Live News »

खाटूश्यामजी में मिनी बस और टैंपो की जबरदस्त भिड़ंत होने से 8 लोगों की मौत, दर्जनभर की हालत गंभीर

खाटूश्यामजी में मिनी बस और टैंपो की जबरदस्त भिड़ंत होने से 8 लोगों की मौत, दर्जनभर की हालत गंभीर

सीकर: जिले के खाटूश्यामजी में बुधवार रात एक मिनी बस और टैंपो की जबरदस्त भिड़ंत होने से 8 लोगों की मौत हो गई. हादसे में 20 से ज्यादा लोग घायल हो गए उनमे से दर्जनभर की हालत गंभीर बताई जा रही है. गंभीर घायलों को जयपुर रेफर किया गया है. हादसा उस समय हुआ जब संतोषपुरा गांव के पास मिनी बस सामने से आ रहे टैंपो से टकरा गई. हादसे के बाद चारों तरफ चीख-पुकार मच गई. 

हादसे में तीन मृतकों शिनाख्त यूपी निवासी के रूप में हुई: 
हादसे में घायलों को पहले रींगस से खाटू श्यामजी के अस्पताल ले जाया गया. जहां से 9 लोगों की हालत गंभीर होने पर उन्हें इलाज के लिए जयपुर रेफर कर दिया गया. इस हादसे में तीन मृतकों शिनाख्त यूपी निवासी के रूप में हुई है. देर रात तक पुलिस अन्य मृतकों की पहचान में जुटी रही. 

टैंपो की छत धमाके के साथ अलग हो गई: 
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि टैंपो की छत धमाके के साथ अलग हो गई. टैंपो में सवार कई लोगों के हाथ पैर भी कट गए. बस का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त होने के साथ स्टेयरिंग भी ड्राइवर सीट के अंदर चली गई. 

सड़क हादसे पर सीएम गहलोत ने शोक जताया: 
इस सड़क हादसे पर सीएम गहलोत ने शोक जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि खाटू श्याम रींगस रोड पर संतोषपुरा गांव के पास हुई दुर्घटना में 7 लोगों की मौत की खबर से बहुत दुख पहुंचा है. मैं अपनी ओर से शोक संतप्त परिजनों को संवेदना प्रकट करता हूं. ईश्वर शोक संतप्त परिजनों यह क्षति सहने की शक्ति प्रदान करें. ईश्वर से घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

और पढ़ें

Most Related Stories

खाटूश्यामजी में कर्फ्यू, 6 दिन तक सब बंद

खाटूश्यामजी में कर्फ्यू, 6 दिन तक सब बंद

खाटूश्यामजी(सीकर): जन्माष्टमी से पहले खाटूश्यामजी में बढ़े कोरोना मरीजों के बाद प्रशासन ने बाजार पूरी तरह बंद करवा दिया है. जीरो मोबिलिटी के साथ कस्बे की सीमाओं को भी सील कर दिया गया है. ऐसे में बाहरी लोगों के प्रवेश के साथ भीतर भी आवागमन बंद होने पर कस्बे में सन्नाटा पसर गया है. प्रशासन ने 17 अगस्त तक  कस्बे में इसी तरह लॉकडाउन जारी रखने का फैसला लिया है. ताकि जन्माष्टमी पर खाटूश्यामजी पहुंचने वाले बाहरी लोगों के प्रवेश के साथ भीतरी आवागमन को भी कम कर कोरोना संक्रमण का खतरा कम किया जा सके. 

खाटू नगरी में आज कृष्ण जन्माष्टमी पर सुनाई नहीं देगा नंद के आनंद भयो..का जयकारा 

बाहरी लोगों के सैंपल लेकर कर रहे विदा:            
खाटूश्यामजी में चारों ओर से प्रवेश बंद कर दिया गया है. पुलिस जाब्ते के साथ एसडीएम अशोक कुमार रणवां रींगस रोड स्थित तोरण द्वार पर मोर्चा संभाल रहे हैं. जहां बाहर से आने वाले हर व्यक्ति को खाटूश्यामजी में प्रवेश से रोकने के साथ उनकी सैंपलिंग कर वापस लौटाया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक पट बंद होने पर भी जन्माष्टमी पर खाटूश्यामजी दर तक पहुंचने वाले सैंकड़ों लोगों को अब तक वापस लौटाया जा चुका है.

