श्रीलंका में 8वां बम धमाका-पूरे देश में लगा कर्फ्यू, 207 की मौत-450 घायल

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/21 03:55

कोलंबो। कोलंबो और श्रीलंका के कई इलाकों में ईस्टर के दौरान 8 बम धमाके हुए हैं। धमाका तीन चर्च और 5 होटलों में हुआ है। घटना में 207 लोगों की मौत हो गई, जबकि 450 घायल हैं। मरने वालों में 35 विदेशी हैं। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, ब्लास्ट के बाद श्रीलंका सरकार ने सोशल मीडिया और मैसेजिंग सर्विस पर पाबंदी लगा दी है। सरकार ने नाइट कर्फ्यू का भी ऐलान किया है।

अबतक किसी संगठन या व्यक्ति ने इस ब्लास्ट की जिम्मेदारी नहीं ली है। किसी तरह की और अनहोनी से बचने के लिए वहां की सुरक्षा एजेंसी अलर्ट पर हैं। सभी अधिकारियों की छुट्टी कैंसल कर दी गई है। लोगों से गुजारिश की गई है कि हॉस्पिटल के आसपास ज्यादा भीड़ न लगाएं। खबर है कि श्री लंका में सातवां ब्लास्ट देहीवाला शहर में हुआ है। इसमें दो लोग मारे गए हैं। 

पुलिस ने कहा कि कोलंबो में सेंट एंथनी चर्च, नौगोंबो में सेंट सेबेस्टियन चर्च और बट्टिकलोबा में एक चर्च को निशाना बनाया गया। इसके अलावा होटल शांग्री-ला, सिनामोन ग्रैंड और किंग्सबरी में भी धमाका हुआ है। इस बीच पूरे देश में शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है।

श्रीलंका में हुए धमाके पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी शोक जताया है। उन्होंने कहा कि इस आंतकवादी कार्रवाई की निंदा करता हूं। वहीं ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरिजा मे ने इस घटना पर कहा कि श्री लंका के होटल और चर्च पर हुए हमले डरानेवाले हैं। इस घटना का शिकार हुए लोगों के साथ मेरी सहानुभूति है। इसके खिलाफ हम सबको एकजुट होकर खड़े होना चाहिए ताकि कोई भी अपने धर्म से जुड़े कार्य करते वक्त डर में न रहे।

धमाके में मृतकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इस बीच प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने आपात बैठक बुलाई है। श्रीलंका के इकोनॉमिक रिफॉर्म्स एंड पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन मिनिस्टर हर्षा डिसिल्वा ने कहा कि भयानक दृश्य।

आपातकालीन दल पूरी ताकत से सभी स्थानों पर हैं। हम कई घायलों को अस्पताल ले गए। उम्मीद है कि कई लोगों की जान बच गई होगी। वहीं सेना ने 200 सैनिकों को इलाके में तैनात कर दिया है।

श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघेने कहा कि मैं आज हमारे लोगों पर कायरतापूर्ण हमलों की कड़ी निंदा करता हूं। मैं इस दुखद समय में सभी श्रीलंकाई लोगों को एकजुट और मजबूत रहने का आह्वान करता हूं। कृपया अटकलों के प्रचार से बचें। सरकार इस स्थिति को रोकने के लिए तत्काल कदम उठा रही है।

प्रधानमंत्री मोदी से लेकर सुषमा स्वराज सभी ने ने श्रीलंका में हुए हमले की ट्वीटर पर निंदा की है। विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने ट्वीट कर कहा है कि हम कोलंबो स्थित भारतीय उच्‍चायोग के संपर्क में है और लगातार संपर्क बनाए हुए हैं। वहीं भारतीय उच्‍चायोग ने भारतीय नागरिकों की मदद के लिए इमर्जेंसी नंबर जारी कर दिए हैं। श्रीलंका में अपने परिचितों की जानकारी के लिए +94777903082 +94112422788 +94112422789 पर मदद प्राप्‍त की जा सकती है। 
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in