वाल्मीकि जयंती पर सचिन पायलट का सियासी मैसेज ! केंद्र सरकार पर भी किया जमकर प्रहार

वाल्मीकि जयंती पर सचिन पायलट का सियासी मैसेज ! केंद्र सरकार पर भी किया जमकर प्रहार

जयपुर: राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बढ़ती महंगाई व बेरोजगारी सहित अन्य मुद्दों को लेकर बुधवार को केंद्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार ने हर क्षेत्र में देश के साथ धोखा किया है. पायलट जयपुर के पास चाकसू में डॉ भीमराव आंबेडकर की अष्टधातु की प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. कार्यक्रम में इलाके के अनेक विधायक सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे.

केंद्र सरकार पर बरसते हुए पायलट ने कहा कि भाजपा की सरकार केंद्र में है. सात साल का इतिहास उठाकर देख लें, हर क्षेत्र में इन्होंने देश के साथ धोखा किया है. अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया. महामारी में हजारों लाखों लोग मर गए चिंता करने, जिम्मेदारी लेने वाला कोई सामने नहीं आया.' पायलट ने कहा कि बेरोजगारी ऐतिहासिक चरम पर पहुंच गई, पेट्रोल-डीजल सौ रुपये का व गैस सिलेंडर नौ सौ रुपये का हो गया. इस सरकार ने जले पर नमक छिड़कने का काम कृषि कानूनों से किया. पूरे देश में साल भर से उनका विरोध हो रहा है. पायलट ने कहा कि जो लोग आंबेडकर व पायलट का नाम नहीं लेते थे वे वोटों व सत्ता के लिए उन्हें पूजने तक लगे हैं. 

अंबेडकर साहब को जो मान सम्मान मिल रहा है तो वह आप लोगों की बदौलत मिल रहा:
पायलट ने कहा कि आज अंबेडकर साहब को जो मान सम्मान मिल रहा है तो वह आप लोगों की बदौलत मिल रहा है. जो लोग आंबेडकर साहब को देखते तक नहीं थे जो सरदार पटेल को देखते तक नहीं थे आज उनकी पूजा कर रहे हैं तो आपके दबाव में कर रहे हैं. इस बात को भूलना नहीं चाहिए. उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि ये लोग पाखंड में माहिर हैं इनको आंबेडकर साहब से कोई लगाव नहीं है लेकिन जब वोट लेना होता है, राज की बात आती है, सिंहासन की बात आती है तो ये तो बड़े बहरूपिए हैं जो किसी की भी पूजा कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को सबसे अधिक समर्थन अनुसूचित जाति व जनजाति समाज से मिला है और पार्टी हमेशा उनके साथ खड़ी रही है और खड़ी रहेगी. उन्होंने कहा कि मैं आपसे वादा करना चाहता हूं कि गरीबों, दलितों, आदिवासियों के साथ जहां भी अन्याय होगा हम उसका साथ देने को तैयार हैं.

जहां-जहां संभव होगा वहां हम हमारे दलित, आदिवासी भाई बहनों को मौका देंगे:
पायलट ने 21वीं सदी में भी दलितों के साथ असमानता व अन्याय की घटनाओं की ओर इशारा करते हुए कहा कि दलितों का अत्याचार, शोषण बंद करना होगा और यह सर्व समाज की जिम्मेदारी है. उन्होंने कहा कि हमारे दलित भाई बहनों का न केवल मान सम्मान बल्कि हर जगह उनकी भागीदारी सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी हमारी है. आज हम लोगों की सरकार है मुझे पूरा विश्वास है कि जहां-जहां संभव होगा वहां हम हमारे दलित, आदिवासी भाई बहनों को मौका देंगे. 

मेघवाल की जगह पर किसी दलित को मंत्री बनाया जाएगा:
राजस्थान सरकार में दलित समाज के कद्दावर नेता व मंत्री रहे मास्टर भंवर लाल मेघवाल के निधन का जिक्र करते हुए पायलट ने कहा कि उनकी जगह पर किसी दलित को मंत्री बनाया जाएगा. उन्होंने कहा,' मास्टर भंवरलाल जी ने कांग्रेस पार्टी व दलित समाज को जोड़ने का काम किया था. उनके जाने के बाद वह जगह खाली हुई है. मुझे पूरा विश्वास है कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी व सरकार जल्द ही दलित समुदाय के व्यक्ति को कैबिनेट मंत्री बनाकर राज्य सरकार में वह जगह देगी जो मास्टर साहब के जाने से खाली हुई.' राजस्थान के सामाजिक न्याय व आधिकारिता मंत्री मास्टर भंवर लाल मेघवाल का पिछले साल नवंबर में निधन हो गया था.

पायलट ने अपने मुखर समर्थक विधायक वेद प्रकाश सोलंकी की हौसला अफजाई भी की:
संबोधन में पायलट ने अपने मुखर समर्थक विधायक वेद प्रकाश सोलंकी की हौसला अफजाई भी की. उन्होंने कहा कि मैंने वेद जी को कहा कि जब हम संघर्ष करते हैं, उंची आवाज में बोलते हैं तो कहीं न कहीं उसका असर होता है. लेकिन मैंने उनसे कहा कि आप चिंता मत करें पूरी पार्टी आपके साथ खड़ी है हम सब आपके साथ खड़े हैं. आप दलितों की आवाज उठाते रहो हम आपके साथ काम करते रहेंगे.' कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोगों की उपस्थिति से उत्साहित पायलट ने कहा कि ये जोश, ये प्यार, ये आशीर्वाद बरकरार रखें. हम आपके साथ पहले थे, आज भी हैं और हमेशा रहेंगे. आप लोगों की आवाज उठाने का काम हम हमेशा करते आए हैं और करते रहेंगे. कार्यक्रम के मंच पर विधायक वेदप्रकाश सोलंकी, मुरारीलाल मीणा, जीआर खटाना, प्रशांत बैरवा, इंद्राज गुर्जर, इंदिरा मीणा व अमर सिंह जाटव तथा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव तरूण कुमार भी मौजूद थे. 

और पढ़ें