 मुख्यमंत्री गहलोत ने जोधपुर पहुंच बहन विमला देवी से बंधवाई राखी, रिश्तों की दी अहमियत 

12 मरीजों की दूसरी रिपोर्ट पॉजिटिव, एक नया मरीज:
खाटूश्यामजी में दो दिन में सात कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद आज भी एक नया कोरोना मरीज मिला. सीतारामपुरा निवासी मरीज के अलावा यहां के कोविड सेंटर में मौजूद 12 मरीजों की भी दूसरी रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है. बता दें कि इससे पहले सोमवार व मंगलवार को खाटूश्यामजी में सात कोरोना पॉजिटिव केस मिले थे. जिनमें चार मिठाई की दुकान संचालक के साथ एक-एक प्रवासी मजदूर, सब्जी विक्रेता और  किराणा स्टोर संचालक है.

खाटू नगरी में आज कृष्ण जन्माष्टमी पर सुनाई नहीं देगा नंद के आनंद भयो..का जयकारा

खाटू नगरी में आज कृष्ण जन्माष्टमी पर सुनाई नहीं देगा नंद के आनंद भयो..का जयकारा

सीकर: खाटूश्यामजी मे जहां हर वर्ष देशभर से हजारों श्रद्धालु खाटूधाम पहुंचकर बाबा श्याम के दर पर कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाते है और पूरी नगरी नंद के आनंद भयो.., हाथी घोड़ा पालकी..जैसे अनेक जयकारों से सरोबार होती थी. संध्या होते ही मंदिर परिसर में देवी देवताओं की आलौकिक झांकियों के बीच कृष्ण और श्याम भजनों का दौर रात्रि 12 बजे तक चलता था. मगर इस बार कोरोना संक्रमणकाल के चलते आज बिना भक्तों के जन्माष्टमी का पर्व सादगीपूर्ण तरीके से मनाया जाएगा. श्री श्याम मंदिर कमेटी द्वारा रात्रि 12 बजे बाबा श्याम की विशेष आरती के बाद  पंजीरी, माखन मिश्री, पंचामृत और 56 भोग बाबा श्याम को लगाया जाएगा. कमेटी की ओर से भक्तों के लिए सोशल मीडिया पर लाइव दर्शन और आरती की व्यवस्था कर रखी है. 

Horoscope Today, 12 August 2020: जन्माष्टमी पर आज राशि अनुसार करें भगवान श्रीकृष्ण पूजा, भाग्य देगा भरपूर साथ 

19 मार्च से ही बाबा श्याम के कपाट दर्शनार्थ बंद कर दिए गए थे:
गौरतलब है कि कोरोनाकाल के चलते हुए लॉकडाउन के कारण 19 मार्च से ही बाबा श्याम के कपाट दर्शनार्थ बंद कर दिए गए थे. कोरोनाकाल में भी श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला बदस्तूर जारी है. मगर राज्य सरकार की गाइडलाइन के कारण मंदिर कमेटी ने मुख्य प्रवेश द्वार पर बेरिकेट्स लगाकर दर्शन मार्ग को बंद होने के कारण श्रद्धालु यहां से ही धोक लगाकर और प्रसाद चढाकर मनौतियां मांग कर अपने गंतव्या की ओर लौट रहे हैं. 

