीएम गहलोत ने पत्र में लिखा कि COVID19 महामारी से समन्वित एवं ऊर्जावान तरीके से निपटने के लिए संघवाद की भावना की आवश्यकता है.

मोदी कैबिनेट का अहम फैसला, सभी सांसदों के वेतन में एक वर्ष तक होगी 30 प्रतिशत कटौती

राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 300 के करीब:
प्रदेश में कोरोना वायरस का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 300 के करीब पहुंचने वाली है. वहीं प्रदेश की राजधानी जयपुर की बात करें तो यहां पर मरीजों की संख्या 100 पहुंच गई है. जयपुर में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आये है. सोमवार को जयपुर में सबसे ज्यादा 8 नए कोरोना के मामले सामने आए है. 
 

मोदी कैबिनेट का अहम फैसला, सभी सांसदों के वेतन में एक वर्ष तक होगी 30 प्रतिशत कटौती

मोदी कैबिनेट का अहम फैसला, सभी सांसदों के वेतन में एक वर्ष तक होगी 30 प्रतिशत कटौती

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के बीच मोदी कैबिनेट ने सोमवार को अहम फैसले लिए है.  केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में देश के सभी सांसदों के वेतन में एक साल तक 30 प्रतिशत की कटौती का फैसला किया गया. इसके साथ ही सांसद निधि के लिए दी जाने वाली राशि भी 2 वर्ष तक के लिए टाल दी गई है. इसकी जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि इस कटौती से सरकार को एक वर्ष में करीब 8 हजार करोड़ रुपए की बचत होगी. 

Coronavirus Updates: जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का शतक, राजस्थान में 288 पहुंची मरीजों की संख्या

30 प्रतिशत योगदान देने का फैसला:
राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, राज्यों के राज्यपालों ने स्वेच्छा से सामाजिक जिम्मेदारी के रूप में वेतन कटौती का फैसला किया है. यह राशि भारत के समेकित कोष में दर्ज की जाएगी. इसके तहत सांसद निधि को दो साल के लिए टाल दिया गया. वहीं राष्‍ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति, राज्‍यपाल सहित तमाम सांसदों ने भी अपने वेतन का 30 प्रतिशत योगदान देने का फैसला किया है. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने संसद अधिनियम, 1954 के सदस्यों के वेतन, भत्ते और पेंशन में संशोधन के अध्यादेश को मंजूरी दे दी. 1 अप्रैल, 2020 से एक साल के लिए भत्ते और पेंशन को 30 फीसद तक कम किया जाएगा.

केंद्रीय मंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग:
आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को केंद्रीय मंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की. पीएमओ ने बताया कि इस दौरान पीएम मोदी ने मंत्रियों के नेतृत्व की सराहना की और कहा कि उनकी तरफ से लगातार दी गई फीडबैक कोविड-19 से निपटने के लिए रणनीति बनाने में प्रभावी रही है.

राहत भरी भविष्यवाणी..! तो अप्रैल मध्य तक हो जाएगा कोरोना वायरस का खात्मा, ज्योतिषीय गणनाओं में हुआ खुलासा

Coronavirus Updates: जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का शतक, राजस्थान में 288 पहुंची मरीजों की संख्या

Coronavirus Updates: जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का शतक, राजस्थान में 288 पहुंची मरीजों की संख्या

जयपुर: प्रदेश में कोरोना वायरस के मरीजों का आंकड़ा बढता जा रहा है. राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 288 पहुंच गई है. वहीं प्रदेश की राजधानी जयपुर की बात करें तो यहां पर मरीजों की संख्या 100 पहुंच गई है. जयपुर में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आये है. सोमवार को जयपुर में सबसे अधिक कोरोना के केस आये है. यहां पर 8 नए कोरोना के मामले मिले है. 

