VIDEO: हमारा प्रयास सब को मकान के उद्देश्य को ध्यान में रखकर काम करने का- सीएम गहलोत

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज हाउसिंग बोर्ड के राज्य स्तरीय स्वर्ण जयंती समारोह में कहा कि हमारा प्रयास सबको मकान मिले इस उद्देश्य को ध्यान में रखकर काम करने का है. राज्य स्तरीय स्वर्ण जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पहुंचे सीएम गहलोत ने इस दौरान हाउसिंग बोर्ड के पहले मुखिया स्वतंत्रता सेनानी द्वारका प्रसाद पुरोहित को याद करते हुए कहा कि उन्होंने 70 के दशक में हर व्यक्ति को आवास देने के लक्ष्य पर काम शुरू किया था. 

मन की बात में बोले पीएम मोदी, 3 लाख कारीगरों को मिले रोजगार के अनेक अवसर 

बोर्ड ने 700 करोड़ का राजस्व अर्जित किया: 
सीएम गहलोत ने कहा कि 20 साल पहले जब मैं सीएम बना तब हाउसिंग बोर्ड की हालत अच्छी नहीं थी. तब भी हमने इसे सुधारने के प्रयास किए थे. तब हमने केबिनेट से प्रपोजल पास करवाकर कई कर्मचारियों को दूसरे विभागों में नियुक्त किया था. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने कहा था कि हाउसिंह बोर्ड को तो ताला लगा देना चाहिए. लेकिन आज हम देखते तो बोर्ड ने पांच महीने के कम समय में  ही 700 करोड़ का राजस्व अर्जित किया है. इसके साथ ही एक हजार करोड़ रुपए की जमीन को भी अतिक्रमण से मुक्त करवाई है जो की काफी सराहनीय काम है. 

मैने सोच समझकर पवन अरोड़ा को हाउसिंग बोर्ड में कमिश्नर लगाया:

सीएम ने अपने संम्बोधन मे बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा की जमकर तारीफ की. सीएम ने कहा कि पता नहीं पिछली सरकार क्यों हाउसिंग बोर्ड को बंद करना चाह रही थी. लेकिन अब बोर्ड में पवन अरोड़ा के आने से एक नई उम्मीद बंधी है. गहलोत ने कहा कि मैने सोच समझकर पवन अरोड़ा को हाउसिंग बोर्ड में कमिश्नर लगाया है. सीएम ने कहा कि पवन अरोड़ा बहुत ही होशियार आदमी है. यह कम माया नहीं है यह बहुत ऊंची माया है. कम समय मे 700 करोड़ रुपये कमाना आसान काम नहीं है. हाउसिंग बोर्ड का मान सम्मान इतने कम समय मे ऊंचा कर दिया यह अरोड़ा की खासियत है. अरोड़ा के आरएएस एसोशिएशन के अध्यक्ष रहते हुए बने शानदार ras क्लब हाउस का जिक्र भी सीएम ने किया, कहा इन्होंने इतना शानदार भवन बनाया है आरएएस के लिए. आईएएस अधिकारियों के पास भी ऐसा भवन नहीं है. 

सीएम ने पवन अरोड़ा की सोच की तारीफ की:

इस दौरान सीएम ने डीबी गुप्ता की चुटकी लेते हुए कहा कि आप पीछे रह गए भवन के मामले में, सीएम ने कहा कि मैं समझता हूं कि अब डीबी गुप्ता भी आईएएस के लिए भवन का प्रयास करेंगे. अगर आप वह जिम्मेदारी भी पवन अरोड़ा को दे देंगे तो आपका भी भवन बन जाएगा. सीएम ने स्वर्ण जयंती के मौके पर आयोजित हो रहे बोर्ड के कार्यक्रमों की खुले मन से तारीफ की. सीएम ने कहा कि कल द्वारकादास जी की मूर्ति का अनावरण कार्यक्रम बहुत शानदार हुआ. सीएम ने पवन अरोड़ा की सोच की तारीफ करते हुए कहा कि कल जिस तरीके से बोर्ड ने रक्तदान, देहदान और नेत्रदान शिविर लगाए हैं उससे में बहुत प्रभावित हूँ. आपने ऐसा करके समाज के प्रति अपना कमिटमेंट बताया है. सीएम ने कहा कि 50 वर्ष तो बहुत संस्थान मनाते हैं लेकिन आपने ऐसा यादगार मनाया है कि सभी मे उत्साह है. सीएम ने हॉउसिंग बोर्ड के चौपाटी कॉन्स्पेक्ट की भी जमकर तारीफ की.

अब धोरो की गर्मी भी बिकेगी, 99 दिन पर्यटन को री इनवेंट की योजना

हाउसिंह बोर्ड को बकाया वसूली के लिए अधिकार दिए जाएंगे: 
वहीं मंत्री शांति धारीवाल ने अपने संबोधन में कहा कि हाउसिंह बोर्ड को हम पॉवर दिलाने जा रहे हैं. इसके लिए विधानसभा में कानून पारित कराया जाएगा. इससे हाउसिंह बोर्ड को बकाया वसूली के लिए अधिकार दिए जाएंगे और ब्याज और पेनल्टी के लिए एमनेस्टी योजना लाई जाएगी. उन्होंने कहा कि बोर्ड के पास एक कांस्टेबल तक नहीं है फिर भी एक हजार करोड़ की जमीन को अतिक्रमण हटा दिए. 

सीएम गहलोत ने जयपुर में विदेशों जैसे बड़े प्रोजेक्ट शुरू किए:
इससे पहले हाउसिंह बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने कहा कि सीएम गहलोत ने जयपुर में विदेशों जैसे बड़े प्रोजेक्ट शुरू किए, मेट्रो, एलिवेटेड रोड और घाट की गूणी की सौगात सीएम को दी है. बोर्ड ने सिर्फ पांच महीने में 700 करोड़ का राजस्व अर्जित किया है. संभव है कि यह राशि एक हजार करोड़ तक पहुंच जाए. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अब बोर्ड नीलामियों के साथ ही लोन मेला भी लगाएगा. 

और पढ़ें