इंग्लैंड के पूर्व कप्तान का बयान, न्यूजीलैंड की टीम अभी सभी प्रारूपों में सबसे मजबूत क्रिकेट टीम

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान का बयान, न्यूजीलैंड की टीम अभी सभी प्रारूपों में सबसे मजबूत क्रिकेट टीम

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान का बयान, न्यूजीलैंड की टीम अभी सभी प्रारूपों में सबसे मजबूत क्रिकेट टीम

अबुधाबी: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइक आथर्टन का मानना है कि फिलहाल खेल के तीनों प्रारूपों में न्यूजीलैंड की क्रिकेट टीम सबसे मजबूत है. आथर्टन ने न्यूजीलैंड के पहली बार टी20 विश्व कप फाइनल में जगह बनाने के बाद यह बात कही.

न्यूजीलैंड ने बुधवार को पहले सेमीफाइनल में प्रबल दावेदार इंग्लैंड को पांच विकेट से हराया. न्यूजीलैंड की टीम ने तीन साल में तीसरी बार आईसीसी की वैश्विक प्रतियोगिता के फाइनल में जगह बनाई है. पिछले कुछ वर्षों में न्यूजीलैंड ने तीनों प्रारूपों में अपनी ताकत दिखाई है. टीम 2019 में 50 ओवर के विश्व कप के फाइनल में पहुंची जहां उसे बाउंड्री गिनने के विवादास्पद नियम के आधार पर मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ हार झेलनी पड़ी. टीम ने इसके बाद भारत को हराकर पहला विश्व टेस्ट चैंपियनशिप खिताब जीता.

आथर्टन ने ‘स्काई स्पोर्ट्स’ से कहा कि उनकी टीम खेल के सभी प्रारूपों में शानदार है. उन्होंने कहा कि उन्होंने एक और विश्व कप के फाइनल में जगह बनाई, वह 2019 में पिछला विश्व कप जीतने के भी बेहद करीब थे, वे विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के विजेता हैं. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने कहा कि आपको कहना होगा कि सभी प्रारूपों में अभी वे सबसे मजबूत टीम हैं इसलिए उन्हें बधाई, खिलाड़ियों और पैसे को लेकर सीमित संसाधन के बावजूद शानदार उपलब्धि.

न्यूजीलैंड ने तीन ओवर के अंदर गुप्टिल और विलियमसन के विकेट गंवा दिए थे:
इंग्लैंड के 167 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए न्यूजीलैंड ने तीन ओवर के अंदर सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल और कप्तान केन विलियमसन के विकेट गंवा दिए थे जिन्हें क्रिस वोक्स ने पवेलियन भेजा. सलामी बल्लेबाज डेरिल मिशेल (42 गेंद में नाबाद 72), डेवोन कॉनवे (38 गेंद में 46) और जिमी नीशाम (11 गेंद में 27) ने हालांकि न्यूजीलैंड को लक्ष्य तक पहुंचा दिया.

इस प्रतियोगिता में मैं पाकिस्तान के साथ जाऊंगा:
आथर्टन ने कहा कि आज रात चीजें इतनी तेजी से बदली. दूसरी पारी में लंबे समय तक मुझे लगा कि इंग्लैंड मैच में आगे था. दूसरे सेमीफाइनल में गुरुवार को पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया आमने सामने होंगे और आथर्टन को लगता है कि पूर्व चैंपियन टीम का पलड़ा आरोन फिंच की टीम पर भारी होगा. उन्होंने कहा कि मैं पाकिस्तान के साथ जाऊंगा, मुझे लगता है कि इस प्रतियोगिता में उनका गेंदबाजी आक्रमण सर्वश्रेष्ठ और सबसे अधिक विविधता वाला है. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें