राज्य सरकार डीएपी आपूर्ति में सुधार के लिए निरन्तर प्रयासरत - CM गहलोत

राज्य सरकार डीएपी आपूर्ति में सुधार के लिए निरन्तर प्रयासरत - CM गहलोत

राज्य सरकार डीएपी आपूर्ति में सुधार के लिए निरन्तर प्रयासरत - CM गहलोत

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा डीएपी आपूर्ति में सुधार के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. गहलोत ने सोमवार को राज्य में उर्वरकों की उपलब्धता की समीक्षा करते हुए कहा कि पिछले दिनों उनकी ओर से पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ध्यान प्रदेश में डीएपी की पर्याप्त आपूर्ति एवं किसानों को हो रही कठिनाईयों की ओर दिलाया गया. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय उर्वरक मंत्री से भी फोन पर बात कर उनसे डीएपी आपूर्ति बढाने की मांग की गई है.

उन्होंने कहा कि पूरे देश में डीएपी उर्वरक की कमी है और इसकी आपूर्ति सिर्फ भारत सरकार द्वारा की जाती है और ऐसे में राज्य सरकार की ओर से केन्द्रीय उर्वरक मंत्रालय से लगातार संपर्क कर अक्टूबर माह में एक लाख दस हजार मिट्रिक टन डीएपी राजस्थान को उपलब्ध कराए जाने का आग्रह किया है.

राजस्थान को डीएपी की आपूर्ति बढाने का आग्रह किया गया:
उन्होंने कहा कि अक्टूबर महीने में प्रदेश की 1.50 लाख मैट्रिक टन की मांग के विरूद्ध केन्द्र सरकार द्वारा 68 हजार मिट्रिक टन डीएपी स्वीकृत किया गया है और उसमें से भी अभी तक 60 हजार मिट्रिक टन डीएपी प्राप्त हुआ है. इससे डीएपी आपूर्ति में कमी हुई है. प्रमुख शासन सचिव कृषि दिनेश कुमार ने बताया कि केन्द्रीय उर्वरक सचिव एवं अन्य अधिकारियों से मुलाकात कर राजस्थान को डीएपी की आपूर्ति बढाने का आग्रह किया गया है.

और पढ़ें