Live News »

रोहित शेखर मर्डर केस, पुलिस ने पत्नी अपूर्वा शुक्ला को किया गिरफ्तार

रोहित शेखर मर्डर केस, पुलिस ने पत्नी अपूर्वा शुक्ला को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली। यूपी-उत्तराखंड के पूर्व सीएम एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी मर्डर केस में पुलिस ने उसकी पत्नी अपूर्वा शुक्ला को ही आरोपी मानते हुए गिरफ्तार कर लिया है। अपूर्वा पर शक की सूई पहले दिन से ही थी और इसके लिए पुलिस के पास पर्याप्त कारण थे। इंदौर से दिल्ली आई अपूर्वा एक महत्वाकांक्षी महिला थीं और वह दिल्ली में वकालत और राजनीति की दुनिया में कुछ बड़ा हासिल करने के उद्देश्य से आई थी। 

बतादें, अपूर्वा ने रोहित के बारे में थोड़ी जानकारी हासिल की और पता चला कि वह उत्तराखंड और यूपी के पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी का बेटा है। रोहित ने एनडी तिवारी को अपना जैविक पिता साबित करने के लिए कानूनी लड़ाई भी लड़ी थी। रोहित के पिता का राजनीतिक करियर देख अपूर्वा काफी प्रभावित हुईं और एन डी तिवारी की मौत से 6 महीने पहले दोनों ने शादी कर दी। 

मालूम हो, राजनीति में करियर बनाने के अपूर्वा के सपने को उस वक्त झटका लगा जब उसे रोहित के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी मिली। शादी के कुछ ही दिन बाद से दोनों के बीच तनाव शुरू हो गया। राजनीतिक करियर में भी रोहित शेखर कुछ आगे नहीं बढ़ पा रहे थे और इस कारण भी अपूर्वा को निराशा हुई। 

विवाद इतना बढ़ गया कि पिछले साल 29 मई को वह वापस इंदौर लौट गईं, लेकिन फिर रोहित के बुलाने पर कुछ दिन बाद दिल्ली वापस आ गईं। हालांकि, डिफेंस कॉलोनी वाले मकान में अपूर्वा और रोहित अलग-अलग कमरे में रहते थे। रोहित और अपूर्वा के बीच रोज-रोज होनेवाले झगड़े के कारण उज्ज्वला शर्मा ने भी डिफेंस कॉलोनी का घर छोड़कर तिलक लेन वाले बंगले में रहने चली गईं। 

क्राइम ब्रांच के सीनियर अफसर ने बताया कि रोहित और उनकी मां उज्ज्वला शर्मा 15 अप्रैल को उत्तराखंड के काठगोदाम से वोटिंग करके लौट रहे थे। इसी दौरान, अपूर्वा ने विडियो कॉलिंग की तो रोहित अपनी कार में शराब पी रहे थे। उनके साथ उनकी महिला रिश्तेदार भी थीं। दोनों नशे में थे। अफसर के मुताबिक, उस महिला पर अपूर्वा को पहले से ही शक था।

विडियो कॉलिंग के दौरान दोनों को एक ही गाड़ी में शराब पीते हुए देखकर वह आग-बबूला हो गईं। जब सभी घर आए तो रोहित और उनकी रिश्तेदार नशे में थे। अपूर्वा गुस्से से भर गईं और आखिरकार उन्होंने यह अपराध अंजाम दिया। 
 

और पढ़ें

Most Related Stories

Coronavirus: मोहम्मद साद के खिलाफ मुकदमा दर्ज, निजामुद्दीन मरकज के मौलाना है साद

Coronavirus: मोहम्मद साद के खिलाफ मुकदमा दर्ज, निजामुद्दीन मरकज के मौलाना है साद

नई दिल्ली: देशभर में कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन है. केन्द्र और राज्य सरकारें सबको घरों में रहने के लिए कह रही है. लोगों से दूरी बनाने की अपील की जा रही है. और एक तरफ लोग इनके आदेशों की अवहेलना कर रहे है. मामला दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात का है, जो सोमवार को अचानक सुर्खियों में आ गई. यहां पर देश और दुनिया से लगभग तीन हजार लोग धार्मिक सभा में हिस्सा लेने आये थे. जिनमें से इस इलाके में 24 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गए. हालांकि अभी तक सटीक आंकड़ा पता नहीं लग पाया है, लेकिन मरकज में 1500 से 1700 लोग इकट्ठा हुए थे. जानकारी मिलने पर पुलिस ने तुरंत लोगों को जांच के लिए भेजा है. 

