मुंबई के सबसे बड़े बंदरगाह पर हुआ रैन्समवेयर अटैक

FirstIndia Correspondent Published Date 2017/06/28 13:34

मुंबई| एक बार फिर देश के बड़े बन्दरगाह पर साइबर अटैक हुआ है| यह रैन्समवेयर अटैक देश के बड़े बन्दरगाह में से एक जेएनपीटी के जीटीआई टर्मिनल पर हुआ है| इस साइबर अटैक के चलते सभी सिस्टम बंद हो गए है और वहीं कंटेनर उतारने और चढ़ाने का काम भी प्रभावित हुआ है। 

 

यह रैन्समवेयर अटैक यूरोप में भी हुआ है जिसके चलते कई बड़ी कॉरपोरेशनों तथा कुछ अहम बैंकों का कामकाज बुरी तरह प्रभावित हो चुका है। दुनियाभर में प्रभावित हुई कंपनी एपी मॉलर-मैर्स्क (AP Moller-Maersk) ही भारत में जेएनपीटी पर गेटवे टर्मिनल्स इंडिया (जीटीआई) का संचालन करती है, जिसकी क्षमता 18 लाख स्टैंडर्ड कन्टेनर यूनिट की है।

 

आपको बता दें कि जेएनपीटी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "हमें बताया गया है कि जीटीआई पर संचालन रुक गया है, क्योंकि (मैलवेयर हमले के चलते) उनके सिस्टम डाउन (बंद) हो गए हैं, वे मैन्यूअली काम करने की कोशिश कर रहे हैं| अधिकारी के मुताबिक, जेएनपीटी भी कंपनी की मदद करने की कोशिश कर रही है, लेकिन ज़्यादा कुछ नहीं किया जा सकता, क्योंकि समस्या सिस्टम के साथ है।

 

यूक्रेन के अधिकारियों ने देश के पॉवरग्रिड और साथ ही बैंकों एवं सरकारी दफ्तरों के कंप्यूटरों में गंभीर घुसपैठ की जानकारी दी है। वहां के एक वरिष्ठ कर्मचारी ने एक काले कंप्यूटर स्क्रीन की तस्वीर डालते हुए लिखा, "पूरा नेटवर्क बंद हो चुका है| रूस की रोसनेफ्ट तेल कंपनी ने भी हैकिंग का शिकार होने की ख़बर देते हुए कहा कि वह भारी नुकसान से बाल-बाल बचा। वहीं डेनमार्क की जहाजरानी कंपनी एपी मॉलर-मैर्स्क ने भी ऐसी ही जानकारी दी।

 

Mumbai, Port, Ransomware Attack, Attack, Cyber Attack, Virus 

  
First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in