मां मॉरीन वाड्रा के साथ रॉबर्ट वाड्रा कल होंगे जयपुर में ED के सामने पेश

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/11 08:01

जयपुर। बीकानेर जिले के कोलायत व महाजन फायरिंग रेंज में हुई 1422 बीघा जमीनों की खरीद मामले में प्रतर्वन निदेशालय की जांच का सामना कर रहे रोबर्ट वाड्रा से मंगलवार सुबह 10.30 बजे जयपुर में पूछताछ होगी। ED में अपना पक्ष रखने के लिए रॉबर्ट वाड्रा अपनी मां मारीन वाड्रा के साथ सोमवार दोपहर को ही जयपुर पहुंच गए हैं।

राजस्थान हाई कोर्ट की जोधपुर बैंच के एक आदेश की अनुपालना में स्काई लाइट हॉस्पिटलिटी LLP के साझेदार के रूप में रॉबर्ट और उनकी मां मॉरीन वाड्रा के साथ प्रवर्तन निदेशालय प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉड्रिंग कानून में दर्ज किए गए मामले में पूछताछ करेगा। वाड्रा के लिए राहत की बात यह भी होगी कि जमीन घोटाला मामले में ED अधिकारी इनसे केवल दस्तावेजी जांच और पूछताछ ही कर सकेंगे, इनकी गिरफ्तारी नहीं होगी। 

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में रॉबर्ट वाड्रा की कम्पनी के जमीन खरीद मामले में ED अब तक फरीदाबाद के अशोक सिंह और बीकानेर के जय प्रकाश बगड़वा को गिरफ्तार कर चुकी है। अशोक सिंह को हरियाणा कांग्रेस के एक बड़े नेता महेश नागर का करीबी बताया जा रहा है। पिछले साल ED की जयपुर टीम ने फरीदाबाद में महेश नागर के भी छापेमारी की थी।

ED की राजस्थान इकाई इस मामले में अब तक एक करोड़ 82 लाख रुपए की सम्पत्तियों को प्रोविजनली अटैच भी कर चुकी है। माना जा रहा है कि जयपुर के प्रवर्तन निदेशालय कार्यालय में होने वाली पूछताछ में जयपुर के अलावा दिल्ली के वरिष्ठ अधिकारियों के शामिल हो सकते हैं।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

PM Modi to address BJP\'s \'Vijay Sankalp Sabha\' rally in Tonk Rajasthan

जानिए कैसे बाँसुरी रखने पर आपके घर में होगी धन की वर्षा | Good Luck Tips
पुलवामा हमले के बाद सेना की हिटलिस्ट में फिदायीन टॉप पर
पाकिस्तान ने की संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की शिकायत
कुछ बड़ा करेगा भारत, ट्रंप ने जताई चिंता
इस बार का चुनाव होगा - Money Game !
मोदी के साथ - RSS का हाथ !
नियमों की धज्जियां उड़ा रही है नोएडा अथॉरिटी