निजामुद्दीन मरकज के मौलाना पर केस दर्ज:
निजामुद्दीन मरकज के मौलाना मोहम्मद साद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. इससे पहले मुख्यमंत्री दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कहा था कि दिल्ली सरकार ने निजामुद्दीन के धार्मिक आयोजन के संबंध में प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखा है.

कोरोना संकट: 20 महिलाओं के साथ थाईलैंड के राजा का जर्मनी पलायन, आइसोलेशन के लिए चुना शाही होटल 

700 लोगों को क्वारनटीन सेंटर भेजा गया:
स्वास्थ्य मंत्री सतेंदर जैन ने मुताबिक अब तक 334 लोगों को अस्पताल भेजा गया है, जबकि 700 लोगों को क्वारनटीन सेंटर भेजा गया है. मरकज सेंटर पर डॉक्टरों की टीम डेरा जमाए हुए हैं और सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है. इसके अलावा आस-पास के इलाके को भी सैनिटाइज किया जा रहा है. ऐसे में तब्लीगी जमात के जिम्मेदारों के खिलाफ दिल्ली सरकार ने FIR के आदेश भी दे दिए थे. 

क्या है मामला:
यह मामला तब खुला जब दिल्ली में 64 साल के एक शख्स की मौत हुई. यह शख्स कोरोना पॉजिटिव मिला था. इसके बाद 33 लोगों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया जिसमें से कुछ लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. इस मामले के सामने आने पूरे सेंटर को खाली करवाया गया है. 

VIDEO- Rajasthan Corona Update: जयपुर का चारदीवारी इलाका रहेगा पूरी तरह सीज

क्या है तब्लीगी जमात?
मुसलमानों के बीच इस्लाम की शिक्षा देने के लिए मौलाना इलियास कांधलवी ने तबलीगी जमात की स्थापना की. उन्होंने निजामुद्दीन में स्थित मस्जिद में कुछ लोगों के साथ तबलीगी जमात का गठन किया. इसे मुसलमानों को अपने धर्म में बनाए रखना और इस्लाम धर्म का प्रचार-प्रसार और इसकी जानकारी देने के लिए शुरू किया.

Coronavirus Updates: कोरोना से देश में अब तक 45 मौतें, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ पहुंचा 93

Coronavirus Updates: कोरोना से देश में अब तक 45 मौतें, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ पहुंचा 93

जयपुर: देश में जानलेवा कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है. अबतक कुल 1400 से अधिक लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं. वहीं संक्रमण से अब तक 45 मौतें हो चुकी हैं. हालांकि 140 से ज्यादा लोग ठीक भी हुए हैं. सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज महाराष्ट्र और केरल में हैं. महाराष्ट्र में 248 संक्रमित मरीज हैं तो केरल में ये संख्या 234 है.

VIDEO: कोरोना लॉकडाउन में चिकित्सा मंत्री की मानवीय अपील, नवरात्रा की अष्टमी और नवमी पर जरूरतमंदों को खिलवाए भोजन 

कोरोना वायरस के चलते देश में आज तीन जान गई:
कोरोना वायरस के चलते देश में आज तीन जान गई है. चंडीगढ़ में मंगलवार को संक्रमण से मौत का पहला मामला सामने आया. यहां 65 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई. इसके अलावा केरल के तिरुवनंतपुरम में कोरोना पॉजिटिव 68 साल के व्यक्ति की मौत हो गई. मध्यप्रदेश के इंदौर में भी 49 साल की महिला जरीन बी ने सोमवार देर रात दम तोड़ दिया. 

