जयपुर Rajasthan Weather News: भीषण गर्मी और लू के प्रकोप के चलते सूनी नजर आ रही सड़कें, 'लॉक डाउन' जैसे बने हालात; भारत-पाक सीमा पर स्थिति और भी भयावह

Rajasthan Weather News: भीषण गर्मी और लू के प्रकोप के चलते सूनी नजर आ रही सड़कें, 'लॉक डाउन' जैसे बने हालात; भारत-पाक सीमा पर स्थिति और भी भयावह

Rajasthan Weather News: भीषण गर्मी और लू के प्रकोप के चलते सूनी नजर आ रही सड़कें, 'लॉक डाउन' जैसे बने हालात; भारत-पाक सीमा पर स्थिति और भी भयावह

जयपुर: प्रदेश के अधिकतर हिस्सों में भीषण गर्मी के चलते आम जनजीवन प्रभावित है. पश्चिमी इलाकों में भीषण गर्मी और लू के प्रकोप (scorching heat in rajasthan) के चलते सड़कें सूनी नजर आ रही है और लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं. ऐसे में राजस्थान के अधिकतर हिस्सों में 'लॉक डाउन' (lockdown) जैसे हालात नजर आ रहे हैं. 

राज्य के पश्चिमी इलाकों में भीषण गर्मी से न केवल आम नागरिक बल्कि रेगिस्तान में भारत पाक सीमाओं की रखवाली कर रहे सीमा सुरक्षा बल के जवानों को भी उच्च तापमान में कठोर परिस्थितियों का सामना करना पड़ रहा है. गर्मी से बचने के लिए अधिकांश दुकानदार शटर गिरा देते हैं और सड़के लगभग खाली रहती हैं. तापमान के बढ़ने के साथ ही नींबू पानी, छाछ, दही और जूस की मांग भी बढ़ गई हैं.

भारत पाक सीमा पर गर्मी से हालात और भी भयावह हो गए:
भारत पाक सीमा पर गर्मी से हालात और भी भयावह हो गए हैं. अन्य क्षेत्रों की तुलना में सीमावर्ती क्षेत्रों में तापमान एक से दो डिग्री सेल्सियस अधिक है. ऐसे हालात को देखते हुए सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने अपने जवानों को गर्मी से बचाने के लिये व्यापक इंतजाम किए हैं. जयपुर मौसम केन्द्र के एक अधिकारी बताया कि पश्चिमी राजस्थान एवं आसपास के क्षेत्रों के ऊपरी वायुमंडलीय स्तरों में बने प्रतिचक्रवात तंत्र व वायुमंडल के निचले स्तरों में गर्म व शुष्क पश्चिमी हवाओं के प्रभाव से राज्य में तीव्र लू की परिस्थिति बनी हुई है.

वर्तमान में चल रही लू का दौर अभी भी अगले 48 घंटों तक जारी रहेगा:
जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने कहा कि वर्तमान में चल रही लू का दौर अभी भी अगले 48 घंटों तक जारी रहेगा. तत्पश्चात तापमान में हल्की गिरावट होने की सम्भावना है. उन्होंने बताया कि एक नए पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से 16 मई से अधिकतर स्थानों के तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट होगी. उनके अनुसार अधिकतम तापमान 45 डिग्री से नीचे दर्ज होंगे तथा लू से 16 मई से राहत मिलने की प्रबल संभावना है.

आगामी 24 घंटों के दौरान कई जिलों में रेड अलर्ट और 'ऑरेंज अलर्ट' जारी किया:
शर्मा ने बताया कि बीकानेर व जोधपुर संभाग के जिलों में 14-15-16 मई के दौरान तेज धूल भरी हवाएं/आंधियां (30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा) चलने की संभावना है. विभाग ने आगामी 24 घंटों के दौरान बीकानेर, चूरू, जैसलमेर, गंगानगर, हनुमानगढ, झुंझुनूं और कोटा जिलों में लू के लिए रेड अलर्ट और कई अन्य जिलों के लिए 'ऑरेंज अलर्ट' जारी किया है.

और पढ़ें