अब कोरोना की चपेट में जानवर, न्यूयॉर्क में बाघिन मिली पॉजिटिव, जू जनता के लिए बंद 

झुंझुनूं जिले में 5 नए पॉजिटिव मामले:
झुंझुनूं जिले में 5 नए पॉजिटिव मामले सामने आए है. वहीं दौसा में तीन, डूंगरपुर में दो, जोधपुर में एक, कोटा में एक मामला मिला है. वहीं ईरान से आए दो भारतीय यात्री भी जांच में पॉजिटिव मिले है. पिछले 24 घंटे के दरम्यान 22 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ अब तक 288 पहुंच चुका है. उधर कोटा में कोरोना वायरस की चपेट में आने से एक व्यक्ति मौत हो गई है. वहीं अब तक प्रदेश में 6 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है. 

जल्द बन सकता है कोरोना वायरस का टीका, डॉक्टरों का रिसर्च जारी !

सीएम गहलोत की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग:
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शाम 5 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रहे है. जिसमें चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा भी मौजूद रहेंगे. इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जयपुर के 4 कांग्रेस विधायक शामिल रहेंगे, जिनमें महेश जोशी, प्रताप सिंह खाचरियावास, रफीक खान और  अमीन कागजी शामिल रहेंगे. चारों विधायक CMO में बैठकर वीसी से जुड़ेंगे. गृह विभाग और पुलिस के अधिकारी मौजूद रहेंगे. कलेक्टर और पुलिस कमिश्नर भी CM से संवाद करेंगे. जयपुर को लेकर पूरा फ़ोकस रहेगा. 

संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा:
देश में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. सोमवार को देश में संक्रमित मरीजों की संख्या चार हजार के पार पहुंच गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार  4067 मामलों में से 3666 सक्रिय मामले हैं. इनमें से 291 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और जबकि एक देश से बाहर जा चुका है. अब तक 109 लोगों की मौत हो चुकी है.

CORONA: घबराये नहीं, बस लक्षण दिखने पर तुरंत ले डॉक्टर से परामर्श, ले मेडिकल ट्रीटमेंट

CORONA: घबराये नहीं, बस लक्षण  दिखने पर तुरंत ले डॉक्टर से परामर्श,  ले मेडिकल ट्रीटमेंट

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (COVID-19) की बीमारी संक्रमण से फैलती है. यह एक नए वायरस के कारण होता है. इस बीमारी में सांस लेने में तकलीफ की समस्या होती है.  इसके अलावा, खांसी, बुखार, और ज़्यादा गंभीर मामलों में सांस लेने में परेशानी होना कोरोना के मुख्य लक्षण है. खुद को सुरक्षित रखने के लिए, अपने हाथों को बार-बार धोएं. इसके अलावा, अपने चेहरे को छूने से बचना चाहिए. जो इंसान बीमार हैं उनसे (एक मीटर या 3 फीट) की दूरी बनाकर रखनी चाहिए. 

अब कोरोना की चपेट में जानवर, न्यूयॉर्क में बाघिन मिली पॉजिटिव, जू जनता के लिए बंद 

ऐसे फैलती है ये बीमारी: 
चलिए अब बात करते है, ये बीमारी कैसे फैलती है, तो आपको बता दें कि सं​क्रमित इंसान के सम्पर्क में आने से यह बीमारी फैलती है. इसलिए तो घरों में रहने की सलाह दी जा रही है. लोगों से सम्पर्क नहीं करने की चेतावनी भी दी जा रही है. कोरोना संक्रमित इंसान के खांसने या छींकने पर उसके मुंह और नाक से गिरने वाली बूंदों से ये रोग एक से दूसरे इंसानों में फैलता है. जब कोई इंसान उस सतह या चीज़ को छूता है जिस पर वायरस होता है, इसके बाद अपनी आंख, नाक या मुंह को छूता है. तो इससे यह बीमारी फैल रही है.