VIDEO- Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पिछले 12 घंटे में 4 नए मरीज और आए सामने, कुल पॉजिटिव संख्या पहुंची 83 

राजस्थान में ईरान से आए 10 और भारतीय पॉजिटिव मिले: 
वहीं अगर राजस्थान की बात करें तो यहां भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. राजस्थान में ईरान से आए 10 और भारतीय पॉजिटिव मिले हैं. इससे पहले आज झुंझुनूं, अजमेर, डूंगरपुर और जयपुर में 4 पॉजिटिव केस मिले थे. ऐसे में अब प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 93 पहुंच गया है.  


 

VIDEO: कोरोना लेकर आया एयरलाइंस के लिए आर्थिक संकट! भारतीय एयरलाइंस को 3 अरब डॉलर के नुकसान की आशंका

VIDEO: कोरोना लेकर आया एयरलाइंस के लिए आर्थिक संकट! भारतीय एयरलाइंस को 3 अरब डॉलर के नुकसान की आशंका

जयपुर: कोरोना वायरस एयरलाइंस के लिए आर्थिक संकट लेकर आया है. देश-विदेश की सभी एयरलाइंस इस आर्थिक नुकसान की चपेट में आना शुरू हो गई हैं. इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने भारतीय एयरलाइंस को पहली तिमाही में 3 अरब डॉलर के आर्थिक नुकसान की आशंका जताई है. दरअसल सभी एयरलाइंस पहले से ही आर्थिक फायदे की स्थिति में नहीं हैं, लेकिन अब लॉकडाउन ने एयरलाइंस के लिए हालात और खराब कर दिए हैं.

VIDEO- Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पिछले 12 घंटे में 4 नए मरीज और आए सामने, कुल पॉजिटिव संख्या पहुंची 83  

देश के 6 प्रमुख एयरलाइन बेड़े में 631 विमान: 
देश में 6 प्रमुख एयरलाइन कम्पनियां हैं, जिनके बेड़े में 631 विमान हैं. इन एयरलाइंस के पास हर रोज एक समय में करीब 1 लाख सीट मौजूद रहती हैं. पिछले 1 सप्ताह से ये सभी सीटें खाली हैं. 24 मार्च से पहले भी एयरलाइंस को इंटरनेशनल फ्लाइट्स रद्द करनी पड़ रही थीं. दरअसल फरवरी माह के दूसरे सप्ताह से ही कोरोना संकट के चलते एयरलाइंस को नुकसान होना शुरू हो गया था. आपको बता दें कि जयपुर एयरपोर्ट से भी रोजाना 63 फ्लाइट संचालित होती हैं, जिनसे करीब 14500 यात्रियों का आवागमन होता है, लेकिन कोरोना संकट के चलते पिछले एक सप्ताह से जयपुर एयरपोर्ट से भी फ्लाइट संचालन बंद हो चुका है. 

किस एयरलाइन के बेड़े में कितने विमान:
एयर एशिया - 22 विमान
एयर इंडिया - 171 विमान (एयर इंडिया एक्सप्रेस के 25, अलायंस एयर के 19 विमान शामिल)
गो एयर - 51 विमान
इंडिगो - 243 विमान
स्पाइसजेट - 112 विमान
विस्तारा - 32 विमान

कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग के मैदान में उतरे रोहित शर्मा, दान किए इतने रुपये 

- एक समय में इन एयरलाइंस के पास रहती हैं करीब 1 लाख सीट
- अकेले जयपुर एयरपोर्ट से रोज संचालित होती हैं 63 फ्लाइट
- इनमें 16000 सीटों पर यात्रा करते हैं करीब 14500 यात्री
- इंडिगो, गो एयर, स्पाइसजेट में लॉकडाउन में कर्मचारियों की बची हुई छुट्टियां काटी जा रही हैं
- छुट्टियां नहीं बचीं तो कर्मचारियों को बिना वेतन अवकाश दिया जाएगा

...फर्स्ट इंडिया के लिए जयपुर से काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग के मैदान में उतरे रोहित शर्मा, दान किए इतने रुपये

कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग के मैदान में उतरे रोहित शर्मा, दान किए इतने रुपये

मुंबई: भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा भी कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग के मैदान में उतर गए हैं. टीम इंडिया के हिटमैन ने इस जानलेवा वायरस से लड़ने के लिए अपना योगदान देने का ऐलान किया है. 

