क्या सचमुच आलाकमान ने पंजाब फोन प्रकरण में हरीश चौधरी से मांगा इस्तीफा ? जानिए पूरी डिटेल

क्या सचमुच आलाकमान ने पंजाब फोन प्रकरण में हरीश चौधरी से मांगा इस्तीफा ? जानिए पूरी डिटेल

जयपुर: इस समय राजस्थान की राजनीति में एक सवाल चर्चा का विषय बना हुआ है कि क्या पंजाब फोन प्रकरण (punjab phone case) में सचमुच आलाकमान ने हरीश चौधरी (harish chaudhary) से इस्तीफा (resignation) मांगा है? इस सभी चर्चाओं के बीच आज हरीश चौधरी ने इसका खंडन किया है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग राजनीतिक कारणों से मुझे बदनाम करने का षड्यंत्र कर रहे हैं. ऐसे  लोगों के खिलाफ मैं कानूनी कार्रवाई करूंगा. 

आपको बता दें कि हरीश चौधरी गांधी परिवार के निकट माने जाते हैं. अलबत्ता पंजाब प्रकरण से राहुल और सोनिया दोनों नाराज हैं. आलाकमान ने हरीश चौधरी को कैप्टन अमरिंदर से माफी मांगने की सलाह दी है. लेकिन शायद कैप्टन ने हरीश चौधरी का फोन नहीं लिया है. ऐसे में एक कैबिनेट मंत्री के मार्फत हरीश ने माफी मांगी है. अब कुल मिलाकर हर किसी को इस प्रकरण के अंतिम पटाक्षेप का इंतजार है. इस बीच आज दोपहर 3 बजे हरीश चौधरी प्रेस कांफ्रेंस करेंगे. क्योंकि गांधी परिवार के करीबी हरीश की राजस्थान में अपनी राजनीतिक महत्वकांक्षाएं हैं. 

मुख्यमंत्री ने पार्टी हाईकमान को फोन कर इस पर आपत्ति दर्ज करवाई:
आपको बता दें, आरोप है कि पंजाब कांग्रेस के एक पूर्व सह प्रभारी की तरफ से विधायकों को फोन कर कहा गया कि कमेटी के सामने उन्हें क्या कहना है. कमेटी के समक्ष सोमवार को आठ मंत्री व 17 कांग्रेस विधायक पेश हुए. यह जानकारी मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के पास पहुंच गई. इसके बाद मुख्यमंत्री ने पार्टी हाईकमान को फोन कर इस पर आपत्ति दर्ज करवाई. जानकारी के अनुसार कुछ विधायकों ने मुख्यमंत्री को इसकी रिकार्डिंग भी मुहैया करवाई. 

सूत्रों के अनुसार कैप्टन ने इस संबंध में राहुल गांधी से भी बातचीत की:
सूत्र बताते हैं कि किसी विधायक ने हरीश चौधरी के फोन को टेप कर लिया. इसकी रिकार्डिंग भी मुख्यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के पास पहुंच गई. सूत्रों के अनुसार कैप्टन ने इस संबंध में राहुल गांधी से भी बातचीत की. हालांकि हरीश चौधरी ने इस बात से साफ इन्‍कार किया है कि उन्होंने किसी को फोन किया. उनका कहना है ‘मैं राजस्थान में अपने विधान सभा क्षेत्र में हूं. पंजाब के विधायकों के साथ मैं लंबे समय से संपर्क में नहीं हूं. 


 

और पढ़ें