बिना भक्तों के बाजार भी वीरान:
विशेषतौर पर कृष्ण जन्माष्टमी के दिन बाजार भक्तों से गुलजार रहते हैं. इस दिन पोशाक की दुकानों पर श्रद्धालु कृष्ण भगवान की पीत्तल की मूर्ति, पोशाक, पालना और उनके सजावट के सामान सहित भगवान को गर्मी से निजात दिलाने के लिए मिनी कूलर व पंखे की जमकर बिक्री होती है. मगर इस बार बिना भक्तों के बाजार वीरान होने से दुकानदार भी मायूस बैठे हैं. 

हर धर्मशाला व वार्डो में होते है महोत्सव:
कृष्ण जन्मोत्सव के अवसर पर खाटू की अधिकांश धर्मशालाओं में भजन संध्याएं आयोजित होती है. जिसमें देशभर के नामी गिरामी गायक कलाकार श्याम भजनों की प्रस्तुतियां देते है. वहीं अनेक वार्डो में महोत्सव और प्रतियोगिताएं होती है. जिसमें बच्चों से लेकर बड़े चाव से भाग लेते है. मगर इस बार पुलिस और प्रशासन के आदेश के चलते कार्यक्रम नहीं होंगे. 

VIDEO: प्रदेशवासियों को विश्वास दिलाता हूं कि आने वाले दिनों में दुगुने जोश से काम करेंगे - सीएम गहलोत 

पुलिस ने की घर में जन्माष्टमी मनाने की अपील: 
कोरोना के बढते संक्रमण को देखते हुए पुलिस ने कुछ दिन पहले शांति समिति की बैठक आयोजित की थी. जिसमें स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए कृष्ण जन्माष्टमी पर कार्यक्रम नहीं होने सहित सभी भक्तों को घर में ही पर्व मनाने की हिदायत दी थी. थाना प्रभारी पूजा पूनियां ने बताया कि इस दिन भक्त मंदिर तक नहीं पहुंचे. इसके लिए अतिरिक्त पुलिस जाप्ता मंगवाया गया है. वहीं मुख्य रास्तों पर बेरिकेड्स लगाकर श्रद्धालुओं को रोका जाएगा. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए सीकर से रमेश शर्मा की रिपोर्ट

जयकारों से गूंजने लगी बाबा श्याम की नगरी, उमड़ने लगा भक्तों का जनसैलाब

जयकारों से गूंजने लगी बाबा श्याम की नगरी, उमड़ने लगा भक्तों का जनसैलाब

सीकर: बाबा श्याम का लक्खी मेला 27 फरवरी से शुरू हो गया है. धीरे-धीरे भक्तों का आना मेले में जहां शुरू हुआ है तो वहीं अब बाबा श्याम की नगरी जयकारों से गूंजने लगी है चलो बुलावा आया है बाबा ने बुलाया के साथ ही अब भक्त धीरे-धीरे बाबा की ओर बढ़ने लगे हैं. 

दस साल से जंजीरों में जकड़ी जिंदगी, मानसिक रोगी महिला को नहीं मिल रहा उपचार 

35 से 40 लाख लोग लगाते है बाबा के दरबार में हाजिरी:
इस लक्खी मेले में करीब 35 से 40 लाख लोग बाबा श्याम के दरबार में हाजिरी लगाते हैं तो वहीं जिला प्रशासन ने मेले की पूरी व्यवस्था कर रखी है. बाबा श्याम का लक्खी मेला 4 मार्च से 7 मार्च तक परवान पर रहेगा इस मेले में देश से ही नहीं बल्कि विदेशों से भी लोग आकर बाबा श्याम के दरबार में हाजिरी लगाते हैं. 