कोरोना वायरस के लिए दवा:
यहां पर बात हो रही है कोरोना वायरस की दवा की, तो इसके उपचार के लिए अभी तक कोई भी खास दवा नहीं बनी है. बस लक्षण मिलते ही अगर डॉक्टर से सम्पर्क कर लिया जाये तो इसका इलाज हो सकता है. साथ ही कई इंसानों को बचाया जा सकता है. क्योंकि जिस इंसान में इसके लक्षण है, तो तुरंत ही डॉक्टर से फोन पर बात करके लक्षण के बारे में अवगत कराये. तो इसका उपचार हो सकेगा. क्योंकि कई इंसान पहले कोरोना पॉजिटिव आये थे. वहीं दूसरी बार उनकी जांच नेगेटिव आई है. कोरोना वायरस से घबराने की बात नहीं, बस सेफ्टी जरूरी है. अगर वक्त पर बीमारी के लक्षण बताये जाये तो इससे दूसरे इंसान संक्रमित होने से बच सकते है. 

राहत भरी भविष्यवाणी..! तो अप्रैल मध्य तक हो जाएगा कोरोना वायरस का खात्मा, ज्योतिषीय गणनाओं में हुआ खुलासा

इन लक्षण को ना करे नजरअंदाज, ले मेडिकल ट्रीटमेंट:
जिस इंसान को बुखार, खांसी, और सांस लेने में परेशानी हो रही है. तो तुरंत ही डॉक्टर से परामर्श लें, और आप जिस इंसान से सम्पर्क में आये है, उसके बार में भी बताये. आप अपने डॉक्टर को कॉल करके अपने हाल ही में की गई यात्राओं के बारे में बताए या अन्य किसी भी यात्रियों से मिले हों उनके बारे में बताए.

Coronavirus Updates: एक साल के लिए टला खेलों का महाकुंभ, टोक्यो ओलंपिक पर लगा ब्रेक

Coronavirus Updates: एक साल के लिए टला खेलों का महाकुंभ, टोक्यो ओलंपिक पर लगा ब्रेक

क्राइस्टचर्च: कोरोना वायरस की वजह से इस साल का टोक्यो ओलंपिक का आयोजन एक साल के लिए टल गया है. कोरोना वायरस की वजह से जापान ने ओलंपिक को टालने का प्रस्ताव दिया था. अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के ओलंपिक खेलों के लिए खिलाड़ी ना भेजने के फैसले के बाद ही इस महाकुंभ को एक साल के लिए टालने का दबाव बन रहा था.

कोरोना बचाव को लेकर केन्द्र और राज्य सरकार को सराहा, बीजेपी प्रदेश मुख्यालय में हुई बैठक 

अब यह 2021 में खेला जाएगा:
ओलंपिक के इस महाकुंभ का आयोजन 24 जुलाई से नौ अगस्त 2020 के बीच होना था. अब यह 2021 में खेला जाएगा. कोरोना वायरस के चलते अब तक विश्वभर में 17,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

Hanta Virus: चीन में हंता वायरस ने दी दस्तक, एक शख्स की मौत, 32 लोग संदिग्ध! 

आयकर रिटर्न की तारीख बढ़ाई:
वहीं कोरोना संकट के चलते देश में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर वित्त मंत्री ने कहा कि जल्द ही आर्थिक पैकेज का ऐलान किया जाएगा. इसके साथ ही आयकर रिटर्न की तारीख बढ़ाने का ऐलान भी वित्त मंत्री ने किया. वित्त मंत्री ने कहा- वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए आयकर रिटर्न की तारीख 31 मार्च के बजाए 30 जून 2020 होगी. वित्त मंत्री ने बताया कि रिटर्न में देरी पर लेट भुगतान 12% से घटाकर 9% किया गया.