VIDEO- Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पिछले 12 घंटे में 4 नए मरीज और आए सामने, कुल पॉजिटिव संख्या पहुंची 83 

हिटमैन रोहित ने कुल 80 लाख रुपये दान करने की जानकारी दी:
इस बात की जानकारी रोहित शर्मा ने खुद अपने ट्विटर अकाउंट पर दी है. उन्होंने लिखा कि हमें अपने देश को वापस पैरों पर लाने की जरूरत है और इसकी जिम्मेदारी हम पर है. ऐसे में मैं अपनी तरफ से छोटा-सा योगदान दे रहा हूं. हिटमैन रोहित ने कुल 80 लाख रुपये दान करने की जानकारी दी है. जिसमें से उन्होंने 45 लाख रुपये PMcaresfund में और 25 लाख रुपये CMReliefFund Maharashtra में दिए. इसके अलावा उन्होंने FeedingIndia और WelfareOfStrayDogs को 5-5 लाख रुपये डोनेट किए. 

Rajasthan Corona Update: राजधानी के रामगंज में बढ़ती जा रही कोरोना की दस्तक, अब तक 13 पॉजिटिव 

रोहित से पहले यह खिलाड़ी भी कर चुके दान:
रोहित से पहले भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर, पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, मौजूदा कप्तान विराट कोहली, सुरेश रैना और अजिंक्य रहाणे भी कोरोना के खिलाफ जंग में अपना योगदान दे चुके है. बता दें कि इस जानलेवा बीमारी का प्रकोप इतना बढ़ गया है कि दुनिया भर में 37,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. भारत में 35 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. 

जमात के मरकज में 24 लोग आए पॉजिटिव, 700 लोगों को भेजा क्वारनटीन सेंटर

जमात के मरकज में 24 लोग आए पॉजिटिव, 700 लोगों को भेजा क्वारनटीन सेंटर

नई दिल्ली: सोमवार को दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात अचानक सुर्खियों में आ गई. इस इलाके में 24 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. हालांकि अभी तक सटीक आंकड़ा पता नहीं लग पाया है, लेकिन मरकज में 1500 से 1700 लोग इकट्ठा हुए थे. जानकारी मिलने पर पुलिस ने तुरंत लोगों को जांच के लिए भेजा है. इसके साथ यह भी कहा जा रहा है कि यहां देश दुनिया से लगभग तीन हजार लोग धार्मिक सभा में हिस्सा लेने आए थे. 

Rajasthan Corona Update: राजधानी के रामगंज में बढ़ती जा रही कोरोना की दस्तक, अब तक 13 पॉजिटिव 

700 लोगों को क्वारनटीन सेंटर भेजा गया:
स्वास्थ्य मंत्री सतेंदर जैन ने मुताबिक अब तक 334 लोगों को अस्पताल भेजा गया है, जबकि 700 लोगों को क्वारनटीन सेंटर भेजा गया है. मरकज सेंटर पर डॉक्टरों की टीम डेरा जमाए हुए हैं और सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है. इसके अलावा आस-पास के इलाके को भी सैनिटाइज किया जा रहा है. ऐसे में तब्लीगी जमात के जिम्मेदारों के खिलाफ दिल्ली सरकार ने FIR के आदेश भी दे दिए हैं. 

क्या है मामला:
यह मामला तब खुला जब दिल्ली में 64 साल के एक शख्स की मौत हुई. यह शख्स कोरोना पॉजिटिव मिला था. इसके बाद 33 लोगों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया जिसमें से कुछ लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. इस मामले के सामने आने पूरे सेंटर को खाली करवाया गया है. 