हनी ट्रैप गिरोह चढ़ा पुलिस के हत्थे, दो अलग-अलग मामले में पांच आरोपी गिरफ्तार 

 

खाटूश्यामजी मेले में वीआईपी दर्शन के लिए लगाये गये टीन शेड का कस्बे वासियों ने किया विरोध, जमकर हुआ बवाल

खाटूश्यामजी मेले में वीआईपी दर्शन के लिए लगाये गये टीन शेड का कस्बे वासियों ने किया विरोध, जमकर हुआ बवाल

सीकर: जिले के खाटूश्यामजी कस्बे में बाबा श्याम के 10 दिवसीय वार्षिक लक्खी मेले के दूसरे दिन ही वीआईपी दर्शन के लिए लगाए गए टीन शेड का वार्ड 3 के लोगों ने विरोध किया और विरोध कर रहे लोगों को पुलिस ने पहले तो समझाइस की और फिर उनके साथ मारपीट कर उन्हें एक दर्जन लोगों को थाने में लाकर बंद कर दिया. बाद में जिला कलेक्टर यज्ञ मित्र सिंहदेव ने कहा कि मेरे को मेले में व्यवस्था ही बनानी है आप कृपया मेरी मदद करें. अन्यथा अव्यवस्था फैलाने पर आप के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

अजमेर शरीफः देश के कोने-कोने से आए जायरीनों ने अदा की जुमे की नमाज 

कस्बेवासियों ने थाना परिसर में पहुंचकर विरोध जताया:
कस्बे वासियों के विरोध स्वरूप में पालिका अध्यक्ष ममता मुंडोतिया व अनेक पार्षद व कस्बेवासी थाना परिसर में पहुंचकर विरोध जताया. बढ़ते विरोध को देखकर जिला कलेक्टर ने सभी पकड़े गए लोगों को छोड़ने के आदेश दिए और दोबारा ऐसी गलती नहीं करने की हिदायत दी.

महिलाओं की ठगी का शिकार बनीं आधा दर्जन ग्रामीण महिलाएं, गिरोह ने बनाया निशाना 

चारों तरफ टीन शेड लगाकर रास्तों को बंद किया गया: 
गौरतलब है कि इस बार जिला कलेक्टर के सख्त आदेशों के चलते कस्बे वासियों को देखा जाए तो बंद कर दिया गया है. चारों तरफ टीन शेड लगाकर रास्तों को बंद किया गया है और इस बार वीआईपी लोगों के लिए किसी प्रकार की असुविधा न हो उनके लिए थाने से अलग रास्ता बनाया गया है. जिसका कस्बे वासियों और वार्ड वासी विरोध कर रहे हैं. लगता है आने आठ दिन कस्बेवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ा सकता है. 

उपस्थिति पूरी भेजने के नाम पर बीएड कॉलेज संचालक को एसीबी ने रिश्वत लेते रंगे हाथों किया गिरफ्तार

उपस्थिति पूरी भेजने के नाम पर बीएड कॉलेज संचालक को एसीबी ने रिश्वत लेते रंगे हाथों किया गिरफ्तार

सीकर: काटूश्यामजी के नजदीकी गांव अलोदा में एसीबी की टीम ने आज एक बीएड कॉलेज संचालक को 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. आरोपी संचालक ने एक छात्र से पूरी उपस्थिति भेजने के नाम पर रिश्वत की मांग की थी. जिसकी शिकायत छात्र ने एसीबी को दी थी. उसके बाद जोधपुर एसीबी ने आरोपी को पकड़ने की कार्रवाई की. 

शहीद राजीव को बहन ने अंतिम बार राखी बांधकर किया विदा, 9 वर्षीय बेटे ने दी मुखाग्नि 

संचालक ने उसे परीक्षा से वंचित होने की बात कही:
मिली जानकारी के अनुसार अलोदा गांव की जगन टीटी कॉलेज में जोधपुर का ओसियां निवासी प्रकाश विश्नोई बीएड द्वितीय वर्ष का छात्र है. छात्र की उपस्थिति कम बताते हुए संचालक ने उसे परीक्षा से वंचित होने की बात कही. उसके बाद उपस्थिति पूरी भेजने के लिए 27 हजार रुपए की मांग की. इस पर छात्र ने इसकी शिकायत एसीबी को की. शिकायत के बाद एसीबी ने अपना जाल बिछाते हुए संचालक को 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. 

नर्स ग्रेड-2 और ANM भर्ती-2018 पर हाईकोर्ट की रोक 

Open Covid-19