डोनाल्ड ट्रंप का भारत दौरा अगले हफ्ते, स्वागत के लिए अहमदाबाद पूरी तरह से तैयार

डोनाल्ड ट्रंप का भारत दौरा अगले हफ्ते,  स्वागत के लिए अहमदाबाद पूरी तरह से तैयार

अहमदाबाद: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अगले सप्ताह भारत दौरे पर होंगे और दिल्ली, अहमदाबाद-आगरा का दौरा करेंगे. अपने पहले भारत दौरे पर आ रहे डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत के लिए अहमदाबाद पूरी तरह से तैयार है. अमेरिकी डोनाल्ड ट्रंप के भारत की धरती पर कदम रखने से पहले ही जमीन से आसमान तक सुरक्षा एजेंसियां मुस्तैद हो चुकी हैं. सुरक्षा व्यवस्था को फुलप्रूफ करने के लिए अमेरिकी सीक्रेट सर्विस का एक विशेष विमान सोमवार को अहमदाबाद पहुंचा. 

दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का करेंगे उद्धाटन:
सुरक्षा से जुड़े उपकरणों के साथ सीक्रेट सर्विस के एजेंट अहमदाबाद के हयात होटल में रुके हुए हैं. अहमदाबाद पहुंचने के बाद डोनाल्ड ट्रंप एयरपोर्ट से साबरमती आश्रम जाएंगे और फिर दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का उद्धाटन करेंगे. ट्रंप के सुरक्षा के लिहाज से मोटेरा स्टेडियम का हर कोना CCTV की निगरानी में होगा. रोड शो के दौरान एनएसजी कमांडो और अमेरिकी स्नाइपर इमारतों पर तैनात होंगे.

30 सालों से पैरों के बीच झूल रही थी 8 किलो की गांठ, SMS में हुआ सफल ऑपरेशन

अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में होने वाले कार्यक्रम का नाम अब ‘केम छो ट्रंप’ की जगह ‘नमस्ते ट्रंप’ कर दिया गया है. अहमदाबाद के प्रशासन ने इसकी पुष्टि की है और पोस्टर भी जारी किए हैं. 24 फरवरी को यह कार्यक्रम आयोजित होगा, जो डोनाल्ड ट्रंप के दौरे का पहला कार्यक्रम होगा.

अमेरिकी राष्ट्रपति का होगा भव्य स्वागत:
अहमदाबाद एयरपोर्ट पर अमेरिकी राष्ट्रपति का भव्य स्वागत होगा. एयरपोर्ट से साबरमती आश्रम तक पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रंप करीब 7 किमी. का रोड शो निकालेंगे. इस दौरान सड़क के दोनों ओर समर्थकों का हुजूम होगा. साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के बाद दोनों नेता मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे.

VIDEO: विधायकों, मंत्रियों की सिफारिशों की सूची वायरल होने के बाद शिक्षकों के प्रतिनियुक्ति आदेश निरस्त

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, लेडी मेलानिया ट्रंप 24-25 फरवरी को अहमदाबाद, नई दिल्ली जाएंगे. 24 फरवरी को ट्रंप और मेलानिया आगरा जाएंगे, जहां पर दोनों ताजमहल का दीदार करेंगे. दोनों करीब तीन घंटे तक आगरा में रहेंगे. 25 फरवरी को बैठक के दौरान डोनाल्ड ट्रंप देश के बड़े बिजनेसमैन से मुलाकात करेंगे.

मुंबई आंतकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को टेरर फंडिंग केस में 5 साल की सजा

मुंबई आंतकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को टेरर फंडिंग केस में 5 साल की सजा

नई दिल्ली: मुंबई आंतकी हमलों का मास्टरमाइंड और जमात उद दावा (जेयूडी) प्रमुख हाफिज सईद को टेरर फंडिंग केस में 5 साल कैद की सजा सुनाई गई है. न्यूज एजेंसी ANI और भाषा ने पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से यह खबर दी है. 

