कोरोना मरीजों से मनमानी वसूली पर राज्य सरकार सख्त, जयपुर में शिवम सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल को किया सीज

कोरोना मरीजों से मनमानी वसूली पर राज्य सरकार सख्त, जयपुर में शिवम सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल को किया सीज

जयपुरः एक तरफ प्रदेश सहित पूरे देश में कोरोना महामारी के कारण प्रशासन सहित लोग परेशान हैं. वहीं दूसरी ओर आपदा में अवसर तलाश कर कुछ अस्पताल मरीजों से मनमानी वसूली करने से बाज नहीं आ रहे हैं. जहां एक और सरकारे निजी अस्पतालों को बार-बार कह रही है कि कोरोना मरीजों से तय शुल्क के अलावा किसी तरह का मनमानी वाला शुल्क न बसूले, और अगर ऐसा होता है तो सरकार उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई करेंगी. कुछ ऐसा ही मामला राजधानी जयपुर में सामने आया है. जहां पहली बार राज्य सरकार ने किसी निजी अस्पताल को सीज करने की कार्रवाई की गई है. बताया जा रहा है कि अस्पताल में कोरोना मरीजों से मनमानी शुल्क वसूल किया जा रहा था. 

प्रताप नगर स्थित शिवम सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल को किया सीजः
जानकारी के अनुसार कोरोना मरीजों से मनमानी वसूली कर रहे निजी अस्पतालों पर राज्य सरकार ने सख्त रूख अपनाते हुए जयपुर में पहली बार किसी निजी अस्पताल को सीज करने की कार्रवाई को अंजाम दिया गया है. जानकारी के अनुसार काफी दिनों से निजी अस्पतालों द्वारा कोरोना मरीजों से मनमानी वसूली करने की शिकायत मिल रही थी. इन शिकायतों पर अमल करते हुए रविवार को जयपुर कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा के निर्देश पर CMHO-2 डॉ.हंसराज बधालिया की टीम ने राजधानी के प्रताप नगर स्थित शिवम सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल को सीज करने की कार्रवाई को अंजाम दिया. वहीं इस दौरान अस्पताल में भर्ती 4 कोरोना मरीजों को तत्काल प्रभाव से शेल्बी हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया. इस दौरान किसी भी विवाद से बचने के लिए मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा.

हॉस्पिटल के खिलाफ लगातार मिल रही थी शिकायतेंः
CMHO-2 डॉ.हंसराज बधालिया ने बतया कि शिवम सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के खिलाफ लगातार मरीजों से मनामनी वसूली की शिकायतें मिल रही थी. उन्होंने बताया कि अस्पताल में करवाई गई जांच में सामने आया कि कोरोना मरीजों से तय रेट से कहीं गुना अधिक वसूली की जा रही थी. उन्होंने बताया कि विभाग की तरफ से अल्टीमेटम दिए जाने के बावजूद अस्पताल में मरीज भर्ती किए व हॉस्पिटल को आवंटित ऑक्सीजन सिलेंडर भी इधर-उधर करने की शिकायत मिली थी. ऐसे में प्रथमदृष्टया जांच के आधार पर अस्पताल को सीज करने की कार्रवाई की गई है.

और पढ़ें