VIDEO- Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पिछले 12 घंटे में 4 नए मरीज और आए सामने, कुल पॉजिटिव संख्या पहुंची 83 

क्या है तब्लीगी जमात?
मुसलमानों के बीच इस्लाम की शिक्षा देने के लिए मौलाना इलियास कांधलवी ने तबलीगी जमात की स्थापना की. उन्होंने निजामुद्दीन में स्थित मस्जिद में कुछ लोगों के साथ तबलीगी जमात का गठन किया. इसे मुसलमानों को अपने धर्म में बनाए रखना और इस्लाम धर्म का प्रचार-प्रसार और इसकी जानकारी देने के लिए शुरू किया.


 

नहीं हुआ वित्त वर्ष में कोई बदलाव, 1 अप्रैल से ही शुरू होगा वित्त वर्ष

नहीं हुआ  वित्त वर्ष में कोई बदलाव, 1 अप्रैल से ही शुरू होगा वित्त वर्ष

नई दिल्ली: पूरे देशभर में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है. इसी के चलते पूरे देश को लॉकडाउन किया गया है. इमरजेंसी सेवाओं को छोडकर सभी बंद है. इस बीच एक खबर वित्त वर्ष को लेकर सामने आई है.  केंद्र सरकार ने अगले वित्त वर्ष 2020-21 शुरू होने की तारीख में बदलाव नहीं किया है. ये 1 अप्रैल से बदलकर 1 जुलाई नहीं की गई है. ये एक अप्रैल से ही शुरू होगा. 

Rajasthan Corona Update: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 79, जयपुर के रामगंज में मिले 10 नए पॉजिटिव 

इंडियन स्टाम्प ऐक्ट की तारीख में बदलाव:
केन्द्र सरकार की तरफ से बयान जारी कर उस खबर को नकारा गया है जिसमें दावा किया जा रहा था कि वित्त वर्ष को 30 जून तक बढ़ाने का फैसला किया गया है. वित्त मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि इंडियन स्टाम्प ऐक्ट की तारीख में बदलाव को वित्त वर्ष में बदलाव कहा जा रहा जो गलत रिपोर्ट है.

नोटिफिकेशन किया जारी:
केंद्र सरकार ने सोमवार को एक गजट नोटिफिकेशन जारी किया है. इसमें स्टॉम्प ड्यूटी कलेक्शन की तारीखों में बदलाव की जानकारी थी. एक अधिकारी ने बताया कि इस बदलाव के तहत स्टॉक एक्सचेंजों और डिपॉजिटरीज के माध्यम से सिक्युरिटी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स पर स्टॉम्प ड्यूटी कलेक्ट की जाएगी. पहले यह बदलाव एक अप्रैल 2020 से लागू होना था. लेकिन अब 1 जुलाई 2020 से लागू होगा. हालांकि आम लोगों के लिए कई सुविधाएं 30 जून तक बढ़ा दी गई हैं.

Lockdown: गंभीर बीमारी वाले मेडिकल पेंशनर्स बिना एनएसी निजी मेडिकल स्टोर से खरीद सकेंगे दवा

कोरोना के खिलाफ जंग में उतरी देश की न्यायपालिका भी, आर्थिक सहायता के साथ बांट रहे खाना

कोरोना के खिलाफ जंग में उतरी देश की न्यायपालिका भी, आर्थिक सहायता के साथ बांट रहे खाना

जयपुर: देश और प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है. इसको देखते हुए जहां केन्द्र और राज्य सरकारे अपने प्रयास कर रही है वही अब न्यायपालिका भी कोरोना की जंग में शामिल हो गयी है. मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति के निर्देश पर राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के नेतृत्व में जज खुद भी सड़कों पर आकर लोगों की मदद कर रहे हैं. रालसा के एक्जीक्यूटीव चैयरेन जस्टिस संगीत लोढा खुद प्रदेशभर में किय जा रहे प्रयासों की डेटूडे मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

