जयपुर गणतंत्र दिवस पर CM गहलोत ने दिया भविष्य में पार्टी छोड़कर जाने की सोचने वाले नेताओं को दो टूक संदेश, कहा- आने वालों का स्वागत तो जाने वालों का भी स्वागत

गणतंत्र दिवस पर CM गहलोत ने दिया भविष्य में पार्टी छोड़कर जाने की सोचने वाले नेताओं को दो टूक संदेश, कहा- आने वालों का स्वागत तो जाने वालों का भी स्वागत

गणतंत्र दिवस पर CM गहलोत ने दिया भविष्य में पार्टी छोड़कर जाने की सोचने वाले नेताओं को दो टूक संदेश, कहा- आने वालों का स्वागत तो जाने वालों का भी स्वागत

जयपुर: कांग्रेस पार्टी छोड़कर जाने वाले नेताओं को लेकर मचे बवाल के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बड़ा बयान सामने आया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पार्टी छोड़कर जाने वालों का भी स्वागत है तो आने वालों का भी स्वागत है. मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी एक समंदर है और उस पर कोई फर्क नहीं पड़ता. 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कांग्रेस एक बड़ा संगठन है, कांग्रेस एक आंदोलन की तरह है और 135 साल पुराना इतिहास है. कांग्रेस पार्टी एक महासमुद्र की तरह है. पहले भी कई लोग पार्टी छोड़ कर गए थे और वापस पार्टी में आए. सीएम गहलोत ने कहा की पार्टी चाहे सत्ता में रही हो या फिर विपक्ष में लेकिन यह पार्टी देश के हर गांव कस्बे में हर घर मे घुसी हुई है. 

आज कांग्रेस पार्टी सत्ता में हो या नहीं हो लेकिन कांग्रेस पार्टी हर घर में मौजूद:
bJP पर हमला करते हुए कहा कि कई पार्टी सत्ता में तो है लेकिन नॉर्थ- ईस्ट में उन्हें कोई नहीं पूछता, दक्षिण राज्यों में उन्हें कोई नहीं पूछता. आज कांग्रेस पार्टी सत्ता में हो या नहीं हो लेकिन कांग्रेस पार्टी हर घर में मौजूद है. कोई पार्टी छोड़कर चला जाए इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी ने भी साफ कहा कि जिन लोगों को जाना है वह चले जाएं और जो लोग बाकी है वो अपना काम करें. पार्टी में रहकर ही पार्टी की बुराई करोगे तो उससे तो पार्टी को और ज्यादा नुकसान होगा इससे अच्छा कि आप पार्टी छोड़कर चले जाएं. 

बिल का नाम कुछ भी हो लेकिन हमारी भावना यही है कि किसानों को राहत दी जाए:
इधर किसानों की 5 एकड़ जमीन की नीलामी रोकने के लिए राजभवन को भेजे गए संशोधन विधेयक को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि हमने किसानों की जमीन नीलामी रोकने के लिए सीपीसी में संशोधन विधेयक पास करके राजभवन को भेजा था. राजभवन की ओर से जवाब दिया गया कि रोडा एक्ट को लेकर संशोधन बिल हमारे पास नहीं आया. मुख्यमंत्री ने कहा कि बिल का नाम कुछ भी हो लेकिन हमारी भावना यही है कि किसानों को राहत दी जाए. आज किसानों की जमीन राष्ट्रीयकृत बैंकों की ओर से नीलम की जा रही है और भाजपा के लोग किसानों और लोगों को गुमराह करने का काम कर रहे हैं. 

आज देश में महंगाई चरम पर है बेरोजगारी विस्फोटक रूप ले चुकी:
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि आज देश में महंगाई चरम पर है बेरोजगारी विस्फोटक रूप ले चुकी है, आज नौजवान दुखी है, उस पर कोई चिंता नहीं हो रही है. किसान पिछले डेढ़ साल से धरने पर बैठे रहे उसकी कोई बात नहीं हो रही है. सीएम गहलोत ने कहा कि लोग समझ गए कि जिन लोगों ने बड़े-बड़े वादा करके 2014 में सत्ता पर कब्जा किया था आज वही लोग इन बातों को भूल गए. 

भविष्य में पार्टी छोड़कर जाने की सोचने वाले नेताओं को दो टूक संदेश दिया: 
कुल मिलाकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज पार्टी छोड़कर जाने वाले नेताओं तथा भविष्य में पार्टी छोड़कर जाने की सोचने वाले नेताओं को दो टूक संदेश दे दिया है. गहलोत ने कहा दिया है की जिनके मन मष्तिष्क में कांग्रेस नहीं है, वे कांग्रेस पार्टी या देश की क्या सेवा करेंगे. 

और पढ़ें