आतंकवादी हमले होने की इनपुट मिलने के बाद आईबी की ओर से अलर्ट जारी, जयपुर में बढ़ी सुरक्षा

आतंकवादी फंडिंग से जुड़े दो मामलों फैसला रखा था सुरक्षित:
पिछले हफ्ते लाहौर की आतंकवाद रोधी अदालत (एटीसी) ने प्रतिबंधित जमात-उद-दावा (जेयूडी) के सरगना व 26/11 मुंबई आतंकवादी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवादी फंडिंग से जुड़े दो मामलों में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. ये मामले आतंकवाद रोधी विभाग (सीटीडी) की लाहौर और गुजरांवाला शाखाओं की ओर से दाखिल किए गए हैं.

विधानसभा में उठा कोरोना वायरस का मामला, मंत्री डॉ रघु शर्मा ने किया आश्वस्त

हाफिज सईद पर पाकिस्तान में 23 आतंकी मामले दर्ज:
हाफिज सईद पर पाकिस्तान में 23 आतंकी मामले दर्ज हैं. भारत द्वारा उसके खिलाफ आतंकी मामलों की डोजियर के बावजूद, उसे पाकिस्तान में खुलेआम घूमने और भारत विरोधी रैलियों को प्रभावशाली तरीके से संबोधित करने की अनुमति दी गई थी.

शाहीन बाग: बुर्के में कैमरा छिपाकर पहुंची महिला, पीएम मोदी भी करते हैं फॉलो

शाहीन बाग: बुर्के में कैमरा छिपाकर पहुंची महिला, पीएम मोदी भी करते हैं फॉलो

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून सीएए और एनआरसी के खिलाफ दिन-रात चल रहे महिलाओं का धरना प्रदर्शन जारी है. इस प्रदर्शन का कई संगठनों ने विरोध भी जताया है. तो वही प्रदर्शन स्थल के पास कुछ लोगों ने विरोध स्वरूप नारे बाजी भी कि गई, तो वही आज बुर्के में बैठी एक महिला की गड़बड़ी से पास में बैठी महिलाओं को शक हुआ और प्रदर्शन स्थल पर अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया. चश्मदीद गवाहों के मुताबिक, बुर्का पहनी इस महिला कि पहचान गुंजा कपूर के रूप में हुई है. 

कैमरा मिलने पर मचा हंगामा:
प्रदर्शनकारी महिलाओं को इस महिला पर तब ज्यादा शक हुआ जब यह महिला प्रदर्शन में बैठी महिलाओं से बहुत ज़्यादा सवाल पूछ रही थी. कुछ प्रदर्शनकारियों ने महिला की तलाशी भी जिसमें उसके पास से एक कैमरा बरामद हुआ. इसके बाद वहां हंगामा मच गया और इस महिला को कई महिलाओं ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया. 

महिला चलाती है यू-ट्यूब चैनल: 
गुंजा कपूर नाम कि यह महिला राइट नैरेटिव नाम से एक यू-ट्यूब चैनल चलाती हैं. जिसमे इस महिला ने शाहीन बाग पर एक वीडियो भी चलाया था, और शाहीन बाग  प्रोटेस्ट में आने वाली एक महिला के बच्चे की मौत पर पूरा वीडियो बनाया था. इस वीडियों में शाहीन बाग प्रदर्शन के दौरान ठंड लगने से मासूम बच्चे की मौत को मां की लापरवाही बताया था.उनके बाद इस वीडियो को सोशल मीडिया पर काफी अच्छा रिस्पॉन्स भी मिला था. 

गुंजा कपूर मूल रूप से लखनऊ की रहने वाली:
आपको बता दे कि गुंजा कपूर मूल रूप से लखनऊ की रहने वाली हैं. उन्होंने लखनऊ के ही ला मार्टिनियर स्कूल से अपनी पढ़ाई पूरी की है. यू-ट्यूब चैनल में उनके 5000 फॉलोअर्स हैं. तो वहीं ट्विटर पर उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी फॉलो करते हैं.

Open Covid-19