मेरठ में एक ही परिवार के 13 लोग कोरोना पॉजिटिव, 35 लोगों की रिपोर्ट अभी आना बाकी 

अलग अलग जिलों में खाना वितरण किया जा रहा: 
गुजरात और मध्यप्रदेश से राजस्थान होकर बिहार यूपी जाने वाले प्रवासी मजदूरों को उदयपुर से लेकर प्रदेश के अलग अलग जिलों में खाना वितरण किया जा रहा है. वहीं कई शहरों में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मजदूरो की मदद कर रहे हैं. उदयपुर जिला प्राधिकरण ने भी पिछले तीन दिनो में हजारो मजदूरों को राहत पहुंचायी है. इसके साथ ही प्रदेश की जेलों से लेकर वृद्धाश्रम, बाल सुधारगृहो, नारी निकेतन में मौजुद बच्चों और महिलाओं को भी सहायता पहुंचा रहा है. 

वकील राकेश द्विवेदी ने एक करोड़ की राशि की सहायता दी: 
वहीं सुप्रीम कोर्ट—हाईकोर्ट के सभी गैजेटेड अधिकारी अपनी तीन दिन की तनख्वाह देंगे. इसके साथ नॉन-गैजेटेड अधिकारी दो दिन की तनख्वाह प्रधानमंत्री राहत कोष में देंगे. वहीं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी अपनी एक दिन की तनख्वाह पीएम फंड में देंगे. सुप्रीम कोर्ट जस्टिस एन वी रमन्ना ने भी तीन लाख की राशि पीएम फंड में दी है. वहीं सुप्रीम कोर्ट के ही वकील राकेश द्विवेदी ने एक करोड़ की राशि की सहायता दी है. इसके अलावा जस्टिस एस रविन्द्र भट्ट खुद प्रवासी मजदूरों के लिए खाने का वितरण वितरण कर रहे हैं. 

VIDEO: राजस्थान में कोरोना की बढ़ती जा रही दस्तक, रामगंज में दो और पॉजिटिव मिलने की सूचना 

दिल्ली हाईकोर्ट के सभी जज प्रधानमंत्री फंड में 10—10 हजार की राशि दे रहे:
इसके साथ ही दिल्ली हाईकोर्ट के सभी जज प्रधानमंत्री फंड में 10—10 हजार की राशि दे रहे हैं. वहीं राजस्थान के 1300 न्यायिक अधिकारियों ने भी अपना 5 दिन का वेतन दिया है. इसके अलावा महाधिवक्ता से लेकर सभी अतिरिक्त महाधिवक्ताओ ने एक माह की रिटेनरशीप दी है. 
 

VIDEO: लॉकडाउन के चलते विश्‍वभर में कॉन्‍डम की बढ़ी मांग, बाजार से हुआ गायब

जयपुर: कोरोना महासंकट के बीच दुनियाभर में लोग लॉकडाउन में जिंदगी गुजारने को मजबूर हैं. इसी के चलते विश्‍वभर में कॉन्‍डम की मांग बढ़ने से यह बाजारों से गायब हो गया है. वहीं दुनिया के सबसे बड़े कॉन्डम निर्माता के अनुसार कोरोना वायरस प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन घोषित किया गया है जिससे उसका उत्पादन ठप हो गया है. 

अजमेर में एक ही परिवार के 4 सदस्यों को रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव, प्रशासन अलर्ट मोड़ पर 

कई महीनों तक रह सकती है कमी:
जानकारी के अनुसार कॉन्डम की वैश्विक कमी का सामना होने के चलते काफी बड़ी समस्या खड़ी हो सकती है. दुनियाभर में कॉन्डम की यह कमी आने वाले कुछ सप्ताह या महीनेभर के लिए नहीं बल्कि कई महीने तक चल सकती है. बता दें कि कॉन्‍डम बनाने वाला दूसरा सबसे बड़ा देश चीन है जहां से कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था. यहां भी फैक्ट्रिया बंद हैं. भारत और थाइलैंड में भी कॉन्‍डम बनाने वाली फैक्ट्रियां हैं लेकिन यहां भी वायरस का प्रसार तेजी से हो रहा है. 

Coronavirus Update: देश में 1100 के पार हुई कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या, मौत का आंकड़ा बढ़कर हुआ 27

Open Covid-19