आखिर राहुल ने दिखाया दमखम ! सिद्धू का इस्तीफा कर सकते मंजूर

आखिर राहुल ने दिखाया दमखम ! सिद्धू का इस्तीफा कर सकते मंजूर

नई दिल्ली: नवजोत सिंह सिद्धू के पंजाब कांग्रेस (punjab congress) के प्रधान पद से इस्तीफा देने के मामले में आखिर राहुल गांधी (rahul gandhi) ने दमखम दिखाया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सिद्धू (navjot singh sidhu) का इस्तीफा स्वीकार किया जा सकता है. 

सिद्धू के इस्तीफे ने आलाकमान को चुनौती दी थी. खास तौर पर राहुल और प्रियंका के फैसलों को चुनौती दी थी. ऐसे में अब राहुल गांधी इस्तीफा स्वीकार कर पलटवार कर सकते हैं. शायद राहुल के दो सिद्धांत हैं. NO ONE IS INDISPENSABLE IN THE PARTY, FALL IN LINE AND CHANGE WITH TIME. 

वस्तुतः सोनिया और राहुल की कार्यशैली में ये ही एक फर्क:
वस्तुतः सोनिया और राहुल की कार्यशैली में ये ही एक फर्क है. सोनिया के टाइम में ऐसे मामले लटकते रहते थे. लेकिन राहुल ने 24 घंटे से भी कम समय में ये फैसला लिया है. अब राहुल के सामने विधानसभा में चन्नी का विश्वासमत हासिल करवाने की एक नई चुनौती है.   

सिद्धू अपने फैसले पर अड़िग नजर आ रहे:
वहीं दूसरी ओर पंजाब कांग्रेस के प्रधान पद से इस्तीफा देने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू अपने फैसले पर अड़िग नजर आ रहे हैं. उन्होंने अपने एक वीडियो संदेश में कहा है कि मेरे राजनीतिक करियर के 17 साल एक ही उद्देश्य बदलाव लाने के लिए, एक स्टैंड लेने के लिए और लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए रहा है. मेरा किसी के साथ कोई व्यक्तिगत प्रतिद्वंद्विता नहीं है. यही मेरा धर्म है. इसके साथ ही सिद्धू ने कहा कि मैं पंजाब के मुद्दों के लिए लंबे समय तक लड़ता रहा. दागी नेताओं, अधिकारियों की व्यवस्था थी, अब आप उसी प्रणाली को दोबारा नहीं दोहरा सकते. मैं अपने सिद्धांतों पर कायम रहूंगा.  

वह आखिरी दम तक हक और सच की लड़ाई लड़ते रहेंगे:
सिद्धू ने कहा कि वह आखिरी दम तक हक और सच की लड़ाई लड़ते रहेंगे. उन्होंने कहा कि मैं अपनी नैतिकता, नैतिक अधिकार से समझौता नहीं कर सकता. मैं जो देख रहा हूं वह पंजाब में मुद्दों, एजेंडा के साथ समझौता है. मैं आलाकमान का वेश नहीं बना सकता और न ही उन्हें भेष बदलने दे सकता हूं.

और पढ़ें