शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों ने खोला नोएडा-फरीदाबाद जाने वाला एक रास्ता

शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों ने खोला नोएडा-फरीदाबाद जाने वाला एक रास्ता

शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों ने खोला नोएडा-फरीदाबाद जाने वाला एक रास्ता

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों ने नोएडा और फरीदाबाद जाने वाले एक वैकल्पिक रास्ते को खोल दिया है. प्रदर्शनकारियों ने इसे बंद कर रखा था. इस रास्ते से सिर्फ छोटी गाड़ियां, कार और बाइक ही जा सकते हैं. इसकी वजह यह है कि यह रास्ता बेहद सकरा है. ऐसे में इस रास्ते को खोलने से कोई बड़ी राहत मिलती नजर नहीं आ रही है. 

डोनाल्ड ट्रंप के भारत आने की तैयारी जयपुर एयरपोर्ट पर भी, यूएस आर्मी के विशेष विमान ने लिया सुरक्षा का जायजा 

हजारों लोगों को रोजमर्रा के कामों में हो रही परेशानी:
बता दें कि शाहीन बाग में पिछले करीब दो महीनों से नागरिकता कानून का विरोध चल रहा है. विरोध कर रहे लोगों के रास्ता बंद करने से हजारों लोगों को रोजमर्रा के कामों में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इसी के चलते यह मामला सुप्रीम कोर्ट भी पहुंचा. 

डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा के खर्च पर बवाल, प्रियंका गांधी ने पूछा-समिति की आड़ में सरकार क्या छिपा रही है? 

सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त किए गए वार्ताकारों से बातचीत के खोला रास्ता:
इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह अपना प्रदर्शन जारी रख सकते हैं लेकिन किसी अन्य स्थान पर. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने दो मध्यस्थों को भी चुना और उन्हें जिम्मेदारी दी कि वे प्रदर्शन स्थल पर जाएं और लोगों से बातचीत कर मामले को सुलझाएं. वहीं प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त किए गए वार्ताकारों से बातचीत के बाद अबुल फजल वाले रास्ते को खोलने का फैसला लिया गया है.


 

और पढ़ें