उत्तर भारत में बर्फबारी ने जयपुर में 24 घंटों में 7 डिग्री से ज्यादा पारा

Tanveer Ahmed Published Date 2018/11/05 10:37

जयपुर। उत्तर भारत में कई पहाड़ी स्थानों पर हुई बर्फबारी और कई जगह हुई बरसात ने राजस्थान का मौसम पलट दिया है। उत्तर-पश्चिमी हवाओं ने उत्तरी भारत के समतलीय इलाकों में शामिल राजस्थान, पंजाब, हरियाणा व दिल्ली को 24 घंटों में ही अपने शिकंजे में कस लिया है। तापमान में ऐसी गिरावट हुई कि जयपुर में 24 घंटों में ही रात का पारा 7 डिग्री से ज्यादा लुढ़क गया है, जबकि राजस्थान में सबसे ठंडा रहने वाला चूरू इस बदलाव के कारण शिमला से भी ठंडा हो गया है।

हिमाचल प्रदेश के सबसे मशहूर पर्यटक स्थल शिमला की ठंड की मिसालें दी जाती हैं। बीती रात यहां न्यूनतम तापमान 6.8 डिग्री दर्ज किया गया। जबकि राजस्थान के चूरू में यह तापमान 6.1 डिग्री तक गिर गया। यहां इससे पहले रात का तापमान 10.8 डिग्री था, लेकिन उत्तरी हवाओं ने ऐसे हालात पैदा किए कि सीधे ही 4.7 डिग्री की गिरावट हुई। यहां सोमवार को दिन का तापमान भी 0.6 डिग्री गिर गया।

राजधानी जयपुर की बात करें तो यहां सर्दी ने अचानक पैर पसार लिए हैं। शनिवार रात यहां न्यूनतम तापमान 20.5 डिग्री था। 24 घंटों में ही इसमें 7.6 डिग्री की गिरावट आई और न्यूनतम तापमान 12.9 डिग्री तक गिर गया। इसी के साथ पूरे शहर में धूजणी छूट गई है। सुबह 8 बजे तक शहर की सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ था, कुछ लोग निकले तो पूरे लबादों के साथ। हाल यह था कि धूप खिलने के बावजूद सर्द हवाएं नश्तर की तरह चुभती रहीं।

कहां कितना गिरा पारा :
जयपुर : न्यूनतम तापमान-12.9 गिरावट- 7.6
अजमेर : न्यूनतम तापमान-15.4 गिरावट- 4.5
पिलानी : न्यूनतम तापमान-10.3 गिरावट- 4.2
कोटा : न्यूनतम तापमान-16.5 गिरावट- 3.0
जोधपुर : न्यूनतम तापमान-14.1 गिरावट- 4.8
चूरू : न्यूनतम तापमान- 6.1 गिरावट- 4.7
बीकानेर : न्यूनतम तापमान-13.6 गिरावट- 3.2

उत्तर से आ रही बर्फीली हवाओं का असर अगले चार-पांच दिन रहेगा और इससे तापमान में लगातार गिरावट जारी रहेगी। हालांकि आसमान साफ रहने से धूप खिलेगी, जिससे दिन के तापमान में ज्यादा गिरावट नहीं होगी। नवंबर के आखिरी दिनों में फिर से तापमान में गिरावट होने लगेगी, उसके बाद दिसंबर पहले हफ्ते में तेज सर्दी पड़ने की संभावना है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in