नई दिल्ली ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले- नागर विमानन क्षेत्र की सुरक्षा सर्वोपरि है

ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले- नागर विमानन क्षेत्र की सुरक्षा सर्वोपरि है

ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले- नागर विमानन क्षेत्र की सुरक्षा सर्वोपरि है

नई दिल्ली: नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि देश के नागर विमानन क्षेत्र की सुरक्षा सर्वोपरि है और हर घटना, चाहे वह छोटी ही क्यों न हो उसे दर्ज किया जा रहा है.

स्पाइसजेट तथा अन्य एयरलाइन से जुड़ी कई घटनाएं हाल में सामने आई हैं, इन्हीं की पृष्ठभूमि में सिंधिया ने कहा कि नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने अपने सालाना निगरानी कार्यक्रम के तहत इस वर्ष 3,709 जांच करने का लक्ष्य रखा है. कोरोना वायरस महामारी से पहले यह लक्ष्य 2,775 जांच का था. ‘पीटीआई-भाषा’ को हाल में दिए एक साक्षात्कार में सुरक्षा से जुड़े सवाल के जवाब में सिंधिया ने कहा कि नागर विमानन क्षेत्र एक ऐसा क्षेत्र है जहां 100 फीसदी घटनाओं की जानकारी दी जाती है. नागर विमानन मंत्री ने कहा कि हम यह सुनिश्चित करते हैं कि हर घटना दर्ज हो, चाहे वह कोई छोटा सा मुद्दा या कोई और बात ही क्यों न हो. नागर विमानन मंत्रालय के लिए सुरक्षा सर्वोपरि है.

डीजीसीए के वार्षिक निगरानी कार्यक्रम में हर साल एक विस्तृत सूची तैयार की जाती है. इस योजना के तहत एयरलाइन, विमान प्रशिक्षण संगठन और ड्रोन स्कूल संगठन भी आते हैं. सिंधिया ने कहा कि डीजीसीए ने अपने वार्षिक निगरानी कार्यक्रम में 3,709 जांच का कठिन लक्ष्य रखा है. सुरक्षा परिवेश सुनिश्चित करने के मामले में वे पूरी तरह से स्पष्ट हैं. हमारे लिए सुरक्षा सर्वोपरि है. सोर्स- भाषा

और पढ़ें