राहुल गांधी के दौरे के दौरान आज बदली-बदली दिखी मंच की तस्वीर! दिखा अलग ही नजारा

राहुल गांधी के दौरे के दौरान आज बदली-बदली दिखी मंच की तस्वीर! दिखा अलग ही नजारा

हनुमानगढ़: कांग्रेस नेता राहुल गांधी शुक्रवार को दो दिन के राजस्थान के दौरे पर पहुंचे. वे यहां हनुमानगढ़ के पीलीबंगा पहुंचे. यहां पर आज राहुल गांधी के मंच की तस्वीर बदली-बदली नजर आई. पीलीबंगा सभास्थल के मंच पर एक अलग ही नजारा देखने को मिला. राहुल गांधी के एक तरफ सीएम अशोक गहलोत बैठे थे और दूसरी तरफ पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा थे. जबकि पिछले दौरों में अलग तस्वरी नजर आती थी. एक तरफ गहलोत और दूसरी तरफ पायलट नजर आते थे. अलबत्ता मंच पर जरूर मौजूद रहे सचिन पायलट भी. लेकिन इस बार जगह चेंज थी. 

Image

नए कृषि कानून देश की 40 प्रतिशत जनता का धंधा बंद कर देंगे:
वहीं इस दौरान किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि नए कृषि कानून देश की 40 प्रतिशत जनता का धंधा बंद कर देंगे. उन्होंने कहा कि तीनों नए कृषि कानूनों को लेकर संसद में विरोध किया. महापंचायत को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मैं आपको तीन कानूनों को के बारे में समझाना चाहता हूं. कृषि सबसे बड़ा व्यवसाय हैं. 40 प्रतिशत लोग कृषि व्यवसाय से जुड़े है. करोड़ों लोग मिलकर इस व्यवसाय को चलाते है. कांग्रेस की कोशिश रही है कि ये एक किसी एक व्यक्ति के हाथ में  धंधा ना चला जाए, इसलिए कांग्रेस लड़ रही है. 

Image

पहला कानून मंडी को मारने का कानून:
पीलीबंगा में राहुल गांधी ने कहा कि किसान कानूनों को ध्यान से समझिए, क्योंकि मीडिया नहीं समझायेगा. मीडिया उन्हीं का है जो कृषि व्यापार को लोगों से छीनता है. पहला कानून मंडी को मारने का कानून है. राहुल गांधी ने कहा कि दूसरा कानून जैसे ही लागू होगा, हिंदुस्तान में जमाखोरी शुरू हो जाएगी. मंडिया खत्म हो जाएगी, जब हिंदुस्तान का किसान उद्योगपति के आगे खड़ा होगा. अपना हक मांगेगा तो वो न्यायालय नहीं जा सकता. केंद्र सरकार का इतना ही लक्ष्य है कि 40 प्रतिशत लोगों का व्यवसाय 2-3 लोगों के हाथ में चला जाए.

Image

मोदी जी अपने मित्रों के लिए करना चाहते है रास्ता साफ:
राहुल गांधी ने कहा कि मोदी कहते है मैंने किसानों के लिए किया, तो देश का किसान दुःखी क्यों है. लाखों किसान बॉर्डर पर खड़े है. 200 किसानों की जान गई है. ये केवल हम दो हमारे दो के लिए किया जा रहा है. मोदी जी अपने मित्रों के लिए रास्ता साफ करना चाहते है. उन्होंने कहा कि मोदी जी कहते है किसानों से बात करना चाहते हैं. पहले किसानों के कानून वापस ले. उसके बाद जितनी बात करनी है करिए. मंडियों सहित अन्य व्यवस्थाएं आपकी रक्षा करते है. कांग्रेस पार्टी मजदूरों और किसानों के साथ है. हम कानूनों को रद्द किए बगैर चुप नहीं बैठेंगे. राहुल गांधी ने कहा कि चीन से क्या समझौता किया. अपनी जमीन चीन को दे दी. फिंगर 4 तक हमारी जमीन थी. अब मोदी जी फिंगर 3 की बात कह रहे है. चीन के सामने खड़े नहीं होंगे. किसान मजदूरों के सामने अड़ेंगे. मोदी जी को एक गलतफहमी है. वे किसान मजदूरों की ताकत नहीं जानते.

Image

और पढ़ें